बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

सजने लगे माता रानी के दरबार

Etawah Updated Mon, 15 Oct 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
इटावा। मंगलवार से शुरू हो रहे शारदीय नवरात्र को लेकर जिले भर में मातारानी के दरबार सजने लगे हैं। शहर के प्रमुख मंदिरों में आयोजन को लेकर साफ-सफाई व रंगाई पुताई के साथ मातारानी के शृंगार को अंतिम रूप देने में कारीगर दिनरात जुटे हैं। जगह-जगह नवदुर्गा महोत्सव सहित विभिन्न कार्यक्रमों के लिए पंडाल सज रहे हैं। वहीं बाजारों में भी पूजन सामग्री की दुकानें सज गईं हैं। मंदिरों में उमड़ने वाली भारी भीड़ को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस प्रशासन ने भी सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम कर लिए हैं।
विज्ञापन

सजधज के तैयार हुआ कालीवाहन मंदिर
शहर के पास यमुना के तट पर स्थित सिद्धपीठ कालीवाहन मंदिर में तैयारियों को अंतिम रूप देने में कारीगर जुटे हैं। मंदिर की रंगाई पुताई के साथ मातारानी का शृंगार किया गया है। रंगबिरंगी लाइटों से मंदिर परिसर की सजावट की गई है। रविवार को नगर पालिका चेयरमैन कुलदीप गुप्ता संटू ने मंदिर परिसर के चारों ओर साफ सफाई कराई। पालिका की ओर से भक्तों के लिए स्नानगृह का निर्माण कराया गया है। मंदिर में सुरक्षा की दृष्टि से पीएसी जवानों के साथ पुलिस व महिला पुलिस के जवान तैनात रहेंगे। मंदिर परिसर में लगने वाले मेले में दुकानदारों ने दुकानें सजा ली हैं। इस मंदिर में प्रतिवर्ष जिले सहित आसपास के जनपदों से लाखों की संख्या में भक्त आकर मातारानी के दर्शन करते हैं।

ब्राम्हाणी देवी मंदिर में तैयारी पूरी
जसवंतनगर क्षेत्र में स्थित प्राचीन ब्राम्हाणी देवी मंदिर में भी नवरात्र को लेकर तैयारियां पूरी कर ली गईं हैं। मंदिर परिसर में दुकानें सजकर तैयार हो चुकीं हैं। वहीं मंदिर परिसर की रंगाई पुताई व साफ सफाई का कार्य भी पूरा हो गया है। बीते दिनों नवरात्र के समय हुई अप्रिय घटना को दृष्टिगत रखते हुए इस वर्ष पुलिस प्रशासन द्वारा सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।
कालिका मंदिर पर जुटेंगे लाखों श्रद्धालु
जिले के लखना कस्बे में स्थित सिद्धपीठ कालिका देवी मंदिर में हरवर्ष लाखों की संख्या में दूर-दूर से श्रद्धालु आकर पूजा अर्चना करते हैं। नवरात्र को लेकर मंदिर प्रशासन तैयारियों में जुटा हुआ है। मंदिर परिसर की साफ सफाई के साथ अन्य तैयारियां पूरी कर लीं गईं हैं। यह जिले का एक मात्र ऐसा मंदिर है जहां पर धर्म, जाति-पांत कोई मायने नहीं रखती है। क्योंकि देवी मां की मूर्तियों के बगल में ही सैयद बाबा की मजार है। बिना मजार पर माथा टेके देवी मां के दर्शन पूरे नहीं होते हैं। इस मंदिर का पुजारी अनुसूचित जाति का होता है। इस मंदिर में भी नवरात्र के समय विशाल मेले का आयोजन किया जाता है।
अन्य मंदिरों में भी तैयारियां जोरों पर
जिले के अन्य छोटे-बड़े देवी मंदिरों में भी नवरात्र को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं। शहर के कालबाडी मंदिर में भी नवरात्र को लेकर विशेष पूजा अर्चना की तैयारी की गई है। इसी के साथ अन्य मंदिरों में भी नवरात्र की तैयारियां जोरदारी से चल रहीं हैं।
कलश यात्रा के साथ शुरू होगा दुर्गा महोत्सव
भरथना (इटावा)। शारदीय नवरात्रि के कार्यक्रम पर जगत जननी मां दुर्गा के नौ रूपों के दर्शन के लिए नवदुर्गा पूजा समिति भरथना ने सारी तैयारी पूर्ण कर ली हैं। महोत्सव के लिए पंडाल सजाया जा रहा है। यह जानकारी समिति के अध्यक्ष विश्नू पोरवाल, महामंत्री सुनील शारदा व कोषाध्यक्ष रामचंद्र पोरवाल ने वार्ता के दौरान दी।
पदाधिकारियों ने बताया कि 6 अक्तूबर को 108 कलशों की शोभा यात्रा निकाली जाएगी। सत्तमी, अष्टमी व नवमी के दिन भक्तों की संख्या अधिक होती है। इसलिए उस दिन मां के दर्शन टीवी स्क्रीन के माध्यम से कराए जाएंगे। समिति के सरंक्षक श्रीकृष्ण पोरवाल ने बताया कार्यक्रम में नौ दिनों तक लगातार हवन पूजन कार्यक्रम भी होगा। भीड़ जुटने के बाद भी पुलिस नहीं लगाई जाती है। उन्हाेंने जिला प्रशासन से पुलिस लगाए जाने की मांग की है। इस दौरान पं. शीतल अवस्थी, श्याम सुंदर चौरसिया, चेतन पोरवाल, रुप किशोर गुप्ता उर्फ रुपे, अरुण कुमार पोरवाल, प्रदीप गुप्ता, मुकेश जैन, विनोद पोरवाल आदि उपस्थित रहे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X