अनुसूचित जाति के बीपीएल परिवारों से ऋण आवेदन मांगे

Farrukhabad Updated Wed, 09 May 2012 12:00 PM IST
फर्रुखाबाद। बीपीएल श्रेणी अनुसूचित जाति के परिवारों के आर्थिक उत्‍थान के लिए दो अलग-अलग योजनाओं पर काम शुरू किया गया है। जिन लोगों के पास शहरी क्षेत्र में निजी भूमि है उस पर दुकान निर्माण के लिए अनुदान युक्त ऋण उपलब्‍ध कराने और अन्य उद्योगों के लिए भी बैंक से ऋण उपलब्‍ध कराने की प्रक्रिया पर आवेदन मांगे गए हैं।
अपर जिला विकास अधिकारी समाज कल्याण आर बी मिश्रा ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करके बताया है कि जनपद में गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले अनुसूचित जाति के ऐसे परिवारों जिनके पास निजी भूमि है उन्हें उक्त भूमि पर दुकान निर्माण के लिए उप्र. अनुसूचित जाति वित्‍त एवं विकास निगम लि.द्वारा संचालित शहरी क्षेत्र दुकान निर्माण योजना के तहत 78 हजार रुपए का ऋण दिया जाएगा। इसमें 10 हजार का अनुदान मिलेगा। साथ ही 68 हजार रुपए का ब्याज रहित ऋण होगा। ऋण की अदायगी दस वर्षों में समान मासिक किश्तों पर होगी। श्री मिश्र ने इच्छुक लोगों से कहा है कि उनके कार्यालय में आवेदन पत्र 20 मई तक जमा कर दें। लेकिन आवेदन के साथ जमीन के स्वामित्व के वैध अभिलेख, आय और जाति प्रमाण पत्र संलग्न किया जाना आवश्यक है। यह भी बताया कि जो लोग पूर्व में आवेदन कर चुके हैं उन्हें दोबारा आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है।
एक अन्य योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे की श्रेणी वाले अनुसूचित जाति के परिवारों को व्यवसाय के लिए वर्ष 2012-13 में बैंकों के माध्यम से ऋण दिया जाएगा। ऋण के आवेदन पत्र के साथ आय जाति प्रमाण पत्र और राशन कार्ड भी संलग्न करना आवश्यक होगा। यह आवेदन पत्र संबंधित क्षेत्र के खंड विकास अधिकारी कार्यालय या अपर जिला विकास अधिकारी समाज कल्याण के कार्यालय में 20 मई तक जमा किए जा सकते हैं। श्री मिश्र ने बताया कि प्राप्त किए जाने वाले ऋण में बीस हजार रुपए से लेकर सात लाख रुपए की परियोजनाएं सम्मिलित की जा सकती हैं। उक्त ऋण में अधिकतम दस हजार रुपए अनुदान दिया जाएगा। योजना की लागत की 25 फीसदी धनराशि मार्जिन मनी के ऋण के रूप में चार फीसदी ब्याज पर निगम द्वारा और शेष धनराशि बैंक ऋण के रूप में बैंक की ब्याज दर पर शामिल होगी।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: अब ये खास अंडरवियर बचाएगी बहू-बेटियों की आबरू

साल 2016 में देश में सबसे ज्यादा रेप के मामले उत्तर प्रदेश से सामने आए। अब यूपी की ही एक बेटी ने एक महिलाओं की इज्जत-आबरू को बचाने का बेड़ा उठाया है। इस बेटी ने एक ऐसा अंडरवियर बनाया है जो रेप प्रूफ है। देखिए क्या है इसकी खासियत।

11 जनवरी 2018