गुस्साए किसानों ने घेराव किया

Fatehpur Updated Tue, 05 Jun 2012 12:00 PM IST
असोथर (फतेहपुर)। तौल न होने से गुस्साए जरौली के किसानों ने गेहूं क्रय केंद्रों पर खरीद का जायजा लेने आए क्षेत्रीय खाद्य आयुक्त इलाहाबाद मंडल अटल कुमार यादव का घेराव किया। किसानों ने उन्हें तमाम खामियां गिनाईं और कहा कि अभी तक उनके लिए कोई केंद्र ही तय नहीं किया गया। इसके चलते किसान इधर-उधर भटक रहा है।
जरौली ग्राम सभा के किसानों को यूपीएसएस के क्रय केंद्र से संबद्ध किया गया था। बाद में उन्हें यहां से उठाकर मार्केटिंग सेंटर से जोड़ दिया गया। इसके लिए यूपीएसएस को लिखित में आदेश भी जारी कर दिए गए किंतु मार्केटिंग को लिखित में कोई आदेश नहीं दिया गया। ऐसे में यूपीएसएस आदेश का हवाला देते हुए जरौली के किसानों का गेहूं नहीं खरीदा जा रहा है, जबकि मार्केटिंग वाले आदेश न मिलने की वजह से गेहूं नहीं ले रहे है। इसके चलते किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सोमवार को क्षेत्रीय खाद्य आयुक्त इलाहाबाद मंडल अटल कुमार यादव के यहां खरीद का जायजा लेने आने की सूचना मिलते ही नाराज किसानों ने पहुंचकर उनका घेराव किया और क्रय केंद्रों पर तौल न होने व अन्य समस्याओं के बारे में अवगत कराया। इस मौके पर किसान राजा सिंह, यशवंत, लल्लू, वीरेंद्र, राजकुमार सहित तमाम किसान मौजूद रहे। किसानों की व्यथा सुनने के बाद आरएफसी ने यूपीएसएस केंद्र प्रभारी रामगोपाल से सवाल-जवाब किया। केंद्र प्रभारी के डिप्टीआरएम के आदेश का हवाला दिए जाने को नाकाफी बताते हुए उन्होंने जरौली के किसानों की तौल सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। इस सेंटर में आठ हजार क्विंटल खरीद का लक्ष्य है, जिसके सापेक्ष अभी तक तीन हजार क्विंटल गेहूं खरीदा गया है।


04 जून
ठेकेदार पर मुकदमा दर्ज करने का निर्देश
-एसडीएम ने गेहूं क्रय केंद्र का निरीक्षण किया
अमर उजाला ब्यूरो
बिंदकी (फतेहपुर)। उपजिलाधिकारी बिंदकी ने सपा जिलाध्यक्ष के साथ सोमवार को गेहूं क्रय केंद्र हसोलेखेड़ा साधन सहकारी समिति का निरीक्षण किया। एसडीएम और सपा जिलाध्यक्ष के समक्ष समिति सचिव ने किसानों से तीन किलो प्रतिक्विंटल की कटौती किए जाने की बात स्वीकारी। इस पर एसडीएम ने पहले तो नाराजगी दिखाई और फिर सचिव को कटौती बंद कर सुधरने की हिदायत दी। ढुलाई आदि की दिक्कतों पर ठेकेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए।
गेहूं खरीद केंद्र हसोलेखेड़ा में गांव बनझोलवा के नंदकिशोर 20 कुंतल गेहूं तौलाने गया था। उसने आरोप लगाया था कि सचिव द्वारा पांच किलोग्राम प्रतिक्विंटल की कटौती की जा रही है। निरीक्षण पर एसडीएम ने जब शिकायत के बारे में सचिव से पूछताछ की तो उसने पांच किलोग्राम के बजाए तीन किलोग्राम प्रति क्विंटल की कटौती किए जाने की बात कही। जिसके पीछे तर्क यह दिया गया कि पल्लेदारी तथा गेहूं लदवाकर भिजवाने में पैसा खर्च हो जाता है जिसकी भरपाई के लिए कटौती मजबूरी हो गई है। इस पर एसडीएम ने नाराजगी जाहिर की। एसडीएम ने बोरों की समस्या को देखते हुए किसी भी किसान का 25 क्विंटल से अधिक गेहूं न खरीदे जाने के निर्देश दिए। एसडीएम ने ठेकेदार के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश भी दिए। सपा जिलाध्यक्ष रामेश्वर दयालू ने कहा कि गेहूं खरीद में किसानों के गेहूं में कटौती हुई तो बख्शा नहीं जाएगा। संबंधित क्रय केंद्र प्रभारियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करवाई जाएगी।

Spotlight

Most Read

National

राजनाथ: अब ताकतवर देश के रूप में देखा जा रहा है भारत

राज्य नगरीय विकास अभिकरण (सूडा) की ओर से आयोजित कार्यक्रम में राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना से नया आयाम मिला है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी पुलिस के इस सिपाही ने किया खाकी को शर्मसार

फतेहपुर में एक बार फिर पुलिस का खौफनाक चेहरा सामने आया है। यूपी पुलिस के सिपाही ने एक युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी। पुलिसवाले ने युवक की पिटाई इसलिए कर दी क्योंकि युवक की बाइक से सिपाही को टक्कर लग गई।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper