छात्रों के पोस्टर व बैनर हटवाए

अमर उजाला ब्यूरो Updated Thu, 21 Dec 2017 11:37 PM IST
Officer removed posters and banners of students
साकेत महाविद्यालय छात्रसंघ चुनाव का बिगुल बज गया है। चुनाव की अधिसूचना जारी होने के साथ ही महाविद्यालय व जिला प्रशासन लिंगदोह समिति के सिफारिशों के अनुपालन में जुट गया है। गुरुवार को साकेत महाविद्यालय के सामने लगे दावेदारों की होर्डिंग, पोस्टर व बैनर प्रशासन ने नगर निगम की टीम लगाकर उतरवाए। इस बीच कुछ छात्रों ने विरोध किया लेकिन पुलिस के आचार संहिता का सख्ती से पालन की बात कहने पर छात्र शांत हो गए।
जिले में अवध विश्वविद्यालय से संबंद्ध 100 से अधिक कॉलेज हैं लेकिन सिर्फ सॉकेत में छात्रसंघ का चुनाव होता है। छात्रसंघ चुनाव कॉलेज प्रशासन के लिए सदैव चुनौतीपूर्ण रहा है। इस बार 30 दिसंबर को मतदान व मतगणना होनी है। छात्रसंघ चुनाव में राजनीतिक पार्टियों कांग्रेस, भाजपा, बसपा और वामंपथी पार्टी की छात्र इकाई चुनाव मैदान में उतरती है। छात्रसंघ को सियासी नर्सरी कहा जाता है।

यहां के पदाधिकारी विधानसभा, लोकसभा में पहुंच और मंत्री भी बने। साकेत छात्रसंघ के पदाधिकारी रहे लल्लू सिंह, बृजभूषण शरण सिंह, डॉ. निर्मल खत्री, जयनारायण तिवारी, अनिल तिवारी, खब्बू तिवारी सांसद, विधायक व मंत्री तक बने। अभिषेक मिश्र, गुड्डू मिश्र ने भी छात्रनेता के रूप में पहचान बनाई है। चुनाव की अधिसूचना जारी होने के साथ ही महाविद्यालय में भी चुनावी शोरगुल सुनाई देने लगा है।

30 को टेढ़ीबाजार से रानोपाली चौराहे तक रहेगा रूट डायवर्जन 
छात्रसंघ चुनाव की अधिसूचना जारी होते ही पुलिस प्रशासन ने प्रत्याशियों की निगेहबानी शुरू कर दी है। इस कड़ी में महाविद्यालय के इर्द-गिर्द व शहर के प्रमुख स्थानों पर न केवल सुरक्षा-व्यवस्था के चौकस इंतजाम किए जा रहे हैं बल्कि पूर्व की घटनाओं के दस्तावेज को खंगालकर अपराधी तत्वों को चिन्हित किया जा रहा है।

चुनाव से पूर्व ही उन पर नकेल कसने की कवायद भी शुरू हो गई है। सीओ अयोध्या राजकुमार साव ने बताया कि 30 दिसंबर को मतदान व मतगणना के दौरान टेढ़ीबाजार से रानोपाली चौराहे तक रूट डायवर्जन रहेगा। लिंगदोह समिति की सिफारिशों के अनुपालन में ढिलाई बर्दाश्त नहीं होगी। उल्लंघन पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

बिना प्रवेश पत्र के महाविद्यालय में नहीं हो सकेंगे दाखिल
साकेत महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. प्रदीप खरे ने बताया कि महाविद्यालय में वहीं विद्यार्थी प्रवेश पा सकेंगे, जो प्रवेश पत्र धारक होंगे। महाविद्यालय परिसर में चुनाव प्रचार अभियान पर पूर्ण अंकुश होगा।

छात्रसंघ चुनाव में गड़बड़ी न हो, चुनाव प्रक्रिया पारदर्शी हो, इसके लिए पर्यवेक्षक व चुनाव अधिकारियों की टीम बनाई गई है। लिंगदोह समिति की सिफारिशों के अनुसार चुनाव कराए जाएंगे।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Kushinagar

सामूहिक नकल पकड़ा गया, केंद्र को डिबार की संस्तुति

पडरौना। शनिवार को यूपी बोर्ड परीक्षा की प्रथम पॉली में सेहर सैनिक स्कूल साखोपार के एक कमरे में सात परीक्षार्थी सामूहिक नकल करते पकड़े गए। सामाजिक विषय की इस परीक्षा में सेक्टर मजिस्ट्रेट/जिला समाज कल्याण अधिकारी करीब दो घंटे तक इस विद्यालय में रहे।

18 फरवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen