जिला अस्पताल से लौट रहे डेंगू के मरीज

Firozabad Updated Tue, 23 Oct 2012 12:00 PM IST
फीरोजाबाद। बदलते मौसम और मच्छरों के प्रकोप ने डेंगू को दस्तक दे दी है। प्राइवेट अस्पतालों, क्लीनिकों में मरीजों का आंकड़ा दर्ज होने लगा है लेकिन सरकारी अस्पताल में मरीज बैरंग लौट रहे हैं। वहां न तो डेंगू जांच किट मौजूद है न ही कोई अन्य व्यवस्था है।
स्वास्थ्य विभाग के पास डेंगू के मामले शून्य रहते हैं क्योंकि वहां बीमारी के मरीजों के इलाज की कोई व्यवस्था ही नहीं है। मरीजों को प्राइवेट चिकित्सकों की दौड़ लगानी पड़ रही है। सरोजनी नायडू जिला अस्पताल के सीएमएस डा. वीएस यादव ने बताया कि अस्पताल में मलेरिया की किट तो मौजूद है, लेकिन डेंगू की किट ही नहीं आयी है। इसलिए प्राइवेट चिकित्सकों का सहारा लेना पड़ रहा है।


क्या कहते हैं चिकित्सक
फीरोजाबाद (ब्यूरो)। बाल रोग विशेषज्ञ डा. अविनाश पालीवाल ने बताया कि डेंगू का डंक तीन प्रकार का होता है। डेंगू फीवर, डेंगू हेमरेजिक, डेंगू सांक सिन्ड्रम है। बुखार के साथ शरीर की प्लेटलेट्स तेजी से गिरने लगती है इससे डेंगू के लक्षणों का पता चलता है। बारिश के बाद घर, छत, कूलर में जमे पानी से मादा एडीज का जन्म होता है जो डेंगू के जनक होते हैं।

बचाव: घरों में पानी को न रुकने दे। कूलर, छत व गमलों से पुराने पानी को निकाल कर सफाई करें। आसपास नालियों में मिट्टी के तेल का छिड़काव कर दें।

प्राइवेट पैथोलोजी में आ रहे मामले
फीरोजाबाद (ब्यूरो)। निजी पैथोलीजी में पिछले चार दिनों में ही दो लोगों को डेंगू एलाइजा के पाजिटिव मामले सामने आये है। पैथोलोजी संचालक का कहना है कि कुछ दिनों में वह इसकी रिपोर्ट सीएमओ को सौंपेंगे।

प्राइवेट में डेंगू परीक्षण का खर्च
फीरोजाबाद (ब्यूरो)। डेंगू का परीक्षण प्राइवेट लैब में 550 से 700 रुपये में होता है। इसमें एनएसआई, आईजीजी, आईजीएम तीनों जांचे होती हैं।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

सलमान खान को दी थी जान से मारने की धमकी अब है सलाखों के पीछे

फिरोजाबाद में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई। जिसमें पंजाब और हरियाणा का शार्प शूटर रवींद्र उर्फ काली राजपूत को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। काफी दिन से पुलिस इनकी तलाश कर रही थी। इसके तार इंटरनेशनल लारेंस विश्नोई गैंग से भी जुड़े हैं।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls