बिना मान्यता के इंटर विज्ञान वर्ग की पढ़ाई

Faizabad Updated Fri, 24 Jan 2014 05:47 AM IST
फैजाबाद। माध्यमिक शिक्षा परिषद ने बिना मान्यता के छात्रों को बोर्ड परीक्षा में शामिल कराने वाले एक विद्यालय का फर्जीवाड़ा पकड़ा है। साथ ही इस मामले में डीआईओएस कार्यालय की भूमिका भी जांच के घेरे में आ गई है। मामला अयोध्या के गंगा प्रसाद रविदास इंटर कॉलेज रानोपाली का है, जहां बगैर मान्यता के 91 छात्रों का इंटरमीडिएट में जीव विज्ञान में प्रवेश लेने व बोर्ड परीक्षा का फॉर्म भरवाने के साथ हकीकत छिपाकर प्रयोगात्मक परीक्षा की अनुमति लेने का आरोप है। बोर्ड के आदेश पर डीआईओएस नंदलाल गुप्ता ने बुधवार को कोतवाली अयोध्या में विद्यालय प्रबंधन के खिलाफ प्रथम सूचना रिपोर्ट के लिए तहरीर दी है। विभाग के संरक्षण में बिना संबंधित विषय की मान्यता के ही छात्रों को पढ़ाने व प्रयोगात्मक परीक्षा कराने का मामला सामने आने से हलचल मची हुई है। विभागीय सूत्राें की माने तो गंगा प्रसाद रविदास इंटर कॉलेज ने 91 छात्राें को इंटर विज्ञान वर्ग में पंजीकृत दिखाते हुए बोर्ड परीक्षा का फॉर्म भरा दिया था। इसे डीआईओएस ने अग्रसारित करके बोर्ड को भेजा। लेकिन बोर्ड ने फॉर्मों की जांच की तो फर्जीवाड़ा पकड़ा गया। हालांकि इसके पहले ही माध्यमिक शिक्षा परिषद से इस विद्यालय में इंटरमीडिएट की विज्ञान वर्ग की कक्षाआें में पंजीकृत दिखाए गए 91 छात्रों की प्रयोगात्मक परीक्षा के लिए कमलाकर चौबे इंटर कॉलेज के शिक्षक को परीक्षक नियुक्त कर परीक्षा लेने के लिए निर्देश दे दिए गए थे। अब फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद परिषद ने डीआईओएस को कार्रवाई के लिए निर्देश देते हुए परीक्षक को विद्यालय में परीक्षा न लेने का निर्देश भी जारी किया है। परिषद ने परीक्षा तो रोक दी लेकिन इस विद्यालय में इंटरमीडिएट विज्ञान वर्ग में पढ़ने वाले छात्रों के भविष्य पर सवालिया निशान लग गया है। डीआईओएस नंदलाल गुप्ता ने कहा कि बोर्ड के निर्देश पर अयोध्या कोतवाली में बगैर मान्यता स्कूल के विज्ञान वर्ग के 91 छात्रों की पढ़ाई और बोर्ड परीक्षा का फार्म भराने के मामले में तहरीर दे दी है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018