छात्रा को पंखे से लटकाने का मामला : आक्रोशित विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता पहुंचे स्कूल

Firozabad Updated Thu, 06 Dec 2012 05:30 AM IST
फीरोजाबाद। नई बस्ती के एक स्कूल में होमवर्क न करने पर छात्रा को पंखे से लटकाने के मामले ने कई सवाल खडे़ किए हैं। बच्चों को लेकर शिक्षक आखिर इतने क्रूर क्यों हो रहे हैं जबकि शिक्षा का अधिकार के तहत शासन का आदेश है स्कूल में बच्चों के साथ मारपीट और ऐसी कोई दंडात्मक कार्रवाई न की जाए जिससे बच्चे भयभीत हों। उधर दंड के नाम पर छात्रा के साथ किया अमानवीय व्यवहार को लेकर छात्रसंगठन के कार्यकर्ता भी स्कूल पहुंचे। मामला तूल पकड़ता उससे पहले ही स्कूल की छुट्टी कर दी गई। पुलिस ने स्कूल संचालक और उसके पुत्र के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। उधर घटनाक्रम के बाद छात्रा सहमी हुई है। वह आज विद्यालय भी नहीं गई।
थाना दक्षिण क्षेत्र के मोहल्ला कोटला निवासी दीपू यादव पुत्र दलवीर सिंह यादव की पुत्री लकी यादव (5) मोहल्ला नई बस्ती स्थित मदर इंडिया मांटेसरी स्कूल में केजी की छात्रा है। छात्रा लकी यादव ने बताया कि छोटू सर ने उसे मीनिंग लिखने तथा याद करने को दिए थे। मंगलवार सुबह वह स्कूल पहुंची तो सर (छोटू) ने काम पूरा न होने पर उसे डंडे से पीटा। हाथ बांध कर उसे पंखे पर लटका दिया और कुछ देर बाद उतार दिया था। इस मामले में छात्रा के पिता ने मंगलवार को ही थाने में तहरीर दे दी थी। बुधवार को सुबह इस मामले को लेकर विद्यार्थी परिषद के कुछ कार्यकर्ता स्कूल पहुंचे लेकिन छात्र कोई हंगामा करते तब तक स्कूल की छुट्टी कर दी गई। पुलिस ने छात्रा के बाबा दलवीर सिंह यादव की तहरीर पर छात्रा का डाक्टरी परीक्षण कराने के बाद स्कूल प्रधानाचार्य कैलाश चंद्र तोमर व उसके पुत्र छोटू तोमर (शिक्षक) के खिलाफ मारपीट का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

आरोपों को बताया निराधार
प्रधानाचार्य कैलाश चंद्र तोमर का कहना है कि उसके पुत्र ने छात्रा के साथ मारपीट नहीं की है। छात्रा होमवर्क करके नहीं लाई थी, पुत्र डंडे से छात्रा को डरा रहा था, तभी धोखे से उसके सिर में डंडा हाथ से छूट जाने के कारण लगा है। पंखे पर छात्रा को लटकाने का जो आरोप लगाया जा रहा है वह पूरी तरह से निराधार है।

क्या कहते है मनोवैज्ञानिक
फीरोजाबाद (ब्यूरो)। मनोविज्ञान के प्रोफेसर डा. प्रभाष्कर राय ने बताया कि ऐसी घटना मानवीय दृष्टिकोण से काफी गंभीर है। इससे बच्चों का मानसिक संतुलन तक बिगड़ सकता है। बच्चों के साथ इस तरह का व्यवहार गैर कानूनी भी है।

होनी चाहिए कठोर कार्रवाई
फीरोजाबाद (ब्यूरो)। एसआर के डिग्री कालेज के प्राचार्य डा. विपिन अग्रवाल का इस बारे में कहना है कि इस तरह की घटना उत्पीड़न है। यह घटना केवल आक्रोश निकालने के तहत की गई है। शिक्षक एवं स्कूल पर कठोर कार्रवाई होनी चाहिए।

क्या कहते हैं बीएसए
फीरोजाबाद (ब्यूरो)। बेसिक शिक्षाधिकारी डा. जितेंद्र सिंह यादव का कहना है कि घटना बड़ी है। स्कूल के प्रिसिंपल को नोटिस दिया जाएगा, जबकि शिक्षक को तत्काल प्रभाव से स्कूल से हटाए जाने की कार्रवाई करेंगे। शिक्षा का अधिकार एनसीआर 2005 के तहत किसी भी बच्चे को प्रताड़ित करने का अधिकार नहीं है।

Spotlight

Most Read

Gorakhpur

मानबेला : अफसरों के जाते ही किसानों ने उखाड़ फेंका कब्जे का खूंटा

जीडीए ने पैमाइश के बाद खूंटा गाड़कर राप्ती नगर विस्तार आवासीय योजना के आवंटियों को दिया था कब्जा

19 जनवरी 2018

Related Videos

सलमान खान को दी थी जान से मारने की धमकी अब है सलाखों के पीछे

फिरोजाबाद में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई। जिसमें पंजाब और हरियाणा का शार्प शूटर रवींद्र उर्फ काली राजपूत को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। काफी दिन से पुलिस इनकी तलाश कर रही थी। इसके तार इंटरनेशनल लारेंस विश्नोई गैंग से भी जुड़े हैं।

19 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper