सेमिनार तक सीमित रह गया विकास

Firozabad Updated Thu, 04 Oct 2012 12:00 PM IST
फीरोजाबाद। राजीव गांधी आवास योजना के तहत कांच नगरी की 84 मलिन बस्तियों का कायाकल्प किया जाना था। इन बस्तियों का सर्वे करने को हैदराबाद से टीम भी आनी थी, लेकिन दो माह के बाद भी न तो यहां कोई टीम आई और न ही कायाकल्प हो सका। गंदगी से अटी गलियां, झूलते बिजली के तार और पानी के लिए भटकते लोग आज भी यहां दिखाई देते हैं।
केंद्रीय आवास एवं शहरी गरीबी उपशमन सचिव अरुण कुमार मिश्र के निर्देशन में राजधानी लखनऊ में दो दिवसीय सेमिनार आयोजित हुई थी। इसमें प्रदेश के 21 जिलों की मलिन बस्तियों में सुधार किए जाने पर मंथन किया था। बिजली, पानी, सड़क के साथ ही झुग्गी झोपड़ी में रहने वालों को आवास मुहैया कराए जाने का प्रावधान रखा गया था। सेमिनार में तत्कालीन पीओ डूडा विजय कुमार एवं इंदुबाला ने शिरकत की थी। इस सेमिनार के बाद मलिन बस्ती के वाशिंदों को यह उम्मीद जगी थी कि अब उनके यहां समस्याएं नहीं रहेंगी। सुहागनगरी की 84 मलिन बस्तियां आज भी बेहाल दिखाई दे रही हैं। पहले यह संख्या 52 थी परंतु 13 ग्राम पंचायतों के शामिल होने के बाद अब 32 मलिन बस्तियां और बढ़ गई। इन बस्तियों में सुधार होना तो दूर बल्कि विकास कार्य तक नहीं कराए गए।

सर्वे करने नहीं आई टीम
फीरोजाबाद (ब्यूरो)। सुहागनगरी की मलिन बस्तियों का सर्वे करने के लिए उस्मानियां यूनीवर्सिटी हैदराबाद की टीम को आना था। दो माह से अधिक समय बीत गया लेकिन यहां की मलिन बस्तियों का सर्वे करने कोई टीम नहीं आई। इसे खुद क्षेत्र के बाशिंदे बता रहे हैं।

श्यामनगर गड्ढा में उफनी नालियां
मलिन बस्ती श्यामनगर गड्ढा में हाल बेहाल है। सफाई नहीं होती। गंदगी से बजबजाती नालियां उफन गईं। सड़कों पर भरा गंदा पानी यहां के हालात बयां कर रहा है। कोई सुनवाई नहीं होती। कहीं दबंग गंदगी खाली प्लाटों में डाल रहे हैं तो किसी ने पानी रोक रखा है। पालिका के अफसर सुधार की ओर ध्यान नहीं देते।

संतनगर के हालात खराब
मलिन बस्ती संतनगर में नालियां गंदगी से अटी हैं गंदे पानी की आपूर्ति के कारण संक्रामक रोग फैल चुका है। इसके बाद भी साफ सफाई की ओर ध्यान नहीं दिया जाता। पानी में क्लोरीन की मात्रा नहीं मिली इसे स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जांच भी कराई।

आजाद नगर में पानी का संकट
मलिन बस्ती आजाद नगर में पानी का संकट है। नलकूप से पानी की आपूर्ति न मिलने के कारण आजाद नगर के बाशिंदे सांसद निधि से लगे सबमर्सिबल पंप से पानी भरने को मजबूर हैं। ठीक कराने के लिए खुद ही चंदा एकत्रित करना पड़ता है। सफाई व्यवस्था की हालत बदतर है।

न सफाई होती पानी भी एक ही बार मिलता है। मच्छरों का प्रकोप इतना है सही ढंग से सो भी नहीं पाते। दवा का छिड़काव नहीं किया गया। खाली प्लाट में कू़ड़ा डालने के कारण काफी दिक्कत होती है।
नारायन देवी श्यामनगर गड्ढा

सफाई कर्मी तो आते ही नहीं। कई बार शिकायत की। पानी का संकट कायम है। किससे करें फरियाद। यहां कोई विकास होगा अथवा सर्वे की कोई टीम ही नहीं आई है।
सुमित चक श्यामनगर गड्ढा

नालियां महीनों से साफ नहीं होतीं, खुद सफाई करनी पड़ती है। पानी की समस्या है। बिजली तो मिलती बहुत कम है।
देवेंद्र कुमार वर्मा संत नगर

मच्छरों का प्रकोप इतना है कि रात्रि को चैन की नींद नहीं सो पाते। गंदगी का आलम रहता है। पानी का भी संकट कायम है।
सोनी देवी संत नगर

Spotlight

Related Videos

सलमान खान को दी थी जान से मारने की धमकी अब है सलाखों के पीछे

फिरोजाबाद में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई। जिसमें पंजाब और हरियाणा का शार्प शूटर रवींद्र उर्फ काली राजपूत को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। काफी दिन से पुलिस इनकी तलाश कर रही थी। इसके तार इंटरनेशनल लारेंस विश्नोई गैंग से भी जुड़े हैं।

19 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper