विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus in UP Live Updates: 27 लाख मनरेगा मजदूरों के खाते में भेजे गए 611 करोड़ रुपये

शासन और प्रशासन संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए लगातार कोशिश कर रहा है। लोगों से भी हर वक्त घरों में रहने की अपील की जा रही है।

30 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

इटावा

सोमवार, 30 मार्च 2020

नकब लगाकर नगदी व जेवरात चोरी

इटावा। भरथना थाना क्षेत्र के ग्राम सालिमपुर में गुरुवार रात घर में नकब लगाकर सोने चांदी के आभूषण व पांच हजार रुपये चुरा ले गए।
थाना क्षेत्र के सालिमपुर गांव के सौरभ पुत्र रमेश ने थाने मे तहरीर दी है। इसमें बताया कि गुरुवार की रात जब वह पिता के पास घर के बरामदे में सो रहे थे। उसी दौरान बदमाश पीछे बने कमरे के पिछवाड़े से नकब लगाकर घुस आए। घर में रखे संदूक व अलमारी खोलकर सोने के बाले, दो अंगूठी, चांदी की करधनी व पांच हजार रुपये के अलावा कपड़े व बर्तन चोरी कर फरार हो गए। सुबह नींद से आंख खुलने पर घटना की जानकारी हुई। उन्होंने बताया कि घटना में लगभग एक लाख रुपये की चोरी हुई है। घटना की सूचना थाना पुलिस को दी गई।
... और पढ़ें

हादसे में लोडर चालक व परिचालक गंभीर घायल

ससुरालीजनों पर दहेज उत्पीड़न की रिपोर्ट दर्ज

लॉकडाउन में लग रही बाजारों में भीड़

इटावा। कोरोना महामारी से बचाव के लिए लगाए गए लॉकडाउन में लोग सब्जी, राशन और दूध खरीदते समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे हैं। लोगों की इस लापरवाही से उनके परिवार के साथ अन्य लोगों को भी खतरा हो सकता है।
लॉकडाउन के चौथे दिन रविवार को बाजार में सभी दुकानों और बाजारों में भीड़ देखी गई। लोग पास पास खड़े होकर किराना, सब्जी और फल आदि खरीदते रहे। दुकानों के सामने बने गोले भी नहीं दिख रहे थे। चौगुर्जी में सब्जी व किराना दुकानों में लोग सटकर खड़े थे। पुरानी गल्लामंडी, गाढ़ीपुरा, नौरंगाबाद, छैराहा, विजय नगर, झम्मनलाल कलारी आदि मोहल्लों की दुकानों पर भी यही हाल रहा।
संवाद प्रतिनिधि उदी के अनुसार कस्बे में सुबह आठ से 12 बजे तक सब्जी और किराना की दुकानें खुल रही हैं। इनमें सामान खरीदने के लिए लोगों की भीड़ लग रही है। दुकानों के सामने गोले बनाए गए हैं लेकिन लोग एक दूसरे से सटकर खड़े हो रहे हैं। रविवार को बाजार में काफी भीड़ देखी गई। भीड़ में शामिल ज्यादातर लोग मास्क भी नहीं लगाए थे।
... और पढ़ें
कोरोना वायरस के चलते,, जहां प्रशासन द्वारा लोगों को एक मीटर की दूरी बनाए रखने के लिए सब्जी, किराना ? कोरोना वायरस के चलते,, जहां प्रशासन द्वारा लोगों को एक मीटर की दूरी बनाए रखने के लिए सब्जी, किराना ?

गांव हो या शहर, घर-घर कोरोना का डर

इटावा। लॉकडाउन के बीच जिस तरह बसों में ठूंस कर लोग दिल्ली से जिले के शहर और गांवों में लौट रहे हैं, उससे घर-घर कोरोना फैलने की आशंका बढ़ गई है। घरों में पहुंचने की जल्दी में लोग महामारी को बढ़ाने में सहयोग कर रहे हैं। करीब 34 घंटे में पांच हजार से अधिक लोग दिल्ली से जिले में आ चुके हैं। इसमें से 4742 लोग रोडवेज की बसों से आए हैं। इन लोगों को बिना किसी जांच के उनके गांव, मोहल्लों में जाने दिया गया है।
दुनिया में तबाही मचा रही महामारी कोरोना से केवल सोशल डिस्टेंसिंग (एक दूसरे से दूरी बनाकर) ही बचा जा सकता है। इसी सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखने के लिए प्रधानमंत्री ने 24 मार्च की रात से पूरे देश में लॉकडाउन कर दिया। बस, ट्रेन और हवाई जहाज सब बंद कर दिए गए, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे। इसके बावजूद हजारों लोग दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, मध्यप्रदेश से पैदल घरों के लिए चल दिए। शुक्रवार रात दो बजे दिल्ली से लोगों को लाने के लिए पहली बस चली। कुल 74 बसें चलाई गईं। इन बसों में से 53 बसें रविवार दोपहर तक आ चुकी हैं। इसमें दिल्ली से 4742 लोग जिले में आ चुके हैं। बस स्टैंड में यात्रियों की किसी तरह की जांच नहीं हुई। बस से उतरकर आटो-टेंपो से ये यात्री अपने गांव व मोहल्लों को चले गए। जिस आटो में दिल्ली से आए लोग सवार हुए उसमें इटावा से गांवों को जाने वाले यात्री भी सवार हो गए। बसों के अलावा सैकड़ों लोग पैदल आए हैं।
... और पढ़ें

अनुसूचित जाति आयोग अध्यक्ष ने दिया एक महीने का वेतन

इटावा। भाजपा सांसद और अनुसूचित जाति आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. रामशंकर कठेरिया ने अपना एक महीने का वेतन कोरोना महामारी के दौरान संकट में घिरे जरूरतमंदों के लिए दिया है। डॉ. कठेरिया ने जारी पत्र में सांसद
निधि से भी एक करोड़ रुपये संसदीय क्षेत्र के लिए दिया है। उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रही है। इस संकट से उबरने के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। कठेरिया ने लोगों से सरकार की ओर से
लगाए गए लॉकडाउन का पालन करने का अनुरोध किया है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि घरों पर ही रहें। वैसे तो हर जरूरी सामान घर तक पहुंचने की व्यवस्था कर दी गई है लेकिन अगर कोई जरूरी सामान लेने बाहर निकलें तो एक दूसरे से दूरी जरूर बनाए रहें। कहीं भी भीड़ में खड़े न हों। बाहर से आने पर घर में घुसने से पहले साबुन से ठीक से हाथ धोएं, सैनिटाइजर का उपयोग करें। पड़ोसियों के घर भी न जाएं। सतर्कता और सावधानी ही कोरोना से बचने का सबसे बड़ा इलाज है।
... और पढ़ें

बाइक सवारों से भी वसूला जा रहा टोल

इटावा। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चौपला कट के टोल प्लाजा से गुजरने वाले बाइक सवारों से रुपये ऐंठे जा रहे हैं। लोगों ने बताया कि दिल्ली से लेकर यहां तक किसी टोल पर पर्ची नहीं कट रही। लेकिन यहां उनसे रुपये लिए गए। लॉकडाउन की वजह से इन दिनों तमाम बाइक सवार गुजर रहे हैं।
चौबिया थाना क्षेत्र के तहत चौपला कट पर मौजूद टोल प्लाजा पर बाइक से आने वाले लोगों से भी रकम वसूली जा रही है। दिल्ली के संगम विहार से बाइक पर पंकज व राशिद ने बताया कि रास्ते में कई टोल पड़े। कहीं भी उनसे रुपये नहीं लिए गए। यहीं पर उनकी पर्ची काटी गई। उन्होंने कर्मचारी को बताया भी कि लेकिन उनकी सुनी नहीं गई।
चौपला कट से गुजरने वाले दो पहिया वाहन सवारों ने बताया कि इस टोल प्लाजा पर 24 घंटे रसीद काटी जा रही है। जबकि लोगों के पास पैसे भी नहीं है। भूख और प्यास से परेशान होकर लोग अपने घरों तक पहुंचना चाहते हैं। राशिद ने बताया कि बरौनाकला निवासी उसके चाचा एजाजुद्दीन का अंतिम संस्कार होना है। उसी में शामिल होने जा रहा है।
इस संबंध में यूपीडा के एसओ आरपी पांडे ने बताया कि यदि आगरा लखनऊ एक्सप्रेसवे के अन्य किसी टोल प्लाजा पर रसीद नहीं कट रही तो चौपला और टिमरुआ टोल्स पर भी नहीं कटेगी। वे इसकी जानकारी करेंगे।
... और पढ़ें

ड्यूटी बीच में छोड़कर साजिश में शामिल हुआ दरोगा

बाइक सवार की पर्ची काटते एक्सप्रेस वे पर चौपला कट स्थित टोल प्लाजा के कर्मचारी बाइक सवारों से भी ?
इटावा। सहसों थाना क्षेत्र के सधुआपुरा गांव में दो मठों को तोड़ने के आरोप में दरोगा समेत चार लोग जेल भेजे जा चुके हैं। घटना का मुख्य आरोपी पूर्व बीडीसी झोलाछाप हरेंद्र उर्फ भूरे अभी फरार है। पुलिस जांच में सामने आया कि झोलाछाप आरोपी भूरे ने पूरी साजिश रची। दरोगा भी ड्यूटी को छोड़कर शामिल हुआ।
सधुआपुरा गांव में शुक्रवार को नीम के पेड़ से सटे दो मठों को क्षतिग्रस्त किया गया था। सहसों थाना प्रभारी निरीक्षक जितेंद्र शर्मा ने इस मामले में पुलिस लाइन में तैनात दरोगा विजय प्रताप समेत जयनारायण सिंह, मनोज, सुंदर सिंह व हरेंद्र उर्फ भूरे के खिलाफ धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने का मामला दर्ज कराया है। झोलाछाप आरोपी हरेंद्र उर्फ भूरे मूलरूप से मध्यप्रदेश के फूफ कस्बे का रहने वाला है। फिलहाल हनुमंतपुरा चौराहे पर आकर बस गया। नीमरी क्षेत्र से बीडीसी भी रहा है। उसके बाद राजनीति में सक्रिय हो गया। फिलहाल वह फरार है। साजिश रचने का वह मुख्य आरोपी माना जा रहा है।
प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि पूरे मामले की जांच कर रही है। इस कृत्य में आरोपी दरोगा विजय प्रताप की अहम भूमिका रही है। 26 मार्च को ही दरोगा विजय प्रताप को पुलिस लाइन से विंडवाखुर्द और भिंड जिले के मधुपुरा बार्डर पर ड्यूटी के लिए भेजा गया था। लॉकडाउन के मद्देनजर उनकी ड्यूटी लगाई गई थी। ड्यूटी के बीच ही दरोगा ने गांव के कुछ लोगों के साथ मिलकर दोनों मठों को तोड़ने की साजिश रची।
यह मठ करीब 200 वर्ष पुराने हैं। इनमें एक कर्णिका देवी के नाम से जाना जाता है। इन मठों में कोई मूर्ति नहीं थी। कुछ लोग मठों पर दीपक जलाते हैं। मठों के स्थान पर बुद्ध भगवान की मूर्ति स्थापित करने की मंशा रही। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि घटना में लघु सिंचाई का एक अवर अभियंता समेत कुछ अन्य नाम भी सामने आए हैं। पुलिस किसी भी दोषी को नहीं छोड़ेगी।
... और पढ़ें

थाना प्रभारी ने बीमार बुजुर्ग दंपति को अस्पताल में कराया भर्ती

इटावा। सिविल लाइन कालोनी में रह रहे बीमार बुजुर्ग दंपति को थाना प्रभारी ने शनिवार शाम जिला अस्पताल में भर्ती करवाया। थाना के मेस से उनके भोजन की व्यवस्था की। दवाई आदि उपलब्ध कराने के लिए दो सिपाहियों को जिम्मेदारी दी।
सिविल लाइन इलाके में 75 वर्षीय सेवानिवृत्त कर्मचारी गया प्रसाद अपनी पत्नी के साथ एक छोटे से कमरे में रह रहे थे। उनके कोई संतान नहीं है। पेंशन से गुजर बसर हो रही है। बुढ़ापे की वजह से पति पत्नी अक्सर बीमार रहते हैं।
चार दिनों से लॉकडाउन होने की वजह से वह घर से निकल नहीं पा रहे थे। किसी ने सिविल लाइन थाना प्रभारी मदनगोपाल गुप्ता को दंपति के बीमार होने की सूचना दी। शनिवार शाम करीब छह बजे थाना प्रभारी दंपति के घर पहुंचे। उनकी हालत का जायजा लिया। पति पत्नी ने बीमार होने की बात कही।
थाना प्रभारी ने प्राइवेट एंबुलेंस बुलाकर उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया। उन्होंने बताया कि बुजुर्ग दंपति बीमार थे। लिहाजा दोनों को अस्पताल में भर्ती करा दिया। दवाइयां आदि अन्य देखरेख के लिए दो पुलिस कर्मियों को जिम्मेदारी दे दी है। उनके भोजन की व्यवस्था की थाना की मेस में करा दी है।
... और पढ़ें

पति पर दहेज उत्पीड़न की रिपोर्ट दर्ज

जागरुकता के साथ जरूरतें पूरी कराएगी वार्ड समिति

इटावा। कोरोना संक्रमण के प्रति लोगों को जागरूक करने और जरूरत का सामान घरों तक पहुंचने के लिए हर वार्ड में समितियां बनाई जा रही हैं। सभासद की अगुवाई में बननी वाली इन समितियों में राजस्व, पुलिस, नगर पालिका, समाजसेवी संगठन, नामित वालंटियर के अलावा एक मान्यता प्राप्त पत्रकार को भी शामिल किया जाएगा।
एसडीएम सदर सिद्धार्थ ने बताया कि इटावा नगर पालिका के सभी 40 वार्ड में कमेटियां गठित होंगी। ये कमेटियां अपने अपने वार्ड में राशन, फल, सब्जी, दवाई की दुकानों पर सोशल डिस्टेंस बना रहे और लोगों को उनके घर पर ही सामान मिले इसका ख्याल रखेंगे। राशन की दुकान पर कालाबाजारी व जमाखोरी रोकने में प्रशासन की मदद की भी जिम्मेदारी होगी। वार्ड के निराश्रित, असहाय, जरूरतमंद लोगों की सूची तैयार कर उनके लिए कम्यूनिटी किचन से भोजन की उपलब्धता सुनिश्चित करेगी। इसके अलावा समिति में शामिल लोग वार्ड में प्रदेश के दूसरे शहरों, दूसरे राज्यों और विदेशों से आए लोगों की जानकारी जुटाएंगी। वार्ड में होम आइसोलेट परिवार की मॉनिटरिंग भी यह टीमें करेंगी। सभी कमेटी पूर्णता निशुल्क व सामाजिक सेवा प्रदाता के रूप में निशुल्क काम करेंगी।
... और पढ़ें

घर में खुश, कोई बढ़ रहा धार्मिक पुस्तक, कोई देख रहा टीवी

इटावा। लॉकडाउन के दौरान जागरूक लोग घर में खुश हैं। धार्मिक पुस्तकें, टीवी देखकर समय व्यतीत कर रहे हैं। हम सभी को सरकार का साथ देना होगा।
शिक्षक अवधेश भदौरिया का कहना है कि सालों बाद अब परिवार के साथ समय बिताने का अवसर मिला है। दूरदर्शन पर 33 साल बाद धारावाहिक रामायण शुरू होने से नई पीढ़ी को सीख मिलेगी कि संस्कार कैसे हों। लोगों से अपील की कि वह भी लॉक डाउन में घरों से बाहर न निकलें।
छिपैटी निवासी अरविंद दीक्षित का कहना है कि वह घर में रहकर पूरा संयम बरत रहे हैं। बच्चों को भी घर से नहीं निकलने दे रहे हैं। सुबह-शाम मातारानी की पूजा अर्चना और पाठ कर रहे हैं। रामायण धारावाहिक शुरू होने पर कहा कि इसे देखने पर बच्चों में पारिवारिक संस्कार आएंगे। लिहाजा उन्होंने बच्चों के साथ धारावाहिक देखा।
घटिया अजमत अली निवासी एवं समाजसेवी राजेश दीक्षित का कहना है लॉक डाउन की वजह से वह अपने आश्रम को पूरा समय दे पा रहे हैं। दिन में गीता पढ़ने में समय बिता रहे हैं।
फोटो संख्या 05: अरविंद दीक्षित
फोटो संख्या 05: अरविंद दीक्षित- फोटो : ETAWHA
फोटो संख्या 06: राजेश दीक्षित
फोटो संख्या 06: राजेश दीक्षित- फोटो : ETAWHA
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Redwood global school 6x8 col

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us