मतपेटियों में डाला पानी और लूटे मतपत्र

Etawah Updated Mon, 25 Jun 2012 12:00 PM IST
इटावा। मुख्यमंत्री के गृह जनपद में नाक का सवाल बना नगर निकाय चुनाव दिन भर चले हाई वोल्टेज ड्रामा के बीच हुआ। कई मतदान केंद्रों पर नगर पालिका अध्यक्ष पद व सभासद पद के प्रत्याशियों के समर्थकों के बीच झड़प तो कहीं मारपीट हुई। एक बूथ पर सभासद प्रत्याशी के समर्थक ने मतपेटिका में पानी डाल दिया। यहां पर डीएम ने पुनर्मतदान की घोषणा की। एक अन्य बूथ पर अराजकतत्वों ने मतदान कार्मिकों की पिटाई कर बूथ लूट लिया। यहां कुछ बैलेट पेपर फाड़ दिए तो कुछ अपने साथ ले गए। यहां पहुंचे चुनाव आब्जर्वर ने मामले की जांच की बात कही है। इसके बाद शुरू हुआ अफवाहों का सिलसिला थमने का नाम नहीं लिया। मारपीट, बूथ कैप्चरिंग समेत अन्य सूचनाओं से पुलिस प्रशासन की टीमें हलाकान बनी रहीं। जिले के सभी छह निकाय क्षेत्रों में कुल 49.45 फीसदी मतदान हुआ।
रविवार को सुबह से ही मौसम में कुछ नरमी थी। मौसम के राहत भरे मिजाज के बीच मतदाताओं ने जमकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। सुबह 9 बजे तक 13 फीसदी मतदान हो चुका था। इसके बाद कई मतदान केंद्रों पर विवाद की स्थितियां उत्पन्न हुईं। प्राथमिक विद्यालय सती मोहल्ला मतदान केंद्र पर सभासद प्रत्याशियों के बीच विवाद के चलतेे मतपेटिका में पानी डाल दिया गया। वीणा वादिनी इंटर कालेज मतदान केंद्र पर कुछ लोगों ने बूथ में घुस कर मतदान कार्मिकों के साथ मारपीट की। कुछ मतपत्रों पर मुहर लगाकर मतपेटिका में डाल दिए तो कुछ मतपत्र फाड़ दिए। बचे मतपत्र मय मोहर के लूट ले गए। यहां सात में से पांच बूथों पर मतदान बंद रहा। इस मतदान केंद्र पर काफी संख्या में मतपत्र फटे पड़े पाए गए। इसी तरह मतदान केंद्र प्राथमिक विद्यालय शांती कालोनी में भी अराजकतत्वों ने बवाल काटा। यहां भी मत्रपत्रों की छीनाझपटी हुई। वोट पड़ने के बाद पीठासीन पर सुरक्षित रहने वाले हिस्से की चार प्रतियां बूथ के बाहर पड़ी पाई गईं। इस तरीके से हुई घटनाओं में पुलिस कर्मी मूकदर्शक बने रहे। सभी निकाय क्षेत्रों में मतदाताओं को ढोने के लिए वाहन भी जमकर चले। जिले के सभी छह निकाय क्षेत्रों में अपराह्न तीन बजे तक 42 फीसदी व शाम पांच बजे तक 49.45 फीसदी मतदान हो चुका था। 115 बूथ पर 26 जून हो रीपोल होगा।
पिछले दिनों भीषण गर्मी को देखते हुए 86 बूथों पर छाया के प्रबंध करने के निर्देश दिए गए थे। लेकिन शहर के बूथों पर यह प्रबंध नजर नहीं आए। हालांकि इसकी भरपाई काफी हद तक मौसम के रुख में आए बदलाव ने पूरी कर दी थी। सुबह से ही तेज हवा के चलने से लोगों को काफी राहत मिली। लिहाजा सुबह से ही बूथों पर लोगों की कतारें दिखने लगीं।
सभासद पद के प्रत्याशियाें ने घर से वोट निकलवाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। कार, जीप, टेंपू, रिक्शा और बाइक के जरिए वोटर बेरोकटोक लाए जाते रहे। मुन्नी का अड्डा, शीतलपुर के वोटर मतदान केंद्रों की व्यवस्था से झल्लाते दिखे। एक ही परिवार के सदस्यों को अलग अलग मतदान केंद्रों पर जाकर वोट डालना पड़ा। मुहल्ले के हिसाब से मतदान केंद्रों के निर्धारण में भी खामियां रहीं। वैजल कालोनी केे लोगों को महाराणा प्रताप जूनियर हाईस्कूल में वोट डालने जाना पड़ा। उधर दिनभर अफवाहों का दौर चलता रहा। बूथ कैप्चरिंग, मारपीट व गोली चलने की अफवाह से पुलिस व प्रशासन के अफसर परेशान रहे। हालांकि पुलिस-प्रशासन की गाड़ियां दिन भर दौड़ती रहीं। शास्त्री चौराहा व छैराहा से वन वे ट्रैफिक लागू रहा। शास्त्री चौराहा की बजाय एसडी फील्ड और छैराहा की जगह यमुना घाट रोड से वाहनों को गुजरने दिया गया। डीएम पीगुरु प्रसाद व एसएसपी राजेश मोदक लाव लश्कर के साथ राउंड लगाते दिखे। दोपहर एक बजे तक 41.21 फीसदी मतदान हो चुका था। इसके बाद मतदान की रफ्तार काफी धीमी पड़ गई। दो घंटे में मतदान प्रतिशत 42 फीसदी तक हो पाया।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

14 साल के इस बच्चे ने कराई चार कैदियों की रिहाई, दान में दी प्राइज मनी

14 साल के आयुष किशोर ने चार कैदियों की रिहाई के लिए दान कर दी राष्ट्रपति से मिली प्राइज मनी।

22 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में शौचालय भी हुए भगवा, पूर्व सीएम अखिलेश ने ली चुटकी

इटावा के एक गांव में बन रहे शौचालयों को भगवा रंग में रंगा जा रहा है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत बन रहे 350 शौचालयों में से सौ शौचालयों को भगवा में रंगा जा चुका है।

13 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper