मुुंसिफी वापस लाने को निकाला जुलूस

Firozabad Updated Sat, 10 Nov 2012 12:00 PM IST
शिकोहाबाद। मुंसिफी वापस लाओ संघर्ष समिति के आह्वान पर जन आंदोलन की शुरूआत हवन से की गई। जनसभा के बाद बाजारों से जुलूस निकाला गया। जुलूस में बड़ी संख्या में व्यापारियों, राजनीतिक दलों के नेताओं के साथ ही नगर के विभिन्न कालेजों के छात्रों ने भाग लिया।
संघर्ष समिति के आह्वान पर शुक्रवार से मुंसिफी शिकोहाबाद वापस लाओ जन आंदोलन का शुभारंभ मुंसिफी परिसर में सुबह 8 बजे हवन के साथ किया गया। जनसभा में वक्ताओं ने कहा कि मुंसिफी का भवन जर्जर बता साजिश के तहत मुंसिफी न्यायालयों को जिला मुख्यालय पर 2003 में स्थानांतरित कर दिया गया। जो लोगों के साथ बहुत बड़ा अन्याय है। मुंसिफी के यहां से जाने से वादकारियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। हाईकोर्ट के सर्वेदल व लोक निर्माण विभाग ने भी यहां के भवन को सही बताया है। वर्तमान में इस भवन में तहसील कार्यालय चल रहा है और एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार इसी भवन में बैठते हैं। वह मुंसिफी को वापस लाने के लिए कटिबद्ध हैं। आंदोलन को भी तैयार हैं। विधायक ओमप्रकाश वर्मा ने कहा कि मुंसिफी को वापस लाने के लिए वह पूरी तरह संघर्ष समिति के साथ हैं। प्रमुख वक्ताओं में अधिवक्ता कमल सिंह यादव, सुनील यादव, ब्रजेश यादव, अशोक यादव, प्रवीन यादव, ग्रीश यादव भाजपा के जिलाध्यक्ष अरविंद पचौरी, व्यापार मंडल मिश्रा गुट अध्यक्ष योगेश गुप्ता, व्यापार मंडल कंछल गुट के रमाशंकर गुप्ता, कांग्रेस नेता शिवनंदन मिश्रा, गोपाल सिंह आर्य, हरीशंकर यादव, राज पचौरी थे। संचालन वेदप्रकाश यादव ने किया। जनसभा के बाद एक विशाल जुलूस नगर के दोनों बाजारों से नारे लगाता हुआ निकला। जुलूस में शामिल अधिवक्ता व छात्र हाथों में नारे लिखी पट्टिकायें व बैनर लेकर चल रहे थे। जुलूस दोनों बाजारों से होता हुआ पुन: मुंसिफी परिसर पहुंचकर संपन्न हुआ।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

सलमान खान को दी थी जान से मारने की धमकी अब है सलाखों के पीछे

फिरोजाबाद में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई। जिसमें पंजाब और हरियाणा का शार्प शूटर रवींद्र उर्फ काली राजपूत को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। काफी दिन से पुलिस इनकी तलाश कर रही थी। इसके तार इंटरनेशनल लारेंस विश्नोई गैंग से भी जुड़े हैं।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls