27 करोड़ से संवरेंगी मिल्कीपुर की सड़कें

Faizabad Updated Fri, 24 Jan 2014 05:46 AM IST
फैजाबाद। मिल्कीपुर क्षेत्र के बाशिंदों को जल्द बड़ी सौगात मिलेगी। जर्जर हो चुके मिल्कीपुर-अमानीगंज संपर्क मार्ग के कायाकल्प को शीघ्र मंजूरी मिलने वाली है। बताया जा रहा कि सारी औपचारिकताएं पूरी हो गई है, केवल शासन की हाईलेवल कमेटी की हरी झंडी मिलना बाकी है। सहमति प्रदान करते ही बजट निर्गत हो जाएगा। इसके बाद लोक निर्माण विभाग सड़क का निर्माण कार्य शुरू करा देगा। इसकी पुष्टि करते हुए विभागीय अफसर बताते हैं कि कमेटी की बैठक तीन-चार दिनों में होना प्रस्तावित है।
लगभग 17 किमी लंबे मिल्कीपुर-अमानीगंज संपर्क मार्ग का निर्माण कार्य वर्ष 2003-04 में मुलायम सरकार के कार्यकाल में हुआ था। तत्समय लोक निर्माण मंत्री रहे शिवपाल सिंह यादव ने इसका उद्घाटन किया था। निर्माण कार्य पूरा होने के करीब डेढ़-दो साल बीतने के बाद ही उक्त सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे बन गए। वाहनों के अत्यधिक आवागमन से कुछ ही समय बाद सड़क काफी जर्जर हो गई। इससे मार्ग पर लोगों का चलना दूभर बन गया। क्षेत्रीय लोगों ने मरम्मत की मांग उठाई, इलाकाई जनप्रतिनिधियों से फरियाद की, तो दो साल पहले लोक निर्माण विभाग ने मरम्मत कराई। सड़क पर बने गड्ढों की पटाई तो कराई, पर मिट्टी व ईंटों से। मरम्मत के नाम पर खानापूर्ति होने के नाते थोड़े दिन बाद ही यह सड़क बिल्कुल जर्जर हालत में पहुंच गई। वर्तमान समय तो यह संपर्क मार्ग इस कदर खस्ताहाल हो गया है कि यदि संभल कर न चलें, तो पैदल भी चोटिल हो सकते हैं। इस कारण पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान क्षेत्रवासियों की प्रमुख मांगों में इस मार्ग का निर्माण कार्य भी शुमार रहा।
सपा के उम्मीदवार रहे अवधेश प्रसाद के जीतने और फिर समाज कल्याण मंत्री बनने के बाद जब-तब उनके क्षेत्र में पहुंचने पर मिल्कीपुर-अमानीगंज सड़क के निर्माण की मांग उठती रही है। इसी वजह से कैबिनेट मंत्री ने भी संपर्क मार्ग के निर्माण के लिए अपनी ओर से पूरा जोर लगा दिया। सप्ताहभर में सड़क को शासन से मंजूरी मिल सकती है। लोक निर्माण विभाग के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर इसकी पुष्टि की। उन्होंने बताया कि औपचारिकताएं पूरी हो चुकी है। केवल उच्चस्तरीय कमेटी की मंजूरी मिलनी बाकी है। कमेटी की बैठक तीन-चार दिनों में होने वाली है। इसमें हरी झंडी मिल जाने की पूरी संभावना है। इसके बाद थोड़ा बजट भी निर्गत हो जाएगा। अधिकारी ने बताया कि करीब साढ़े 17 किलोमीटर लंबे मार्ग के निर्माण कार्य पर लगभग 27 करोड़ खर्च किए जाने का प्रस्ताव है। अधिक्षण अभियंता एसपी सिंह ने प्रस्ताव भेजे जाने की पुष्टि की।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018