फिरोजाबाद से अपहृत बालक हुआ मुक्त

Farrukhabad Updated Wed, 26 Sep 2012 12:00 PM IST
कायमगंज। माहभर पहले फिरोजाबाद के सिरसागंज से अपहृत दो साल का बच्चा मिल गया है। ग्रामीणों ने बच्चे को शिवरई बरियार गांव छोड़ कर जाने वाले युवक व उसके साथी को पकड़कर पुलिस को सौंपा। पुलिस की कड़ी पूछताछ में पकडे़ गए युवक ने कई अहम राज उगले। हालांकि युवक का साथी पुलिस को झांसा दे थाने से खिसकने में सफल रहा। सूचना पर आई फिरोजाबाद पुलिस बच्चे व अगवा करने वाले को साथ ले र्गई।
क्षेत्र के गांव शिवरई बरियार निवासी राजवीर यादव ने सोमवार की शाम कोतवाली आकर बताया कि एक बाइक पर सवार तीन युवक एक बालक को उनके घर के पास छोड़कर चले गए थे। पुलिस ने बालक को उन्हें अपने पास ही रखने को कहा। जिस पर वे बच्चे को साथ ले गए। मंगलवार सुबह बाइक से दो युवक उनके पास पहुंचे और बच्चे को मांगा, जिस पर राजवीर ने कहा कि वे थाने में पुलिस के सामने ही बच्चा उसे सुपुर्द करेंगे। दोनों युवक राजवीर के साथ थाने आए। एक ने खुद को विजय यादव उर्फ रिंकू निवासी नयागांव थाना कुरावली जनपद मैनपुरी बताया। खुद को विजय बताने वाले युवक ने कोतवाल को बताया कि यह बालक शिवम उसके बडे़ भाई मथुरी का बेटा है। वह उसे दवा दिलाने फर्रुखाबाद ले जा रहा था। बाइक पर चार लोगों के बैठने से दिक्कत होने के कारण वह उसे व एक साथी को शिवरई छोड़ दवा लेने चला गया था। उसकी बताई कहानी कोतवाल विजय सिंह यादव के गले नहीं उतरी। उन्होंने उसे व बालक को कोतवाली में ही बैठा लिया। इस बीच उसके साथ आया उसका साथी कल्लू निवासी अमापुर थाना जनपद एटा जिसे विजय ने अपना साला बताया था मौका पाकर थाने से खिसक लिया।
दोपहर बाद पुलिस ने विजय से कड़ाई से पूछताछ की। पुलिस के भय से विजय टूट गया और उसने सारी सच्चाई उगल दी। विजय ने बताया कि वह पट्टी बनवारा थाना जसराना का रहने वाला है। उसने बताया कि उन्होंने 26 अगस्त को सिरसागंज जनपद फिरोजाबाद में स्थित धर्मकांटे के पास से बालक का अपहरण किया था। साला कल्लू व दिनेश निवासी अमापुर ने उसकी मदद की थी फिरौती के रूप में दो लाख रूपए की मांग की गई थी। घटना का खुलासा होते ही पुलिस ने सिरसागंज पुलिस को अवगत कराया तो पता चला कि वहां इस मामले का मुकदमा दर्ज है। फिरोजाबाद एसपी के निर्देश पर बालक की तलाश में गठित एसओजी प्रभारी आशीष कुमार सिंह कुछ देर बाद कोतवाली पहुंच गए। उनके साथ बालक के पिता मथुरी प्रसाद भी थे। पिता को देखकर बालक शिवम दौड़कर उनकी गोद में बैठ गया। एक माह बाद अपने पुत्र को सकुशल देख उनकी आंखें भर आईं। मथुरी प्रसाद ने बताया कि विजय उनके दोस्त का दोस्त है जो कभी कभार आया जाया करता था। एसओजी टीम दोनों को अपने साथ ले गई।
शिवम की चंचलता से हुआ खुलासा
कायमगंज। दो साल की उम्र में अपना नाम, पिता का नाम व पूरा पता बताने वाले शिवम के अपहृता को चाचा न बताने पर पुलिस का माथा ठनका था। इस पर पुलिस ने युवक को आभास नहीं होने दिया कि वे उससे कैसे राज उगलवाएगी। दोपहर बाद पुलिसिया पूछताछ ने विजय को राजफाश करने पर मजबूर कर दिया। यही नहीं बालक को जब विजय गोद में उठाने का प्रयास करता था तो वह उसके पास नहीं जाता था। इससे पुलिस का शक बढता चला गया।

Spotlight

Most Read

National

सियासी दल सहमत तो निर्वाचन आयोग ‘एक देश एक चुनाव’ के लिए तैयार

मध्य प्रदेश काडर के आईएएस अधिकारी और झांसी जिले के मूल निवासी ओपी रावत ने मंगलवार को मुख्य चुनाव आयुक्त का कार्यभार संभाल लिया।

24 जनवरी 2018

Rohtak

बिजली बिल

24 जनवरी 2018

Rohtak

नेताजी

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: अब ये खास अंडरवियर बचाएगी बहू-बेटियों की आबरू

साल 2016 में देश में सबसे ज्यादा रेप के मामले उत्तर प्रदेश से सामने आए। अब यूपी की ही एक बेटी ने एक महिलाओं की इज्जत-आबरू को बचाने का बेड़ा उठाया है। इस बेटी ने एक ऐसा अंडरवियर बनाया है जो रेप प्रूफ है। देखिए क्या है इसकी खासियत।

11 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper