गणतंत्र दिवस को लेकर बढ़ी सतर्कता

Faizabad Updated Fri, 24 Jan 2014 05:46 AM IST
फैजाबाद। गणतंत्र दिवस के मद्देनजर सुरक्षा को लेकर सतर्कता बढ़ा दी गई है। गणतंत्र पर्व सकुशल व शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने की कवायद को लेकर जांच व तलाशी अभियान शुरू करने का निर्देश दिया गया है। खुफिया महकमे को भी सक्रिय कर दिया गया है। उधर परेड को लेकर पुलिस ने तैयारियों को अंतिम रूप देने की कवायद शुरू हो गई है। शुक्रवार को फुल ड्रेस रिहर्सल का आयोजन किया जाएगा। अधिकारी परेड का निरीक्षण भी करेंगे।
गणतंत्र दिवस पर पुलिस लाइंस ग्राउंड में होने वाले समारोह में मुख्य अतिथि को परेड की सलामी दी जाएगी। इसके साथ ही महकमे की विभिन्न शाखाओं की ओर से अपने-अपने काम का प्रदर्शन किया जाएगा। महकमे ने इस बार समारोह का मुख्य अतिथि सूबे के समाज कल्याण मंत्री अवधेश प्रसाद को बनाया है। कार्यक्रम में परिक्षेत्र के उपपुलिस महानिरीक्षक बीडी पाल्सन समेत पुलिस व प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहेंगे। पुलिस लाइंस के प्रतिसार निरीक्षक सत्य नरायन गुप्ता ने बताया कि परेड को तैयारियां अंतिम दौर में हैं। सभी शाखाओं का रिहर्सल अच्छा चल रहा है। शुक्रवार को फुल ड्रेस रिहर्सल का आयोजन किया जाएगा। अन्य व्यवस्थाओं को भी अंतिम रूप दिया जा रहा है। इस वर्ष घुड़सवार दस्ते का सहभाग दिखेगा। गत वर्ष दस्ता माघ मेले में प्रयाग में था। उधर गणतंत्र दिवस को लेकर पुलिस महकमे ने सुरक्षा खाके का अनुपालन कराने की कवायद शुरू कर दी है। बम खोजी व निरोधी दस्तों तथा एंटी सेबोटाज चेक टीम को होटल, धर्मशाला, लाॅज समेत रेलवे व बस स्टेशन के साथ सार्वजनिक स्थलों पर जांच व तलाशी अभियान चलाने को कहा गया है। एसपी सिटी आरएस गौतम ने बताया कि खुफिया महकमे के साथ पुलिस को असामाजिक तत्वों की हरकतों पर सतर्कता से नजर रखने और ऐसे तत्वों के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश दिया गया है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls