नगला लाले में पुलिस, पीएसी तैनात

Etawah Updated Sat, 06 Oct 2012 12:00 PM IST
सैफई (इटावा)। सैफई थाना क्षेत्र के ग्राम नगला लाले में हुए दोहरे हत्याकांड में फिलहाल पुलिस किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की सात टीमों को लगा दिया गया है। संभावित स्थानों में लगातार दबिश दी जा रही हैं। गांव में सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस व पीएसी को तैनात कर दिया गया है।
बताते चलें कि गुरुवार की सुबह खेतों में पानी लगाने को लेकर चले आ रहे विवाद में दो चचेरे भाई सुनील उर्फ चंद्रपाल तथा राजवीर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस घटना के संबंध में मृतक राजवीर के भाई जयवीर ने गांव के ही सुरेंद्र सिंह यादव, सतेंद्र यादव, बीरेंद्र यादव, दिनेश यादव, अवनीश यादव, प्रमोद यादव, अनिल यादव व दिवारीलाल के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। गांव में हुए इस दोहरे हत्याकांड को लेकर भय का माहौल है।
चूंकि गुरुवार को ही सैफई महोत्सव पंडाल में कन्या विद्या धन व बेरोजगारी भत्ता वितरण समारोह का कार्यक्रम था लिहाजा पुलिस व पीएसी फोर्स वहीं पर तैनात था। कार्यक्रम के शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हो जाने के बाद शाम को पुलिस के आला अफसरों ने इस दोहरे हत्याकांड की सुध ली। हत्यारोपी दबंगों के आतंक को देखते हुए देर शाम गांव में पुलिस व पीएसी तैनात की गई। जिसकी तैनाती शुक्रवार को भी रही। दोनों मृतकों के शवों का अंतिम संस्कार गुरुवार की देर शाम को ही कर दिया गया था। शाम को आला अफसरों ने इस जघन्य वारदात की सुध लेते हुए हत्यारोपियों की गिरफ्तारी के लिए सात टीमों का गठन किया। पांच टीमें थाना स्तर से और दो टीमें सीओ स्तर से बनाई गई है। संभावित स्थानों पर लगातार दबिश दी जा रही है।

योजनाबद्ध थी पूरी वारदात
हमलावर जानते थे कि सीएम के कार्यक्रम के चलते पुलिस व प्रशासनिक अमला वहां बिजी रहेगा। अफसर तब तक उलझे रहेंगे जब तक कार्यक्रम नहीं हो जाएगा। यही सोचकर हमलावरों ने सुबह का समय चुना और हत्या करने के बाद फरार होने के लिए उन्हें भरपूर अवसर मिल गया। यदि कार्यक्रम न होता तो शायद जिले की पुलिस सक्रियता बरतते हुए उनमें से एक दो आरोपियों को पकड़ भी लेती।

हालचाल लेने पहुंचे सिर्फ ब्लाक प्रमुख
सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव व पीडब्लूडी मंत्री शिवपाल सिंह यादव शुक्रवार की दोपहर तक जिले में ही बने रहे। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव शुक्रवार को दुबारा से सैफई आए लेकिन कोई भी मंत्री या नेता परिजनों को सांत्वना देने नहीं पहुंचे। शुक्रवार को जरूर ब्लाक प्रमुख तेजप्रताप यादव उर्फ तेजू नगला लाले पहुंचे और मृतक के परिजनों को सांत्वना दी और आश्वस्त किया कि जल्द ही हत्यारोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा।

Spotlight

Most Read

Shimla

कांग्रेस के ये तीन नेता अब नहीं लड़ेंगे चुनाव, चुनावी राजनीति से लिया संन्यास

पूर्व मंत्री एवं सांसद चंद्र कुमार, पूर्व विधायक हरभजन सिंह भज्जी और धर्मवीर धामी ने चुनाव लड़ने की सियासत को बाय-बाय कर दिया है।

17 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में शौचालय भी हुए भगवा, पूर्व सीएम अखिलेश ने ली चुटकी

इटावा के एक गांव में बन रहे शौचालयों को भगवा रंग में रंगा जा रहा है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत बन रहे 350 शौचालयों में से सौ शौचालयों को भगवा में रंगा जा चुका है।

13 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper