कर्फ्यू के चलते चौथे दिन और बढ़ीं मुश्किलें

Faizabad Updated Mon, 29 Oct 2012 12:00 PM IST
फैजाबाद। कर्फ्यू के चौथे दिन शहर में विषम हालात पैदा हो रहे हैं। रोजमर्रा की आवश्यक वस्तुएं लोगों को नहीं मिल पा रही हैं। चोरी छिपे दुकान खुलवाकर सामान लेने वाले भी अब परेशान हो रहे हैं। दुकानों पर भी अनेक सामान खत्म हो गये हैं। मंडी में ट्रकों और चार पहिया वाहनों से सब्जियों की आवक बहुत ही कम हैं। शहर के आसपास की बाजारों में सब्जियां महंगे दामों पर मिल रही हैं। रविवार को सब्जी मंडी में आलू-गोभी के साथ दूसरी सब्जियां पहुंचीं तो लेकिन पुलिस का पहरा इतना कड़ा रहा कि पासधारी ही मंडी में फटक सके। मंडी के दोनों ओर के प्रवेश द्वारों को बंद करा दिया गया था। ऐसे में अंदर पहुंचे लोग किसी तरह चोरी-छिपे चहारदीवारी फांदकर बाहर होते रहे। जो भी ठेले कालोनियों में पहुंचे उन पर सब्जियों की लूट मच गई। देखते-देखते ठेले से सब्जियां गायब हो गयीं। हालात इतने खराब कि आलू और लोबिया जैसी सस्ती सब्जियां कहीं 30 से 50 रुपये किलो में बिक रहे है।
शहर व गांव तक सब्जियों की आपूर्ति करने वाली नवीन सब्जी मंडी पिछले तीन दिनों की तुलना में रविवार को ज्यादा सब्जियां पहुंचीं, लेकिन पहरा कड़ा होने से कम ही लोग मंडी पहुंच सके। ठेले पर सब्जी बेचने निकले ठेलेवालों ने ग्राहकों से मनमाना दाम वसूला। सोया-मेथी 20 रुपये पाव तो पालक 10 रुपये पाव तक पहुंच गई। सामान्य दिनों में मंडी में 16 रुपये किलो मिलने वाला टमाटर 30 रुपये में बिका। लोबिया का भी यही हाल रहा। करैला 15 रुपये तो मिर्चा 30 रुपये में लोगों को खरीदना पड़ा। 20 रुपये किलो की लौकी 30 रुपये किलो पहुंच गई। कद्दू 20 रुपये किलो हो गया। रोजमर्रा की चीजें के दाम दोगुने से ऊपर पहुंच गये। शंकरगढ़, मऊशिवाला, सदर बाजार, डाभासेमर, मसौधा पहुंचे लोगों को भी सब्जियां महंगी ही खरीदनी पड़ी। दूधिये भी शहर में घुसने नहीं पा रहे हैं। ऐसे में लोग विशेषकर बच्चे खासे परेशान हैं। शहर से सटी ग्रामसभाओं की कालोनियों में भी इक्का-दुक्का दूधिया ही पहुंचे। ऐसे में लोग डेयरी की सप्लाई का इंतजार करते रहे। जहां वाहन पहुंचा, वहां लोगों ने एक के बजाय कई पैकेट दूध खरीदा। अनेक लोग वह भी नहीं पा सके।

Spotlight

Most Read

Lucknow

अखिलेश यादव का तंज, ...ताकि पकौड़ा तलने को नौकरी के बराबर मानें लोग

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह पर निशाना साधा और कहा कि भाजपा देश की सोच को अवैज्ञानिक बताना चाहती है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

जब रात में CM योगी के आवास के बाहर किसानों ने फेंके आलू

लखनऊ में आलू किसानों को जबरदस्त प्रदर्शन देखने को मिला। अपना विरोध जताते हुए किसानों ने लाखों टन आलू मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा और राजभवन के बाहर फेंक दिया। देखिए आखिर क्यों भड़क उठा आलू किसानों का गुस्सा।

6 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper