मौरंग लदे सातों ट्रकों का चालान

Fatehpur Updated Sun, 09 Dec 2012 05:30 AM IST
फतेहपुर। सहायक संभागीय परिवहन विभाग द्वारा ओवरलोड़ गाड़ियों पर शिकंजा कसा जा रहा है। शनिवार को विभागीय टीम ने मौरंग-गिट्टी लदी सात ओवरलोड गाड़ियों का चालान काटा। विभाग ने उक्त गाड़ियों से एक लाख चालीस हजार रुपया का जुर्माना वसूला है।
शनिवार को एआरटीओ प्रर्वतन की टीम ने नऊवाबाग मेें एक कांटा से कार्रवाई की शुरूआत की। बाईपास पर एआरटीओ की गाड़ी होने की सूचना पाकर होशियार चालक या तो वहीं पर एक साइड के टायर सड़क से उतार कर खड़े हो गए अथवा रास्ता बदल दिया। दिन भर की कार्रवाई में विभागीय टीम ने सात गाड़ियों को ओवरलोड होने पर पकड़ा। इन गाड़ियों से राजस्व के रूप में विभाग को जुर्माना का एक लाख चालीस हजार रुपया मिला है। एआरटीओ प्रशासन कहते है यह अभियान छह दिसंबर से चल रहा है। जो सोलह दिसंबर तक चलेगा। आरटीओ व पुलिस द्वारा कार्रवाई की जद में आने वाली मौरंग व गिट्टी ढोने वाली गाड़ियाें पर अंकुश खदान में ही कांटा होने के बाद लगेगा। संबंधित विभाग के एक जवाबदेह कहते है सरकार यदि इस तरफ सोच ले तो ओवरलोड की समस्या से पार पाया जा सकता है।

इंसेट
डबल लोड कर चलते हैं ट्रक
फतेहपुर। सड़क में चलने वाली ओवरलोड गाड़ियां क्षमता से दूना लादकर कर फर्राटा भरती हैं। मसलन छह टायरा ट्रक की बात करें तो इस पर ज्यादा से ज्यादा दस टन का लोड देना चाहिए लेकिन इससे इतर बीस से पच्चीस टन तक की लोडिंग की जा रही है। ऐसा ही दस टायरा ट्रक की लोडिंग में खेल हो रहा है। बहुत खींच कर अट्ठारह टन की लोडिंग के बजाए यह थोड़ी बहुत नहंी पचास टन तक पहुंच जाती है।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

गरीबी की वजह से इस शख्स ने शुरू किया था मिट्टी खाना, अब लग गई लत

गरीबी की वजह से झारखंड के कारु पासवान ने मिट्टी खानी शुरू की थी।

19 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी पुलिस के इस सिपाही ने किया खाकी को शर्मसार

फतेहपुर में एक बार फिर पुलिस का खौफनाक चेहरा सामने आया है। यूपी पुलिस के सिपाही ने एक युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी। पुलिसवाले ने युवक की पिटाई इसलिए कर दी क्योंकि युवक की बाइक से सिपाही को टक्कर लग गई।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper