विज्ञापन

गंगा के कटाव से भोजपुर में दहशत, कई मकान खाली कराए

Farrukhabad Updated Sat, 30 Jun 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
फर्रुखाबाद। कालागढ़ डैम से पानी छोड़े जाने से कमालगंज क्षेत्र के भोजपुर गांव में गंगा के कटाव से ग्रामीणों में दहशत फैल गई। एक मकान कटान की चपेट में आ गया, जबकि आधा दर्जन से अधिक मकानों पर खतरा है। शुक्रवार को बीडीओ ने गांव का दौरा कर ग्रामीणों को मकान खाली कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचने का निर्देश दिया है। गंगा का जलस्तर बढ़ने पर आनन फानन डीएम ने कलेक्ट्रेट में बाढ़ राहत की कार्ययोजना तलब कर ली। उन्होंने नावों व गोताखोरों का इंतजाम करने का फरमान जारी किया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
कमालगंज प्रतिनिधि के अनुसार भोजपुर में आबादी की तरफ दो दिनों से गंगा के कटाव में अचानक तेजी आ गई है। ग्रामीणों के अनुसार यदि इसी गति से कटान जारी रहा तो पूरे गांव की आबादी खतरे में पड़ जाएगी। कटान के चलते लगभग 500 बीघा कृषि भूमि कट चुकी है। गंगा नदी में जलस्तर बढ़ने से ग्रामीण भयभीत हैं। कटान के चलते गंगा की धार राजा भोज के किले के खंडहर से टकराने लगी है। बताया जाता है कि यहां पर गंगा पिछले वर्ष से कटाव कर रही हैं लेकिन दो दिनों से जिस गति से कटान हुआ उतना तेज कटान पहले नहीं हुआ। दो दिनों में 20 मीटर से अधिक पहाड़ी कट चुकी है। तेज गति से हो रहे कटान ने रामसरन केे मकान को चपेट में ले लिया है। धार से 100 मीटर की दूरी पर राजवीर, जयचंद्र, शिवराम, होरीलाल, जयवीर, वीरेंद्र, रामसेवक रमेश चंद्र व प्रदीप के मकानों को खतरा बन गया है। राजा भोज के बनवाए गए शिव मंदिर पर भी संकट है। बीडीओ देवेंद्र सिंह चौहान ने शुक्रवार को सुबह भोजपुर का दौरा करके कटान से प्रभावित होने वाले ग्रामीणों को मकान खाली कर प्राइमरी या जूनियर स्कूल में पहुंचने केे लिए कहा है।
तहसीलदार सदर राजेंद्र प्रसाद चौधरी ने शुक्रवार को दोपहर में कटान का जायजा लिया। उन्होंने लेखपाल को कटान से प्रभावित लोगों को आवास के लिए ग्राम सभा की भूमि आवंटन की कार्रवाई करने का आदेश दिया।
उधर जिलाधिकारी डा. मुथुकुमारस्वामी बी. ने गंगा के जलस्तर में बढ़ोत्तरी के मद्देनजर राहत कार्ययोजना में लगाए गए विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि पशुपालन विभाग चारे के इंतजाम के साथ ही मवेशियों में टीकाकरण करा ले। सीएमओ बाढ़ के समय फै लने वाली बीमारियों से बचाव केे लिए चौकियों व स्वास्थ्य केंद्रों पर दवाएं उपलब्ध कराने व चिकित्साधिकारियों की तैनाती करें।
डीएम ने डीएसओ से बाढ़ पीड़ितों के लिए केरोसिन आरक्षित करने के लिए कहा। जल निगम को हैंडपंपों को ऊंचा करने की हिदायत दी गई। उन्हाेंने भोजपुर गांव में कटान रोकने के उपाय करने का आदेश दिया।
सीडीओ आईपी पांडे ने कहा कि बाढ़ पीड़ितों के लिए राहत सामग्री व खाने पीने की व्यवस्था कर ली जाए। एडीएम कमलेश कुमार ने बताया कि ऊंचे स्थानों का चयन कर लिया गया है।

Recommended

सर्दी में ज्यादा खाएं देसी घी, जानें क्यों कहते हैं इसे ब्रेन फूड और क्या-क्या हैं इसके फायदे
ADVERTORIAL

सर्दी में ज्यादा खाएं देसी घी, जानें क्यों कहते हैं इसे ब्रेन फूड और क्या-क्या हैं इसके फायदे

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Kanpur

Kumbh Mela 2019: शाही स्नान करने पहुंचे आग बबूला नागा साधुओं ने किया स्नान का बहिष्कार, दी चेतावनी

कुंभ में प्रयागराज में आज पहला शाही स्नान बड़ी धूमधाम से हुआ वहीं फर्रुखाबाद जिले में मकर संक्रांति पर शाही स्नान के लिए आए नागा साधुओं का खून गंगा में गिरने वाले नालों को देखकर खौल उठा।

16 जनवरी 2019

विज्ञापन

लखनऊ की सडकों पर उतरे पीआरडी जवान, कहा मांग पूरी ना होने पर करेंगे ये काम

प्रदेश भर से लखनऊ पहुचे प्रांतीय रक्षक दल के जवानों ने हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान हजारों की संख्या में जवान मुख्यमंत्री आवास जाने के लिए निकले। लेकिन पुलिस बल ने उन्हें रोक लिया।

17 जनवरी 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree