आखिर पकड़ लिया गया सिकंदर

Etawah Updated Sun, 29 Jul 2012 12:00 PM IST
इटावा। राह चलते लोगों को लूटने वाला शातिर सिकंदर आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया। शिक्षक के साथ हुई लूट की वारदात के बाद से पुलिस उसकी सरगर्मी से तलाश कर रही थी। शुक्रवार की रात सिविल लाइन पुुुलिस ने उसे मुठभेड़ के बाद दबोच लिया। उसके तीन साथी भी पुलिस के हाथ लग गए हैं। पुलिस ने एक पिस्टल, 15 बाइकें और लूट के दो हजार रुपए बरामद किए हैं। इस बीच उसके तीन साथी भाग जाने में सफल रहे।
पकड़े गए शातिर लुटेरा सिकंदर व उसके साथियों को पत्रकारों के समक्ष प्रस्तुत करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक ऋषिपाल सिंह ने बताया कि बुधवार की शाम को शिक्षक के साथ हुई लूट की घटना के बाद से एसएसपी ने एसओजी व सिविललाइन थाना पुलिस को लुटेरों को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए थे। वैदपुरा थाना पुलिस को लूट में शामिल एक लुटेरे को पकड़ने में सफलता मिली तो अन्य लुटेरों के नाम प्रकाश में आए जिसमें सरगना सिकंदर को बताया गया।
उन्होंने बताया कि लुटेरों के नाम प्रकाश में आने के बाद से एसओजी, सिविललाइन व वैदपुरा थाना पुलिस उनकी तलाश में जुट गई। शुक्रवार की रात को मुखबिर द्वारा सिविललाइन थानाध्यक्ष शैलेंद्र सिंह को सूचना मिली कि सुदिति ग्लोबल स्कूल के पास कुछ लोग बाइकों को बेचने के फिराक में हैं। एसओ सिविललाइन ने इस सूचना से एसओजी टीम को भी अवगत कराया और दरोगा मातापाल सिंह के साथ फोर्स को लेकर मुखबिर द्वारा बताए गए स्थान पर पहुंच गए। पुलिस टीम ने लुटेरों की घेराबंदी की तो खतरा भांप लुटेरों ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग शुरू कर दी। इधर से पुलिस ने भी फायरिंग की।
पुलिस टीम ने चार लोगों को दौड़ाकर गिरफ्तार कर लिया। मौके से सात बाइकें बरामद की गईं। पूछताछ में पकड़े गए लोगों ने अपने नाम अखिल उर्फ अखिलेश उर्फ सिकंदर पुत्र संदेश यादव निवासी कुनैरा वैदपुरा, विनय कुमार पुत्र पन्नालाल निवासी नगला श्यामलाल भरथना, रिंकू धोबी पुत्र आशाराम निवासी यशोदानगर, राहुल पुत्र लल्लू वर्मा निवासी पुरबियाटोला बताए। सिकंदर के कब्जे से पुलिस ने एक पिस्टल व कारतूस बरामद किए। पकड़े गए लुटेरों की निशानदेही पर पुलिस ने आठ बाइकें और बरामद की हैं। एएसपी ने बताया कि सिकंदर के पास से शिक्षक से लूटी गई रकम के दो हजार रुपए भी बरामद हुए। मुठभेड़ के दौरान भाग जाने में शामिल रहे लुटेरों में जगदीश निवासी सूतमिल, गौरव यादव व मनोज निवासी शांतीकालोनी हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है।

सिकंदर कई जनपदों में वांछित
गैंग के सरगना सिकंदर ने पिछले दिनों एक बसपा नेता की पिस्टल छीन ली थी और उसी दिन लूट की तीन वारदातों को अंजाम दिया। एएसपी ने बताया कि सिकंदर गैंग का सरगना है और इस गैंग ने इटावा ही नहीं फिरोजाबाद, मैनपुरी, भिंड, आगरा आदि जिलों में भी लूट की घटनाएं कीं। उसके खिलाफ इटावा जनपद के वैदपुरा, जसवंतनगर, सिविललाइन में हत्या, लूट, हत्या का प्रयास, गैंगेस्टर आदि के एक दर्जन मामले दर्ज हैं।

एसओ वैदपुरा पर किया था फायर
बुधवार को शिक्षक जयप्रकाश के साथ हुई लूट की वारदात पर पहुंचे वैदपुरा थानाध्यक्ष दीपकुमार सोनी को जब इस वारदात में सिकंदर के शामिल होने की जानकारी हुई तो वह उसकी गिरफ्तारी के लिए कुनैरा पहुंचे और उसके घर पर दबिश दी। दबिश की जानकारी मिलने पर उसने पहले तो फोन पर थानाध्यक्ष को धमकी दी, बाद में फायर भी किया। उसके इस वार से एसओ बाल-बाल बच गए।

रिंकू धोबी है वाहन चोर गैंग का सरगना
पकड़ा गया रिंकू धोबी भी कम शातिर नहीं है। एएसपी ने बताया कि वह वाहन चोर गैंग का सरगना है। लोगों की बाइकों को चुराने के बाद उनको ठिकाने लगाने में रिंकू ही अहम भूमिका निभाता है। उसके खिलाफ सिविललाइन, इकदिल व कोतवाली में एक दर्जन मामले दर्ज हैं। इसके अलावा राहुल उर्फ कबूतर शातिर चेन स्नैचर है। उसके खिलाफ भी आधा दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि पकड़े गए सभी शातिर अपराधी हैं। इनके पकड़े जाने से अपराधों पर अंकुश लगेगा।

Spotlight

Most Read

Bareilly

बच्चो! 100 रुपये में स्वेटर खा लो

नकारा सिस्टम सरकारी योजनाओं को तो पलीता लगाता ही है, उसे गरीब बच्चों से भी कोई हमदर्दी नहीं है। सर्दी में बच्चों को स्वेटर बांटने की व्यवस्था ही देख लीजिए..

20 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में शौचालय भी हुए भगवा, पूर्व सीएम अखिलेश ने ली चुटकी

इटावा के एक गांव में बन रहे शौचालयों को भगवा रंग में रंगा जा रहा है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत बन रहे 350 शौचालयों में से सौ शौचालयों को भगवा में रंगा जा चुका है।

13 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper