जमीन खा गई या आसमान निगल गया

Farrukhabad Updated Wed, 28 Nov 2012 12:00 PM IST
फर्रुखाबाद। नवाबगंज क्षेत्र के गांव बसई खेड़ा में बिजली के पोल लगाए नहीं गए। इसके बाद भी कागज पर 9 पोलों में करंट दौड़ता दिखा दिया गया है। अब इस मामले की जांच शुरू हो गई है। इस मामले में कई अफसरों की गर्दन पर तलवार लटक रही है।
वर्ष 2010 में तेज आंधी से नवाबगंज थाना क्षेत्र के गांव बसई खेड़ा में लगे बिजली के पोल टूट गए थे और लाइन क्षतिग्रस्त हो गई थी। इससे गांव के नलकूप बंद हो गए और एक दर्जन घरों में अंधेरा छा गया। ग्रामीणों ने टूटे पोलों को बदलवाने की मांग की तो विद्युत वितरण निगम ने 12/13 जून 2010 को आंधी से हुए नुकसान का आंकलन कर 5,08,356 रुपए का स्टीमेट तैयार किया। इसी स्टीमेट में बसईखेड़ा में भी नौ पोल बदले जाने थे। गांव में टूटे पोलों के स्थान पर नए पोल लगाने के लिए मंगाए गए। निगम के स्टोर से पोल व तार का उठान तक हो गया। इतना ही नहीं कागज पर पोल लगने के बाद बिजली की सप्लाई होना भी दिखा दिया गया। जबकि हकीकत में गांव में पोल लगे ही नहीं। बिजली के पोल लगवाने के लिए ग्राम प्रधान अरविंद कुमार कार्यालयों का चक्कर काटते रहे। अरविंद कुमार ने दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम के मुख्यालय आगरा में शिकायत की तो वहां से पता चला कि गांव के लिए पोल स्टोर से पोल का उठान तो दो साल पहले ही हो चुका है। यह सुनते ही ग्राम प्रधान के पैरों तले जमीन खिसक गई। उन्होंने निगम के अफसरों से दोबारा शिकायत की। वह जनता दरबार और तहसील दिवसों में भी लगातार शिकायत करते रहे। अब विभाग के अधिशासी अभियंता ने उपखंड अधिकारी से इन पोलों के बारे में जानकारी मांगी है। उपखंड अधिकारी को भेजी गई नोटिस में पूछा गया है कि स्टोर से उठाए गए पोल बसईखेड़ा के बजाय कहां लगाए गए।

तहसील दिवस में कब-कब की शिकायत
तहसील कायमगंज रसीद संख्या दिनांक
कायमगंज 2911001068 3/8/2010
कायमगंज 2911001559 7/12/2010
कायमगंज 29111100360 15/2/2011
कायमगंज 2912000092 17/7/2012
कायमगंज 2912000212 7/8/2012

भंडारण प्रभारी से मांगी इनवाइस
अधिशासी अभियंता ग्रामीण ने सहायक अभियंता भंडार (स्टोर सेंटर) को 27 सितंबर 2012 को पत्र लिखा। इसमें कहा कि ग्राम प्रधान के प्रार्थनापत्र से ज्ञात हुआ कि स्वीकृत 13 पोल व अन्य सामग्री दूसरी जगह लगा दी गई। किसके द्वारा सामग्री स्टोर से उठाई गई हैं। इनवाइस की छायाप्रति उपलब्ध कराई जाए।

अधिशासी अभियंता फिरोजाबाद को लिखा पत्र
विद्युत वितरण निगम ग्रामीण क्षेत्र अधिशासी अभियंता ने अधिशासी अभियंता विद्युत वितरण खंड फिरोजाबाद को 19 नवंबर 2012 को पत्र लिखा हैं। इसमें कहा कि गांव बसई खेड़ा की सामग्री का उठान किया है। इसका प्रयोग कहां किया गया। यदि सामग्री दूसरे स्थान पर लगाई गई तो क्यों। इस संबंध में स्पष्ट्रीकरण दे अन्यथा कार्रवाई को प्रबंध निदेशक को लिखा जाएगा।

मंत्री ने भी लिखा पत्र
फर्रुखाबाद। मंत्री नरेंद्र सिंह यादव ने विद्युत वितरण निगम के अधिशासी अभियंता को पत्र लिखा। उन्होंने इस प्रकरण की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

मामले की जांच चल रही है। रिपोर्ट मांगी गई है। मामले में दोषी कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।- सुभाष चंद्र शर्मा (अधिशासी अभियंता ग्रामीण)

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

दिल्ली-एनसीआर में दोपहर में हुआ अंधेरा, हल्की बार‌िश से गिरा पारा

पहले धुंध, उसके बाद उमस भरे मौसम और फिर हुई हल्की बारिश ने दिल्ली में हो रहे गणतंत्र दिवस के फुल ड्रेस रिहर्सल में विलेन की भूमिका निभाई।

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: अब ये खास अंडरवियर बचाएगी बहू-बेटियों की आबरू

साल 2016 में देश में सबसे ज्यादा रेप के मामले उत्तर प्रदेश से सामने आए। अब यूपी की ही एक बेटी ने एक महिलाओं की इज्जत-आबरू को बचाने का बेड़ा उठाया है। इस बेटी ने एक ऐसा अंडरवियर बनाया है जो रेप प्रूफ है। देखिए क्या है इसकी खासियत।

11 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper