तेज रफ्तार ने ली दो की जान

Farrukhabad Updated Sun, 16 Dec 2012 05:30 AM IST
फर्रुखाबाद। तेज रफ्तार ने अलग-अलग घटनाओं में एक किशोर सहित दो लोगों की जान ले ली। दो की हालत गंभीर बनी है। पहली घटना देर रात फर्रुखाबाद कोतवाली के चाचूपुर मोड़ पर हुई, जहां ट्रक से कुचलकर किशोर मौत हो गई और दो लोग घायल हो गए। दूसरी घटना कायमगंज में हुई, जहां तेज रफ्तार पिकअप से कुचलने से साइकिल सवार की मौत हो गई। गुस्साए ग्रामीणों ने चाचूपुर में इटावा-बरेली हाइवे जाम कर दिया। हाइवे जाम होने इस दौरान पुलिस और ग्रामीणों के बीच नोकझोक भी हुई।
राजेपुर थाना क्षेत्र के दारापुर गांव निवासी सुनील कुमार जाटव, उसका 16 वर्षीय भांजा पट्टीदारापुर निवासी गौरव एवं दारापुर का ही अरविंद जाटव शनिवार की शाम मजदूरी कर साइकिल से घर लौट रहे थे। वे राजेपुर थाना क्षेत्र के चाचूपुर मोड़ के पास पहुुंचे थे कि पीछे से तेज रफ्तार से आई ट्रक ने टक्कर मार दी। इससे गौरव की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि सुनील जाटव (28) एवं अरविंद जाटव (26) घायल हो गए। घटना के बाद चालक ट्रक लेकर फरार हो गया। मौके पर पहुंची एंबुलेंस ने अरविंद और सुनील को लोहिया अस्पताल पहुंचाया। गौरव की मौत की खबर मिलते ही ग्रामीण आक्रोशित हो गए। कहने के बाद पिकेट ड्यूटी के सिपाहियों ने ट्रक का पीछा करने से मना कर दिया। इससे आक्रोश बढ़ गया। ग्रामीणों ने इटावा- बरेली हाइवे पर जाम लगा। जाम की जानकारी होने पर राजेपुर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने शव उठाने का प्रयास किया तो ग्रामीणों से नोंकझोंक होने लगी। कुछ देर बाद सीओ सिटी वाईपी सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने ग्रामीणों को समझा-बुझाकर रास्ता खुलवाया और शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा।
दूसरी घटना में कायमगंज के त्योरखास गांव निवासी दिनेश उर्फ करू पुत्र राधेश्याम को पिकअप ने कुचल दिया। वह साइकिल से घर जा रहा था कि अलीगंज मार्ग पर सामने से आई पिकअप कुचलती हुई निकल गई। दुर्घटना की सूचना मिलते ही कोतवाल पीतम सिंह मौके पर पहुंच गए। इसी बीच समाजवादी एम्बुलेंस भी वहां पहुंच गई। पुलिस ने घायल दिनेश को एम्बुलेंस से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजवाया। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के भाई विनोद ने कोतवाली में अज्ञात पिकअप चालक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।
घर में बड़ा बेटा था गौरव, पिता बेहोश
फर्रुखाबाद। सड़क हादसे में हुई गौरव की मौत की खबर जब उसके गांव में पहुंची तो वह लोग मौके पर आ गए। बेटे का शव देख कर पिता तीसरात अचेत होकर गिर पड़ा। उसको देख कर अन्य लोगों ने तैसे तैसे पिता को होश में लेकर आए। गांव के लोगों का कहना था कि गौरव सबसे बड़ा बेटा था। उसका छोटा भाई सौरभ और एक छोटी बहन देवकी है। मां वीरावती का भी रो रोकर बुरा हाल था। ग्रामीणोें ने बताया कि गौरव पत्थर घीसाई का काम करता था। परिजनों को क्या पता था कि अब वह आखिरी बार ही मजदूरी करने के लिए जा रहा है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: अब ये खास अंडरवियर बचाएगी बहू-बेटियों की आबरू

साल 2016 में देश में सबसे ज्यादा रेप के मामले उत्तर प्रदेश से सामने आए। अब यूपी की ही एक बेटी ने एक महिलाओं की इज्जत-आबरू को बचाने का बेड़ा उठाया है। इस बेटी ने एक ऐसा अंडरवियर बनाया है जो रेप प्रूफ है। देखिए क्या है इसकी खासियत।

11 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls