अब तक 2000 को कन्या विद्या धन

Etawah Updated Thu, 11 Oct 2012 12:00 PM IST
इटावा। जनपद में अभी बहुत बड़ी संख्या में छात्राएं कन्या विद्या धन योजना का लाभ पाने के लिए आशान्वित हैं। जनपद में 7002 आवेदनों में से सीएम के कार्यक्रम तक 2263 पात्र चुन लिए गए थे। जिनमें से 2000 छात्राओं को सीएम के कार्यक्रम में चेक मिल गई है। 263 छात्राएं चेक की आस में डीआईओएस कार्यालय के चक्कर काट रही हैं। इन्हें बजट आने तक इंतजार करने को कहा जा रहा है।
जनपद में कन्या विद्याधन योजना के लिए आए आवेदनों में 182 अल्पसंख्यक, 1230 एससीएसटी और 5590 सामान्य व पिछड़ा वर्ग की छात्राएं के हैं। योजना के लिए छह करोड़ का बजट आया था। 2889 आवेदनों को सत्यापन के लिए भेजा गया था, जिसमें 2263 छात्राएं पात्र पाई गई। बजट के आधार पर दो हजार छात्राएं ही सीएम के कार्यक्रम में लाभान्वित हो सकीं। 263 छात्राएं बजट के अभाव में लाभ पाने से वंचित रह गईं।

इस तरह आवंटित हुआ बजट
कन्या विद्या धन योजना के लिए शासन से 6 करोड़ का बजट आया। इसमें अल्पसंख्यक की 118 छात्राओं के लिए 35 लाख 40 हजार, अनुसूचित जाति जनजाति की 854 छात्राओं के लिए 2 करोड़ 56 लाख 20 हजार तथा सामान्य एवं पिछड़े वर्ग की छात्राओं के लिए 3 करोड़ 8 लाख 40 हजार रुपया आवंटित हुआ था। इसी आधार पर वितरण कराया गया।

सामान्य पिछड़ा वर्ग का सत्यापन बाकी
कन्या विद्या धन योजना के लिए जनपद में आए 7002 आवेदनों में 2889 आवेदनों का सत्यापन हो चुका है। इसमें अल्पसंख्यक और अनुसूचित जाति जनजाति के सभी आवेदनों का सत्यापन हो चुका है। अल्पसंख्यक के 182 आवेदनों में से 159 छात्राएं पात्र पाई गई। इसी तरह अनुसूचित जाति के 1230 आवेदनों से 924 छात्राएं पात्र पाईं गई जबकि सामान्य एवं पिछड़ा वर्ग के सत्यापन हुए 1477 आवेदनों में से 1180 छात्राएं पात्र निकली। अब 4113 आवेदन सामान्य व पिछड़ावर्ग के आवेदनों का सत्यापन होना शेष है।

सत्यापन के लिए भेजे गए 2889 आवेदनों में 626 आवेदन अपात्र पाए गए। अपात्र होने के कारण यह रहे।
शादीशुदा होने के बावजूद पिता का आय प्रमाणपत्र लगा देना।
लगाए गए आय प्रमाण पत्र से अधिक संपत्ति होना।
सरकारी सेवारत होना
नियत पता नहीं होना
----
कन्या विद्याधन योजना के तहत शासन से जितना बजट मिला था, पूरा वितरित कर दिया गया। अब शासन से बजट उपलब्ध होने के बाद ही बटेगा। कोई भी छात्रा कार्यालय अथवा डीएम से बेवजह संपर्क न करे। सूची में उनका नाम चयनित होने और बजट आने के बाद उनको उनके मोबाइल पर एसएमएस के जरिए या विशेष वाहक भेजकर सूचित कर दिया जाएगा। -ओपी सिंह डीआईओएस इटावा

Spotlight

Most Read

National

'पद्मावत' के विरोध में मल्टीप्लेक्स के टिकट काउंटर में लगाई आग

रात करीब पौने दस बजे चार-पांच युवक जिन्होंने अपने चेहरे ढक रखे थे, मॉल में आए और टिकट काउंटर के पास पहुंच कर उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया।

20 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में शौचालय भी हुए भगवा, पूर्व सीएम अखिलेश ने ली चुटकी

इटावा के एक गांव में बन रहे शौचालयों को भगवा रंग में रंगा जा रहा है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत बन रहे 350 शौचालयों में से सौ शौचालयों को भगवा में रंगा जा चुका है।

13 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper