विज्ञापन
विज्ञापन

खतरे के निशान से नीचे ,यमुना का जलस्तर

Kanpur	 Bureauकानपुर ब्यूरो Updated Sun, 22 Sep 2019 12:39 AM IST
ख़बर सुनें
फतेहपुर। यमुना के बाढ़ का पानी खतरे के निशान के करीब पहुंचकर लौटना शुरू हो गया है। चौबीस घंटे में 220 सेमी यमुना का जलस्तर घटना से लोगों ने राहत की सांस ली है। हालांकि अभी तक कानपुर बांदा हाईवे समेत जिले के अंदर की सड़कों में जलभराव है। जिला मुख्यालय से इनका संपर्क कटा हुआ है। यहां आने जाने के लिए नावों की मदद ली जा रही है। जलस्तर घटना शुरू होने से अभी तटवर्ती क्षेत्र के लोगों में दहशत है। ललौली और किशनपुर कस्बों में अभी तक बड़ी तादाद में दुकानों और घरों में पानी घुसा हुआ है। प्रशासनिक और राजस्व विभाग के अधिकारी बराबर भ्रमण कर रहे हैं। क्षेत्रीय पुलिस टीमें भी लगी हैं। कटरी क्षेत्र के तीन दर्जन गांवों के स्कूलों का रास्ते बंद होने के कारण स्कूलों में ताले बंद हैं। शनिवार को बांदा की तरफ से आई बाढ़ के पानी में फंसी इनोवा कार सवारों को मशक्कत से साथ ललौली पुलिस ने बचाने में सफलता हासिल की। ललौली कस्बे में बांदा-सागर हाईवे पर यमुना नदी के बाढ़ का कई फीट की ऊंचाई से बहने के कारण अभी तक हाईवे से आवागमन बंद है। जलस्तर शुक्रवार की रात से घटने लगा है। ललौली कस्बे व पलटूपुर गांव के लोगों ने घरों को लौटना शुरू कर दिया है।
विज्ञापन
यमुना के रौद्र रूप के कारण तराई क्षेत्र में हजारों हेक्टेयर में बोई गई तिल, अरहर, बाजरा के फसल बर्बाद हो गई है। उधर, तहसीलदार सदर विदुषी सिंह ने पलटूपुर, ललौली, उरौली, दसौली, अढ़ावल गांवों में जाकर बाढ़ पीड़ितों का हाल जाना। पूर्वमंत्री अमरजीत सिंह जनसेवक ने ललौली के बाढ़ क्षेत्र में पहुंचकर वहां का हाल जाना। राजस्व निरीक्षक रघुवीर सिंह, लेखपाल अनिल कुमार, लेखपाल रामभवन, लेखपाल मनोज रिपोर्ट तैयार करने में लगे रहे। बाढ़ पीड़ितों को तहसीलदार लंच पैकेट भी वितरित कराया।
.........................
जलस्तर पर एक नजर:-
शुक्रवार को जल स्तर-102.480 मीटर
शनिवार को जल स्तर-102.220 मीटर
घटा जल स्तर-220 सेमी
खतरे का निशान-103 मीटर
.................................
चालक की लापरवाही से डूबते बचे इनोवा सवार
बहुआ। मध्यप्रदेश के सतना निवासी चालक दीनदयाल के साथ इनोवा सवार सतना निवासी मोहम्मद यूनुस कुरैशी अपनी बुजुर्ग मां और दो बेटियों को लेकर कानपुर इलाज के लिए जा रहे थे। चिल्ला पुल से चालक कार लेकर ललौली के लिए घुस आया। पुल पार करते ही कार गहरे पानी में डूबने लगी। दूर खड़े लोगों ने कार पानी में डूबती देख पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंचे ललौली थानाध्यक्ष केशव वर्मा ने 100 नंबर डायल को बुलाने के साथ चिल्ला बांदा पुलिस को सूचना दी। ललौली एसओ सिपाहियों रूप सिंह, अंकित यादव, राजकुमार पटेल पानी मे तैरते हुए मौके में पहुंचे और कार में फंसे लोगों की जान बचाई। बाद में इनोवा भी सकुशल निकाल ली गई। सूचना पर चिल्ला थानाध्यक्ष विनोद कुमार सिंह, सीओ बांदा राघवेंद्र सिंह मौके पर पहुंच इनोवा सवारो को बचाने में ललौली पुलिस की मदद की।
.................................
बाढ़ पीड़ितों के मुआवजे के लिए सर्वे शुरू
फतेहपुर। बाढ़ से प्रभावित और विस्थापित होने वाले लोगों को राहत पहुंचाने और उनके लिए मुआवजे सुनिश्चित कराने के लिए जिला प्रशासन ने काम शुरू कर दिया है। मंडलायुक्त प्रयागराज आशीष गोयल और राहत आयुक्त गौरीशंकर प्रियदर्शी प्रतिदिन जनपद में बाढ़ की स्थितियों और उससे प्रभावित होने वाले लोगों को राहत देने के प्रयासों की समीक्षा कर रहे हैं। जिलाधिकारी संजीव सिंह ने बाढ़ प्रभावितों को राष्ट्रीय आपदा राहत कोष से त्वरित मुआवजा दिए जाने के आदेश दिए हैं। अपर जिलाधिकारी पप्पू गुप्ता ने तीनों तहसीलो में लेखपालों को बाढ़ प्रभावित लोगों और उनके नुकसान का आंकलन करने के निर्देश दिए हैं। एडीएम ने बताया कि लेखपालों को सर्वे के लिए लगाया गया है। रिपोर्ट आने के चौबीस घंटे के अंदर सभी बाढ़ पीड़ितों को मुआवजा दिया जाना सुनिश्चित किया जाएगा।
.............................
बाढ़ से प्रभावित हुए काफी लोग
बाढ़ से अब तक 11 गांवों के 173 परिवारों को अपना घर छोड़कर बाहर आना पड़ा है। इसमें से 151 परिवार ललौली के, 6 परिवार खागा के और 16 परिवार बिंदकी क्षेत्र के हैं। बाढ़ से कुल अब तक कुल 58 मकान प्रभावित होने की सूचना है। जिसमें से 23 मकान सदर, 19 खागा और 16 बिंदकी तहसील क्षेत्र के हैं।
.................................
एसडीआरएफ के मानक पर इस तरह मिलेगा मुआवजा
- असिंचित फसलों के डूबने पर- 6800 रुपये प्रति हेक्टेयर
- सिंचित फसलों के डूबने पर- 13,500 रुपये प्रति हेक्टेयर
- पक्का मकान क्षतिग्रस्त होने पर- 5200 रुपये
- कच्चा मकान क्षतिग्रस्त होने पर- 3200 रुपयेे
- झोपड़ी क्षतिग्रस्त अथवा गिरने पर- 4100 रूपये
- पक्का मकान पूरी तरह से गिरने पर- 95,100 रुपये
- पशु हानी में भेड़, बकरी और सुअर के लिए - 3000 रुपये
- गाय, भैंस, घोडा सहित बड़े जानवरों के लिए- 30,000 रुपये
............................
कलक्ट्रेट में बनाया गया कंट्रोल रूम
फतेहपुर। बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोगों की मदद के लिए डीएम ने कलक्ट्रेेट के संयुक्त कार्यालय में एक कंट्रोल रूम बनाया है। जिसका नंबर 05180-224414 है। बाढ़ प्रभावित इलाकों से किसी भी प्रकार की मदद के लिए इस नंबर पर कोई भी-कभी भी फोन कर सकता है। हर फोन कॉल पर प्रतिक्रिया देने के लिए 8-8 घंटे की तीन शिफ्ट में कलक्ट्रेट कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है।
फतेहपुर। यमुना कटरी क्षेत्र के तीन दर्जन परिषदीय स्कूलों में तीन दिन से ताला बंद हैं। कुछ में तो पानी घुस गया है, तो कुछ स्कूलों के पहुंच मार्ग बंद हो गए हैं। यह स्कूल अढ़ौली, दसौली, ललौली, कोर्राकनक, सरवल, सेवरामऊ, रमशोलेपुर, कंसापुर, कौंहन, जरौली, सैंबसी, लक्ष्मनपुर, सरकंडी खास, रायपुर भसरौली, मंडौली, गुरवल, एकड़ला, कोट के झुर्रा का पुरवा आदि गांवों में हैं। इन गांवों को खरीफ की हजारों हेक्टेयर फसलें डूब गईं।
किशनपुर में अभी तक नहीं है राहत
किशनपुर। कस्बे में अभी तक बाढ थमने के बाद कोई खास राहत नहीं मिली है। करीब चार दर्जन घरों में पानी घुसा हुआ है। दूर से कई घरों की दीवारें ढही दिखाई पड़ रही हैं। बांदा जिले को जाने वाले कमासिन मार्ग पर कस्बे में बना पुल बैठ गया है। इससे आवागमन पूरी तरह रोक दिया गया है।
विज्ञापन

Recommended

छात्रोंं के करियर को नई ऊंचाइयां देता ये खास प्रोग्राम
Invertis university

छात्रोंं के करियर को नई ऊंचाइयां देता ये खास प्रोग्राम

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Fatehpur

ग्राहक के खाते से बैंककर्मी ने उड़ा लिए 1.30 लाख रुपये

ग्राहक के खाते से बैंककर्मी ने उड़ा लिए 1.30 लाख रुपये

17 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

अयोध्या मामले में सुनवाई की गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में समीक्षा, मध्यस्थता पैनल ने सौंपी रिपोर्ट

अयोध्या मामले में जहां उम्मीद की जा रही है कि 17 नवंबर से पहले कभी भी सुप्रीम कोर्ट अपना फैसला दे सकती है तो वहीं गुरुवार को अदालत में अब तक की सुनवाई की समीक्षा का दिन है।

17 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree