दिनभर गलन से बेपटरी हुई जिंदगी

Fatehpur Updated Mon, 24 Dec 2012 05:30 AM IST
फतेहपुर। सर्दी पड़ने ही नहीं लगी है, बल्कि उसका कहर भी चौबीस घंटे के दौरान देखने को मिला है। दिसंबर माह के दूसरे पखवारे के आठवें दिन न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस रहा। जो अधिकतम 17 डिग्री सेल्सियस ही पहुंच पाया। बदले मौसम से लोग सहम गए। गलन के मारे वह कंपकंपा गए। जो कोहरे व गलन के बीच घर से निकले। सार्वजनिक स्थानों पर ठंड का असर देखते बना। गरीब तबका सबसे ज्यादा लाचार इस दौरान नजर आया। जो ठिठुरते हुए दैनिक कामों को निपटाने के लिए घर से निकला और परिवार को दो जून की रोटी खिलाने के लिए काम पर कंपकंपाते हुए जुटा रहा। पिछले कुछ दिन से मानसून के बदले मिजाज शनिवार को बाहर आ गए। शहरी बिस्तर से बाहर निकले और आसमान निहारने की कोशिश की तो कोहरा ही कोहरा नजर आया। हवा नहीं चल रही थी लेकिन गलन अपना काम जरूर तमाम कर रही थी। रोडवेज व रेलवे के स्टेशन मेें मौजूद भी भीड़ का हाल बुरा था। कुछ डैडी ज्वालागंज चौराहे में स्थिति खान पान सेंटरों में भट्ठी के करीब बच्चों के साथ जमा थे। कंपकंपाती सर्दी में निकला कामगार तबका खुद राह पड़े कूड़े के ढेर पर माचिस की तीली दिखाकर खुद को बचाने का प्रयास करता दिखाई दिया। हालात यह रहे कि सुबह साढ़े दस बजे के बाद सूर्य ने दर्शन दिए। ऐसे में वाहन इस दौरान हेडलाइट के ही सहारे सड़क पर दौडें। सप्ताह का आखिरी दिन होने से सरकारी कार्यालयों की रंगत छिनी रहीं। रही सही कसर गलन ने पूरी कर दी। कुछ सरकारी कार्यालय में हीटर जलाए गए। दोपहर दो बजे के बाद फिर से ठंड का अहसास होने लगा। शाम होते होते लोग ठंडी से जूझने लगे। जिससे सड़कों की रौनक छिन गई।

Spotlight

Most Read

Dehradun

आरटीओ में गोलमाल, जांच शुरू

आरटीओ में गोलमाल, जांच शुरू

21 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी पुलिस के इस सिपाही ने किया खाकी को शर्मसार

फतेहपुर में एक बार फिर पुलिस का खौफनाक चेहरा सामने आया है। यूपी पुलिस के सिपाही ने एक युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी। पुलिसवाले ने युवक की पिटाई इसलिए कर दी क्योंकि युवक की बाइक से सिपाही को टक्कर लग गई।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper