बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

पदोन्नति में आरक्षण बर्दाश्त नहीं: वरुण

Farrukhabad Updated Mon, 11 Feb 2013 05:31 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
फर्रुखाबाद। भाजपा के फायरब्रांड नेता सांसद वरुण गांधी ने कहा कि पदोन्नति में आरक्षण बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पदोन्नति में आरक्षण लागू हुआ तो भविष्य में 90 फीसदी लोगों के बच्चे बेरोजगार हो जाएंगे। 20 फीसदी अंक हासिल करने वाले जिलाधिकारी बनेंगे तो उत्तर प्रदेश में गरीबी की सारी सीमाएं टूट जाएंगी। पूर्व मंत्री ब्रह्मदत्त द्विवेदी की पुण्यतिथि पर आयोजित संकल्प सभा में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे सांसद वरुण गांधी ने कहा कि प्रदेश को बचाना है तो जाति-पात की सियासत करने वालों को बाहर का रास्ता दिखाना होगा।
विज्ञापन

सांसद वरुण गांधी ने लोगों से सवाल किया कि आखिर देश के सबसे बड़े प्रदेश में सबसे ज्यादा गरीबी क्यों है। इसके लिए उन्होंने जातीय राजनीति को जिम्मेदार ठहराते हुए आगामी चुनाव में जाति, धर्म से ऊपर उठने की नसीहत दी। प्रदेश सरकार पर हमला बोलते हुए वरुण गांधी ने कहा कि प्रदेश में तुष्टिकरण की नीति अपनाई जा रही है। उन्होंने नाम लिए बगैर कहा कि प्रदेश में हमारे साथ कोई घटना होती है तो थाने में सुनवाई तक नहीं होती, जबकि ‘उनकी’ सुरक्षा में पूरी फोर्स लगी रहती है। उन्हें तमाम तरह से लाभान्वित किया जाता है। वोट की राजनीति में खैरातें बांटी जाती हैं, लेकिन हमें दो वक्त की रोटी तक नसीब नहीं होती है।

सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव और बसपा प्रमुख मायावती पर हमला बोलते हुए श्री वरुण गांधी ने कहा कि यूपी गरीबों का प्रदेश है, लेकिन यहां बारी-बारी से सत्ता करने वाले दोनों दलों के प्रमुखों पर आय से अधिक संपत्ति रखने का मुकदमा चल रहा है। ऐसे लोगों से हमें मुक्ति चाहिए। इशारे-इशारे में उन्होंने कांग्रेस को भ्रष्टाचारी की संज्ञा दी। कहा कि केंद्र से तो उम्मीद करना ही बेकार है। एक के बाद एक घोटाले हो रहे हैं।
युवाओं में जोश भरते हुए वरुण गांधी ने बेरोजगारी के मुद्दे को प्रमुखता से उठाया। कहा कि सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने अपने परिवार के लोगों को सांसद, विधायक व अन्य पदों पर बैठा कर रोजगार उपलब्ध करा दिया, लेकिन प्रदेश के नौजवानों को बेरोजगार छोड़ दिया है। जब लोग रोजगार मांगते हैं तो उन्हें लाठियां मिलती हैं। राजनीति के व्यवसायीकरण पर चिंता जाहिर करते हुए वरुण गांधी ने कहा कि बदलते परिवेश में राजनीति का मतलब बदल गया है। हालात यह हो गए हैं कि हर कोई चाहता है कि उसका बेटा विधायक, सभासद बनें, लेकिन राजनीति के जरिए सेवा, रक्षा, कर्तव्य पालन करने की जिम्मेदारी नहीं निभाई जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 30 फीसदी बदबदलू विधायक बन गए हैं। भविष्य में ऐसे लोगों का ख्याल रखना होगा। बीजेपी को मौका देना होगा और जाति की जंजीर को तोड़ना होगा।
उन्होंने उपस्थित जनसमूह का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि दलबदलुओं को तरजीह मत देना अन्यथा देश गर्त में चला जाएगा। अब राजनीति में ऐसे लोगों की जरूरत है, जो अत्याचार का विरोध कर सकें। उन्होंने अपने पिता संजय गांधी का हवाला देते हुए कहा कि आज जहां भी वह जाते हैं, कहा जाता है कि संजय होते तो देश की यह हालत नहीं होगी। यही हमारी सबसे बड़ी पूंजी है। उन्होंने कार्यक्रम आयोजक मेजर सुनील दत्त द्विेदी का हौंसला बढ़ाते हुए कहा कि पूर्व मंत्री ब्रह्मदत्त द्विवेदी की जिस विरासत को हम लोग आगे बढ़ा रहे हैं, उसे गतिशील बनाए रखना होगा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us