विज्ञापन
विज्ञापन

उफ! हर ओर जाम ही जाम

Fatehpur Updated Thu, 30 Aug 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
फतेहपुर। शहर के चौराहों और प्रमुख बाजारों में दिन में कई मर्तबा जाम लगना रोजाना की बात हो गई है। सुबह हो या शाम शहरियों को जाम की समस्या से जूझना ही पड़ता है। ज्वालागंज, शादीपुर नाका, बाकरगंज व सब्जी मंडी समेत कई इलाकों में तो दिन में कई-कई बार जाम लगता है और एक बार जाम लगने पर काफी देर तक खुलने का नाम नहीं लेता है। सुबह के समय यातायात का दबाव ज्यादा होने से लोगों को रोजाना ही जाम में फंसना पड़ता है। ऐसे में नौकरी पेशा लोगों को दफ्तर विलंब से पहुंचने पर बॉस की फटकार सुननी पड़ती है तो स्कूली बच्चों को देर होने पर टीचर के गुस्से का शिकार होना पड़ता है। कभी-कभी अस्पताल जा रहे गंभीर रोगी के जाम में फंसने से उनकी जान सांसत में पड़ जाती है। लोगों की माने तो इसके लिए सड़क के दोनों ओर अतिक्रमण और बेतरतीब पार्किंग काफी हद तक जिम्मेदार है। यातायात सिपाहियों का हाल यह है कि जाम लगने पर कहीं नजर ही नहीं आते हैं। रेलवे क्रासिंगों का तो हाल बेहाल है, रेलवे फाटक पर तो यह कहा जाए कि यहां पूरे दिन जाम रहता है तो कहीं से गलत न होगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
सुबह 10:30 बजे
वर्मा तिराहे से लेकर सब्जी मंडी तक जाम लगा रहा। दूर-दूर तक यातायात अथवा थाने का सिपाही नजर नहीं आया। वर्मा तिराहे से लेकर सब्जी मंडी होते हुए आईटीआई रोड तक लोगों को रोजाना सुबह इसी समस्या से जूझना पड़ता है। सड़क के दोनों ओर सब्जी की दुकानें, सब्जी लाने वाले वाहन व स्कूल जाने वाली बसाें से यातायात पूरी तरह से बाधित रहता है। साथ ही पेट्रोल पंप पर वाहनों का जमावड़ा लगने से भी जाम लगता है। सुबह स्कूल व कोचिंग जाने वाले छात्रों को जाम में फंसने से ज्यादा परेशानी होती है।
दोपहर 12:30 बजे
बाकरगंज में जाम में फंसे लोग बेहाल दिखे। सुबह के समय इधर से गुजरना किसी जोखिम से कम नहीं है। पुलिस चौकी के ठीक सामने लगने वाले इस जाम में कभी-कभी तो जीटी रोड से गुजरने वाले अफसर भी फंस जाते हैं। अफसरों के वाहन को देख पुलिस के जवान सक्रिय हो जाते है बाकी के समय आप इस इलाके से सफर कर ले तो सब कु छ भगवान के ही भरोसे है। टेंपो चालकाें की मनमानी और फुटपाथ के किनारे लगी दुकानों से ज्यादा जाम लग रहा है। रोडवेज बसों के यहां रुकने से भी जाम लगता है।
दोपहर 1:30 बजे
शहर के सरकारी बस स्टाप के पास जाम में फंसे लोग कड़ी धूप से बेचैन दिखे। यहां हर रोज इस समय जाम लग जाता है। एक बार जाम लगने पर काफी देर तक नहीं खत्म नहीं होता है। पुलिस की मौजूदगी में यहीं से सरकारी व प्राइवेट वाहन सवारियों को बैठाने का काम करते हैं। नाले का निर्माण भी हो रहा है। राहगीरों को वाहन खोज पाना भी आसान नहीं है। इधर-उधर भटकते राहगीरों क ो परेशनी का सामना क रना पड़ता है। कभी-कभी तो सरकारी अस्पताल जाने वाले मरीज भी जाम में फंस जाते हैं और उनकी जान सांसत में पड़ जाती है।
दोपहर 2:30 बजे
पथरकटा चौराहे पर तकरीबन रोजाना ही इस समय जाम लगता है। बुधवार को दोपहर जाम लगा को यातायात का सिपाही कहीं नहीं दिखा। जाम में फंसे राहगीर खुद ही रास्ता बनाते नजर आए। पथर कटा चौराहे पर होमगार्ड के दो जवान जरूर मौजूद रहते हैं, लेकिन उनकी कितनी सुनी जाती है, इसका सहज अंदाज लगाया जा सकता है। घंटाें लगने वाले जाम की वजह से लोगों को गलियों से होकर गुजरना पड़ता है।

Recommended

UP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।
UP Board 2019

UP Board Class 10th & 12th 2019 की परीक्षाओं का सबसे तेज परिणाम देखने के लिए रजिस्टर करें।

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019
ज्योतिष समाधान

अक्षय तृतीया पर अपार धन-संपदा की प्राप्ति हेतु सामूहिक श्री लक्ष्मी कुबेर यज्ञ - 07 मई 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव में किस सीट पर बदल रहे समीकरण, कहां है दल बदल की सुगबुगाहट, राहुल गाँधी से लेकर नरेंद्र मोदी तक रैलियों का रेला, बयानों की बाढ़, मुद्दों की पड़ताल, लोकसभा चुनाव 2019 से जुड़े हर लाइव अपडेट के लिए पढ़ते रहे अमर उजाला चुनाव समाचार।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Fatehpur

डीजे वाहन सीज कर संचालक को जेल भेजा

डीजे वाहन सीज कर संचालक को जेल भेजा

20 अप्रैल 2019

विज्ञापन

बैन हटते ही आजम खान ने दिया फिर बयान, अब इन पर लगाया आरोप

इस बार लोकसभा चुनाव में भाजपा उम्मीदवार जया प्रदा के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देने पर चुनाव आयोग का बैन खत्म होने के बाद सपा नेता आजम खान ने एक रैली के दौरान बयान दिया।

20 अप्रैल 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election