अंधड़ से केला किसानों पर एक करोड़ की मार

Fatehpur Updated Wed, 27 Jun 2012 12:00 PM IST
खजुहा/चौडगरा (फतेहपुर)। बैंकों से कर्ज लेकर खेती कर रहे केला उत्पादक किसानों को सोमवार शाम के आंधी-तूफान ने झकझोर दिया। खेतों में खड़ी चालीस फीसदी महालक्ष्मी प्रजाति के केले की फसल तबाह हो गई। सबसे ज्यादा सितम मवइया के किसानों पर बरपा। बर्बाद किसानों को अब नुकसान की भरपाई की राह नहीं सूझ रही। यह फसल बीमा के दायरे से बाहर है। कर्जदार किसानों पर लगभग एक करोड़ रुपए की मार पड़ी है। बाकी फसल भी उजाड़ कर अब टीसू केले की खेती का विकल्प बचा है।
बिंदकी तहसील क्षेत्र के गांव मवइया, बरेठर, नगमापुर, कोरसम, बहरौली, आदमपुर, नंदापुर में बड़े पैमाने पर केले की खेती होती है। सबसे ज्यादा केला उत्पादक किसान गांव मवइया के हैं। यहां करीब 800 बीघे क्षेत्रफल में किसानों ने केले की खेती कर रखी है। सोमवार की शाम आए अंाधी-तूफान ने केला उत्पादकों के अरमानों पर पानी फेर दिया। लंबे कद का होने से तेज अंधड़ से सबसे ज्यादा महालक्ष्मी प्रजाति का केला बर्बाद हुआ है। अपेक्षाकृत ठिगनी टीसू प्रजाति की खेती कम तबाह हुई।
केला उत्पादक हरि किशन अवस्थी, राज कुमार, कंधई यादव, ननकू पासवान, गोविंद तिवारी, भगवती विश्वकर्मा बताते है कि अंधड़ से उनकी सारी मेहनत पर पानी फिर गया है। जीतू सिंह, हरि प्रसाद, पवन सिंह, राम बहादुर, रंजीत कुशवाहा, जगत पाल सोनकर, विकास का कहना है कि वे तो बर्बाद हो गए। प्रति बीघे करीब पच्चीस हजार की लागत डूब चुकी है। उन सभी ने किसान क्रेडिट कार्ड से लोन ले रखा है। दस हजार रुपए प्रति बीघे लोन मिला। इसमें भी दो प्रतिशत नाजायज लेन-देन में चला गया। बाकी अपनी गांठ के भरोसे झेलना पड़ा है।
उधर, फतेहपुर क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक शाहजहांपुर के प्रबंधक आरपी शर्मा का कहना है कि 14 फसलों पर ही बीमा लागू होता है। बीमा कंपनियों ने इस जिले की जलवायु को केला उगाने के लिए उपयुक्त न मानते हुए इसे बीमा के दायरे से बाहर रखा है। पीड़ित किसानों ने बताया कि अब वह शेष बची रह गई फसल भी उजाड़ देंगे। यह टीसू प्रजाति रोपने का समय है। नई फसल लगाएंगे। अनुमात: लगभग एक करोड़ का नुकसान हुआ है। नई फसल के लिए अब नई कर्जदारी चिंता का विषय बनी हुई है।

Spotlight

Most Read

National

मौजूदा हवा सेहत के लिए सही है या नहीं, जान सकेंगे आप

दिल्ली के फिलहाल 50 ट्रैफिक सिग्नल पर वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) डिस्पले वाले एलईडी पैनल पर यह जानकारी प्रदर्शित किए जाने की कवायद हो रही है।

19 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी पुलिस के इस सिपाही ने किया खाकी को शर्मसार

फतेहपुर में एक बार फिर पुलिस का खौफनाक चेहरा सामने आया है। यूपी पुलिस के सिपाही ने एक युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी। पुलिसवाले ने युवक की पिटाई इसलिए कर दी क्योंकि युवक की बाइक से सिपाही को टक्कर लग गई।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper