विज्ञापन

तीन बीडीसी सदस्यों को बंधक बनाने का आरोप

Farrukhabad Updated Thu, 07 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
फर्रुखाबाद। बढ़पुर ब्लाक प्रमुख के खिलाफ आए अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के साथ फिर से मतदान होना बाकी है लेकिन उससे पहले ही तीन बीडीसी सदस्यों को बंधक बना लिया गया है। आरोप है कि उन्हें एक कोल्ड स्टोरेज में रखा गया है। कई अन्य सदस्यों को भी बंधक बनाए जाने की आशंका है। बंधक सदस्यों के परिजनों ने शिकायती पत्र जिला प्रशासन और पुलिस अधिकारी को देने के अलावा शासन के भी उच्च पदस्थ अधिकारियों को देकर उन्हें मुक्त कराए जाने की मांग की है। वहीं ब्लाक प्रमुख अखिलेश कटियार ने कहा है कि सदस्यों को बंधक बनाए जाने से निष्पक्ष चुनाव संभव नहीं है।
विज्ञापन

ब्लाक प्रमुख अखिलेश कटियार ने बताया है कि उनके विरोधी यशपाल सिंह यादव सरकार के प्रभाव में आकर बीडीसी सदस्यों को पुलिस के माध्यम से पकड़वा रहे हैं। कई सदस्यों को पकड़कर एक कोल्ड स्टोरेज में बंधक बनाए जाने की उनके पास सूचना है। ऐसी स्थिति में निष्पक्ष चुनाव होना संभव नही है। थाना मऊ दरवाजा के अंतर्गत ग्राम अर्रापहाड़पुर निवासी अनीसाबानो पत्नी नबीशेर ने पुलिस अधीक्षक सहित राज्य निर्वाचन आयोग और अन्य उच्च पदस्थ अधिकारियों को पत्र भेजकर बताया है कि उनके बेटे लाला उर्फ लालमीर की पत्नी ग्राम अर्रापहाड़पुर से बीडीसी सदस्य है इसलिए लालमीर को पुलिस का सहयोग लेकर यशपाल यादव ने 12 मई को पकड़वा लिया है। उसे कोल्ड स्टोरेज में रखकर यातनाएं और धमकी दी जा रही है। अनीसाबानों ने अपने पुत्र को मुक्त कराए जाने की गुहार लगाई है।
अनीसा के अलावा ग्राम आवाजपुर निवासी सरविंद शाक्य ने अपने चाचा अवधेश कुमार को बंधक बना लिए जाने की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों सहित राज्य निर्वाचन आयोग को दी है। बताया कि चाची रामसरी ग्राम आवाजपुर की बीडीसी सदस्य हैं इसलिए उनके पति को पुलिस की मदद से 15 मई को उठवा लिया गया है और एक कोल्ड स्टोरेज में बंधक रखा गया है। नया नगला महरूपुर सहजू के निवासी कृष्ण चंद्र राजपूत ने डीएम, एसपी और राज्य निर्वाचन आयोग को पत्र भेजकर बताया है कि उनका पुत्र राजेश कुमार बीडीसी सदस्य है जिसे करीब 15 दिन पहले पुलिस की मदद से यशपाल यादव ने उठवा लिया है। और कोल्ड स्टोरेज में बंधक बनाए हुए है। कृष्ण राजपूत ने यहां तक बताया है कि ऐसे 25 सदस्यों को बंधक बनाया गया है। ताकि वे 25 जून को होने वाले अविश्वास प्रस्ताव की चर्चा के समय सत्ता पक्ष के उम्मीदवार का समर्थन करे। जिलाधिकारी डा.मुथुकुमार स्वामी बी. ने पुलिस अधीक्षक को जांच करवाने के लिए मामला सौंप दिया है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us