जगह जगह फूंके गए सोनिया-मनमोहन के पुतले, ट्रेनें रोकीं

Etawah Updated Fri, 21 Sep 2012 12:00 PM IST
इटावा। केंद्र सरकार के खिलाफ लोगों में आया उबाल गुरुवार को सड़कों पर उतराता दिखा। एफडीआई के साथ साथ डीजल में हुई मूल्यवृद्धि एवं रसोई गैस के लिए लागू की गई राशनिंग व्यवस्था के विरोध में शहर में भारत बंद का असर अभूतपूर्व रहा। कहीं भी कोई दुकान नहीं खुली। लोग चाय, पान के लिए भी तरस गए। भाजपा, सपा, माकपा के साथ व्यापार मंडल ने सड़कों पर धरना-प्रदर्शन किया। दोनों दलों ने करीब 20 मिनट तक शताब्दी एक्सप्रेस को रोके रखा। कई स्थानों पर चक्का जाम भी किया गया। यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के पुतले तो जगह-जगह फूंके गए। बंद के चलते जिले में करीब 100 करोड़ से अधिक का कारोबार प्रभावित हुआ। विपक्षी दलों ने प्रधानमंत्री से इस्तीफा देने की भी मांग की।

भाजपाइयों ने रोकी शताब्दी
गुरुवार की सुबह भाजपाई पार्टी कार्यालय पर एकत्र हुए। जिला संयोजक गोपाल मोहन शर्मा, पूर्व विधायक अशोक दुबे क ी अगुवाई में पार्टी नेता व कार्यकर्ता बाजार बंद कराने के लिए सड़कों पर निकल पड़े। भाजयुमो जिलाध्यक्ष विवेक भदौरिया की अगुवाई में युवाओं की टीम भी बंद को सफल बनाने निकली। इसके बाद भाजपाई रेलवे स्टेशन पहुंचे। प्लेटफार्म नं. तीन पर दिल्ली से लखनऊ जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस आकर खड़ी हुई थी। सैकड़ों की संख्या में भाजपाई ट्रेन के आगे डट गए और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। कुछ इंजन पर चढ़ गए। सूचना पर आरपीएफ व जीआरपी मौके पर पहुंची। काफी मशक्कत के बाद भाजपाइयों को ट्रैक पर से हटाया जा सका। इस कारण शताब्दी करीब दस मिनट खड़ी रही। प्रदर्शन में पूर्व विधायक केके राज, विवेक रंजन गुप्ता, हरीनारायण वाजपेई, कृपानारायण तिवारी, शिवप्रताप राजपूत, राजेंद्र गुप्ता, अनुरुद्ध गुप्ता, राजू दुबे, विकास भदौरिया, गगन चतुर्वेदी, पुत्तन भदौरिया, जितेंद्र जैन हैप्पी आदि भाजपाई शामिल रहे।

सपाइयों ने हाइवे किया जाम
बंद का समर्थन उप्र का सत्तासीन दल समाजवादी पार्टी भी कर रही है। मानिकपुर मोड़ पर सपा युवा नेता टोनी यादव के नेतृत्व में युवाओं ने सुबह करीब 9:30 बजे चक्का जाम कर दिया। इससे दोनों ओर से वाहनों का आवागमन अवरुद्ध हो गया। बाद में युवाओं ने वहां प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का पुतला फूंक दिया। इकदिल थाना पुलिस ने उन्हें समझा बुझाकर जाम खुलवाया। करीब एक घंटे तक चक्का जाम रहा। वैदपुरा में भी सपाइयों ने इटावा-मैनपुरी मार्ग पर चक्का जाम किया और सोनिया गांधी व मनमोहन सिंह का पुतला फूंका। अपराह्न 3:00 बजे हाइवे पर तुलसी अड्डा और प्रभू अड्डा के समीप चक्का जाम किया गया। नगर पालिका चौराहे पर सभा हुई। कुलदीप यादव, संतोष यादव, धर्मेंद्र, कन्हैया आदि की अगुवाई में जाम लगाए गए। युवा कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री का पुतला फूंककर नारेबाजी की। रेलवे स्टेशन पर शताब्दी के आगे ट्रैक पर डटे भाजपाइयों को पुलिस हटा ही पाई थी कि सपाइयों ने आकर ट्रेन को रोक दिया। सपाइयों ने भी करीब दस मिनट तक ट्रेन को रोके रखा।

माकपाइयों ने प्रदर्शन किया
भारत बंद के आंदोलन में माकपा भी पीछे नहीं रही। माकपा नेता मुकुटसिंह, जिलामंत्री अमरसिंह शाक्य, प्रेमशंकर यादव क ी अगुवाई में माकपाइयों ने पूरे शहर की सड़कों पर दोपहिया वाहनाें और पैदल जुलूस निकाला। हालांकि बाजार पूरी तरह से बंद थे फिर भी यदा कदा कहीं दुकान खुली मिली तो आग्रह के साथ उसको भी बंद करा दिया। प्रदर्शन के दौरान माकपाई केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते रहे।

व्यापार मंडल ने धरना दिया
बाजार बंदी को लेकर व्यापारिक संगठन भी पूरी तरह से सक्रिय दिखे। एफडीआई को लेकर व्यापारियों में खासा आक्रोश रहा। अपने प्रतिष्ठान बंद करके व्यापारिक संगठनों ने धरना दिया। उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के प्रदेश उपाध्यक्ष सर्वेश चौहान के नेतृत्व में सिंधी मार्केट में धरना दिया गया। यहां जिला महामंत्री सदाशिव श्रीवास्तव, नगर अध्यक्ष गुरुभेज सिंह भेजा, प्रदेश सचिव सीपू चौधरी, सुनील जैन, इरशाद अली टिंकू, युवा अध्यक्ष डा. आशीष दीक्षित, गोरखनाथ वर्मा, रविशंकर अग्रवाल आदि ने केंद्र सरकार की आलोचना की। वहीं होमगंज सर्राफा बाजार में सर्राफा व्यवसायियों ने सभा करके विरोध व्यक्त किया। इसमें श्यामसिंह वर्मा, ईश्वरदयाल वर्मा, नरेंद्र नाथ वर्मा, राजीव चंदेलवाल, मनोज यादव आदि मौजूद रहे।

युवाओं ने काले वाहन जुलूस निकाला
युवा नेता अनुज दीक्षित अन्नू की अगुवाई में युवाओं ने दो पहिया वाहनों पर काले झंडे लगाकर शहर की सड़कों पर प्रदर्शन किया और बाजार बंद कराए। उनके साथ शामिल रहे युवाओं में गिरधर दीक्षित, अर्जुन सेंगर, पिंकू राजावत, भल्लू ठाकुर, अंशु दुबे, हासिम कुरैशी, श्याम, दीपू, गुड्डू, अमित, विकास, वीटू, चंदू, सानू, अमित जाधव आदि शामिल रहे।

हिंदुस्तान हिंदू पार्टी भी पीछे नहीं रही
एफडीआई के विरोध में आयोजित भारत बंद का समर्थन करते हुए हिंदुस्तान हिंदू पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष केपीडी श्यामदास व मंत्री कमलेश प्रेमी ने राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा। इसमें एफडीआई सहित डीजल व रसोई गैस की बढ़ी कीमतों को वापस लिए जाने के साथ साथ कई अन्य मांगे भी उठाई गईं।

व्यापार सभा ने भी किया प्रदर्शन
समाजवादी व्यापार सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष बीरेंद्र सिंह वर्मा लालू व जिलाध्यक्ष मनीष जैन के नेतृत्व में व्यापार सभा के पदाधिक ारियों व व्यापारियों ने शहर की सड़कों पर प्रदर्शन किया और नगर पालिका चौराहा पर सपा के धरना सभा में उपस्थिति दर्ज कराई। प्रदर्शन में सर्वेश चौहान, रंजीत सिंह कुशवाहा, गणेश प्रसाद अग्रवाल, इंदू भदौरिया, विशंभर यादव, राजा छाबड़ा, अजमत अली आदि शामिल रहे।

फुटपाथ दुकानदारों ने दिया ज्ञापन
उप्र फुटपाथ दुकानदार/लघु व्यापारी कल्याण महासंघ नासवी ने भी खुदरा कारोबार में विदेशी कंपनियों को लाने के फैसले क ा विरोध किया और राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन भेजा। ज्ञापन में कहा गया कि देश की 80 फीसदी आबादी के मध्यमवर्गीय व किसान है। साढ़े तीन करोड़ से अधिक रेहडी पटरी, खोखा, खोमचा, फेरी लगाकर जीविका के लिए संघर्ष कर रहे हैं। महंगाई की मार सबसे ज्यादा इन्हीं पर पड़ती है। यह ज्ञापन संगठन के संरक्षक इरशाद अहमद ने भेजा।

छात्र सभा ने फूंका पीएम का पुतला
समाजवादी छात्रसभा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व में छात्रों ने शास्त्री चौराहा पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का पुतला फूंका। इस दौरान शेखर पारासर, रॉकी तोमर, अमित पवार, रवि यादव, मोहित यादव, रवि शाक्य, अंबुज सक्सेना, शानू राइनी आदि शामिल रहे। वहीं सपा युवजन सभा के जिलाध्यक्ष सुनील यादव के नेतृत्व में बाजार बंद कराए गए। उनके साथ संजू चौधरी, आदित्य तिवारी, संजू राजपूत, अंशु पांडे, शैलू चौबे आदि शामिल रहे।

अधिवक्ता भी कार्य से रहे विरत
महंगाई के विरोध में राष्ट्रव्यापी हड़ताल के चलते डीबीए अध्यक्ष चंद्रशेखर प्रसाद सिंह व महामंत्री रमाकांत चतुर्वेदी के नेतृत्व में अधिवक्ता न्यायिक कार्य से विरत रहे। जुलूस निकालकर शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में रामसेवक, राहुल शाक्य, हंसमुखी, शशांक शेखर यादव, राजेश यादव, मैराज अली खान, रामशरन यादव शामिल रहे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी पुलिस भर्ती को लेकर युवाओं में जोश, पहले ही दिन रिकॉर्ड रजिस्ट्रेशन

यूपी पुलिस में 22 जनवरी से शुरू हुआ फॉर्म भरने का सिलसिला पहले दिन रिकॉर्ड नंबरों तक पहुंच गया।

23 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में शौचालय भी हुए भगवा, पूर्व सीएम अखिलेश ने ली चुटकी

इटावा के एक गांव में बन रहे शौचालयों को भगवा रंग में रंगा जा रहा है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत बन रहे 350 शौचालयों में से सौ शौचालयों को भगवा में रंगा जा चुका है।

13 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper