सिविल लाइन की बत्ती गुल रही

Etawah Updated Wed, 04 Jul 2012 12:00 PM IST
इटावा। सिविल लाइन एरिया शहर का वीआईपी इलाका माना जाता है। सोमवार की रात और मंगलवार का पूरा दिन यहां के बाशिंदे बिजली पानी की आपूर्ति न होने से त्राहि त्राहि कर कर उठे। दरअसल यहां स्थापित 100 केवीए का ट्रांसफार्मर सोमवार रात्रि करीब 9 बजे खराब हो गया था, जिसकी मरम्मत मंगलवार शाम 7 बजे तक नहीं हो सकी। करीब 22 घंटे तक इस क्षेत्र के बाशिंदे भीषण गर्मी से बिलबिला उठे। सुबह के समय तो पानी के लाले पड़ गए। क्षेत्र में हैंडपंप न होने से लोग दैनिक क्रिया से भी निवृत्त नहीं हो सके। ऐसी ही दयनीय स्थिति से लालपुरा क्षेत्र के लोग गुजरे। यहां का भी ट्रांसफार्मर क्षतिग्रस्त हो गया, जिसे मंगलवार को देर शाम तक नहीं बदला जा सका।
सिविल लाइन एरिया के एक हिस्से में लगातार 22 घंटे बिजली न आने से क्षेत्र में पेयजल संकट भी गहरा गया तो दूसरी तरफ जान को हलकान करने वाली भीषण गर्मी ने घर के अंदर रहना मुश्किल कर दिया। लोगों के लिए रात काटना दुश्वार हो गया।
लोगों के अनुसार छोटे बच्चों की हालत सबसे अधिक खराब रही। बेचैनी के साथ जैसे तैसे रात्रि कटी तो सुबह पानी की किल्लत खड़ी हो गई। बिजली न होने से सबमर्सिबल पंप भी शोपीस बने रहे। आसपास के अन्य क्षेत्रों से पानी भरकर लाना पड़ा। क्षेत्र के एसडीओ मोहन सिंह का कहना रहा कि चूंकि रात के समय ट्रांसफार्मर खराब हुआ। इसलिए रात का वक्त बेकार गुजर गया। सुबह होते ही काम शुरू कर दिया गया। शाम 5 बजे ट्रांसफार्मर रखवा दिया गया। इसी प्रकार लालपुरा मोहल्ला में भी ट्रांसफार्मर बदलवाया गया है। समाचार लिखे जाने तक किसी भी क्षेत्र में बिजली आपूर्ति शुरू नहीं हुई थी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में शौचालय भी हुए भगवा, पूर्व सीएम अखिलेश ने ली चुटकी

इटावा के एक गांव में बन रहे शौचालयों को भगवा रंग में रंगा जा रहा है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत बन रहे 350 शौचालयों में से सौ शौचालयों को भगवा में रंगा जा चुका है।

13 जनवरी 2018