मरीज बेहाल और तीमारदार परेशान

Fatehpur Updated Thu, 06 Sep 2012 12:00 PM IST
फतेहपुर। डॉक्टरों की कमी से जूझ रहे सदर अस्पताल में मरीजों की चिकित्सा व्यवस्था भगवान भरोसे है। लंबी लाइन में लगकर एक रुपए का पर्चा बनवाने के बाद डॉक्टर के पास तक पहुंचने के लिए कितनी मशक्कत करनी पड़ती है, इसकी पीड़ा रोगी ही महसूस करता है। तमाम कोशिश के बाद डॉक्टर को दिखा लिया तो इसके बाद दवा खिड़की पर दवा हासिल करने के लिए जतन करना पड़ता है। यहां आने वाले रोगियों की माने तो दवा खिड़की पर दवा लेने के बाद उसे कैसे सेवन करना है, इस बारे में जानकारी देने के लिए जानकार व्यक्ति नहीं है। दवा बांटने वाला टका-सा जवाब देता है कि ‘डॉक्टर से पूछो।’ वहीं, वार्ड में भर्ती मरीज भी सहूलियत न मिलने का रोना रोते हैं। हाल यह है कि सदर अस्पताल में आने वाले मरीज बेहाल और तीमारदार परेशान-सा नजर आता है। हालांकि अस्पताल में आने वाले रोगी यह जरूर बताते हैं कि परिसर में टहल रहे दलाल की शरण में जाने पर सारा काम आसानी से हो जाता है। इस समय मौसम का मिजाज बदलने से संक्रामक बीमारियों ने पांव पसार रखा है, शहर से लेकर देहात तक तमाम इलाकों में संक्रामक रोगियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। सदर अस्पताल में भी रोजाना भारी भीड़ उमड़ रही है। ऐसे में मरीजों व तीमारदारों को खासी दिक्कत झेलनी पड़ रही है।

दोपहर 12:10 बजे
सदर अस्पताल में पर्चा बनवाने के लिए मरीजों की लंबी लाइन लगी है। मरीजों की ज्यादा संख्या होने के बावजूद काउंटर पर बैठा कर्मचारी अपने अन्य कर्मचारी साथियों के साथ गपशप में मशगूल दिखा। डॉक्टर के बैठने का समय निर्धारित है, ऐसे में समय पर पर्चा न बनने से रोगी को डॉक्टर को बिना दिखाए लौटना पड़ सकता है। लेकिन इससे किसी को कोई सरोकार नहीं है। इस बीच लाइन में लगे कुछ मरीज हल्ला भी मचाते हैं, लेकिन नतीजा सिफर ही दिखा।

दोपहर 12:15 बजे
इमरजेंसी के पास डॉक्टर को दिखाने के बाद दवा खिड़की पर मरीज और उनके तीमारदार परेशान दिखे। पूछने पर पता चला कि दवा बांटने वाला अंट्रे़ंड कर्मचारी है। किस मरीज को कौन सी दवा कैसे खानी है, इस बारे में जानकारी देेने वाला कोई नहीं दिखा। कुछ मरीज तो यह कहते भी सुने गए कि पर्चे में लिखी सारी दवाएं नहीं दी गई हैं। मरीजों के साथ आए तीमारदारों की माने तो सदर अस्पताल में आने पर हर बार इसी तरह की समस्या झेलनी पड़ती है।

दोपहर 12:20 बजे
सदर अस्पताल की दूसरी मंजिल पर स्थित आपरेशन थियेटर पर ताला झूलता दिखा। जानकारी करने पर मालूम हुआ कि अस्पताल में इस समय कोई सर्जन नहीं है। आउटडोर में तैनात सर्जन के पास कब समय होगा और वे कब आपरेशन लायक मरीजों का आपरेशन करेंगे। इन सवालों का सटीक जवाब देने वाला कोई नहीं है। गंभीर रोगी इस व्यवस्था से काफी क्षुब्ध दिखे। हालांकि अस्पताल प्रशासन यह दावा जरूर करता है कि जरूरी आपरेशन होते रहते हैं।

दोपहर 12:25 बजे
ओपीडी में डॉक्टरों के पास उन मरीजों के पर्चे की मोटी गड्डी पहले ही पहुंच जाती है, जो सुबह सबसे पहले आकर लाइन में लगकर पर्चा बनवाते हैं। डॉक्टरों की कमी की वजह से दोपहर में आने वाले मरीजों को गर्मी में खासी परेशानी होती है। समय ज्यादा हो जाने पर तमाम रोगी डॉक्टर को दिखाए बिना ही बैरंग लौट जाते हैं। आज भी कुछ इस तरह के रोगी दिखे जो व्यवस्था से क्षुब्ध होकर लौट रहे थे। ऐसे में दूर ग्रामीण इलाकों से आने वाले रोगियों को ज्यादा परेशानी होती है।

दोपहर 12:30 बजे
सदर अस्पताल का वार्ड मरीजों से फुल है। आने वाले नए मरीज कहां भर्ती होंगे, यह जानकारी देने के लिए वहां कोई मौजूद नहीं दिखा। वार्ड में भर्ती मरीजों को दवाओं के साथ उन्हें लगी ग्लूकोज की बोतलों को भी देखने के लिए स्टाफ नर्स या अन्य कर्मचारी की अभाव दिखा। वार्डों में साफ-सफाई भी कायदे से नहीं मिली। अजीब से दुर्गंध से मौजूद मरीज और तीमारदार परेशानी महसूस कर रहे थे।
वर्जन:---
अस्पताल में डॉक्टरों की बेहद कमी है। इस बारे में शासन से पत्राचार किया गया है। अगले कु छ ही दिनों में दस डॉक्टर आने वाले है, इससे मरीजों को राहत मिलेगी। दलालों पर पूरी तरह से पाबंदी लगाई गई है। मरीजों को दवाएं वितरित की जा रही हैं।
-वाईएन तिवारी, सीएमएस, सदर अस्पताल
-----

Spotlight

Most Read

National

पाकिस्तान की तबाही के दो वीडियो जारी, तेल डिपो समेत हथियार भंडार नेस्तनाबूद

सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया है। भारत के जवाबी हमले में पाकिस्तान की कई फायरिंग पोजिशन, आयुध भंडार और फ्यूल डिपो को बीएसएफ ने उड़ा दिया है।

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी पुलिस के इस सिपाही ने किया खाकी को शर्मसार

फतेहपुर में एक बार फिर पुलिस का खौफनाक चेहरा सामने आया है। यूपी पुलिस के सिपाही ने एक युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी। पुलिसवाले ने युवक की पिटाई इसलिए कर दी क्योंकि युवक की बाइक से सिपाही को टक्कर लग गई।

18 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper