दो गांवों में पोलियो खुराक का बहिष्कार

Farrukhabad Updated Mon, 10 Sep 2012 12:00 PM IST
राजेपुर/जहानगंज। विकास कार्य न कराए जाने से खफा दो गांव के लोगों ने पोलियो खुराक पिलाने से इनकार कर दिया। सूचना मिलने पर पहुंचे एसडीएम के समझाने पर राजेपुर के बरुआ गांव के लोग माने, यहां 250 में से सिर्फ 34 बच्चों को ही पोलियो खुराक पिलाई जा सकी, किंतु जहानगंज के घटमापुर में कोई नहीं पहुंचा। वहां भी सिर्फ 24 बच्चे को पोलियो खुराक पिलाई गई।
पोलियो दिवस पर रविवार को राजेपुर विकास खंड के गांव बरुआ के बूथ संख्या 50 पर पोलियो खुराक पिलाने एएनएम विमलेश कुमारी पहुंची। सुबह से दोपहर एक बजे तक बूथ पर सन्नाटा पसरा रहा। इसके बाद गांव वाले एकत्र होकर बूथ पर आए और बच्चों को पोलियो खुराक पिलाने का बहिष्कार किया। उन्होंने प्रदर्शन कर प्रशासनिक अधिकारियों के खिलाफ नारे लगाए। बहिष्कार की जानकारी मिलने पर एसडीएम अमृतपुर अरुण कुमार गांव वालों से मिलने पहुंचे। एसडीएम ने कल्लू, हरेन्द्र, सुखराम, कुंवर पाल, धीरेन्द्र, घनश्याम, कमलेश से बातचीत की। ग्रामीणों ने बताया कि गांव में विकास कार्य कागजों में करा दिया गया। सड़कें और खड़ंजे कागज में बनकर तैयार हो गए। हकीकत में निर्माण कार्य नहीं कराया गया। इसकी शिकायत 6 अगस्त को जिलाधिकारी, 16 अगस्त को खंड विकास अधिकारी, 21 अगस्त को तहसील दिवस, 27 अगस्त को अपर जिलाधिकारी से की थी। उनकी शिकायतें अधिकारियों ने अनदेखी कर दी। कागजों पर हुए विकास कार्य की जांच नहीं कराई गई। इस कारण गांव वालों को बरसात के दिनों में परेशानी का सामना करना पड़ता हैं। एसडीएम अरुण कुमार ने गांव वालों को जांच कराने का आश्वासन दिया। तीन बजे के बाद गांव वाले बच्चों को पोलियो खुराक पिलवाने के लिए बूथ पर लाए। दो घंटे में 34 बच्चों को पोलियो खुराक पिलाई गई, जबकि बूथ पर 250 बच्चों को पोलियो खुराक पिलाई जानी थी।
उधर, कमालगंज ब्लाक क्षेत्र की ग्राम पंचायत पतौंजा के मजरा घटमापुर में पोलियो टीम के सदस्य अहिलकार, आशा गुड्डी देवी, आंगनबाड़ी कार्यकत्री सुनीता, सहायिका मिथलेश कुमारी, शिक्षामित्र सुनीता देवी पहुंचे। टीम के सदस्यों ने सुबह नौ बजे तक 24 बच्चों को पोलियो खुराक दी थी। इसी दौरान ग्रामीण इकट्ठे होने लगे और पोलियो टीम के सामने ही प्रशासन और प्रधान के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। ग्रामीणों का यह रूप देख टीम के सदस्य सहम गए और इधर-उधर दुबकने लगे। अशोक कुमार, महेंद्र, देवेंद्र, संदीप, कमलेश, विशुनदयाल, सुभाषचंद, मलिखान सिंह, निर्दोष, मकरंद सिंह ने बताया कि गांव में एक मात्र खड़ंजा बिछा था, उसकी ईटें पूर्व प्रधान उखाड़ ले गए। गांव में कोई नाली और खड़ंजा नहीं है। कोई विकास कार्य नहीं कराया गया है। जगह-जगह पानी भरा है चारों ओर गंदगी फैली है कच्ची नालियां बजबजा रही हैं। सड़ांध और बदबू से ग्रामीण परेशान हैं। ग्रामीणों ने बताया कि ऐसी पोलियो खुराक देने से क्या फायदा है जब गांव में ही बीमारी पैदा हो रही है। ग्रामीणों ने बताया कि वह लोग गांव की समस्या से जिलाधिकारी महोदय को ज्ञापन देकर अवगत करा चुके हैं।

Spotlight

Most Read

Meerut

दो सगी बहनों से साढ़े चार साल तक गैंगरेप, घर लौट आई एक बेटी ने सुनाई आपबीती

दो बहनों का अपहरण कर तीन लोगों ने साढ़े चार वर्ष तक उनके साथ गैंगरेप किया। एक पीड़िता आरोपियों की चंगुल से निकल कर घर लौट आई। उसने परिवार को आपबीती सुनाई।

21 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: अब ये खास अंडरवियर बचाएगी बहू-बेटियों की आबरू

साल 2016 में देश में सबसे ज्यादा रेप के मामले उत्तर प्रदेश से सामने आए। अब यूपी की ही एक बेटी ने एक महिलाओं की इज्जत-आबरू को बचाने का बेड़ा उठाया है। इस बेटी ने एक ऐसा अंडरवियर बनाया है जो रेप प्रूफ है। देखिए क्या है इसकी खासियत।

11 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper