विज्ञापन
विज्ञापन

372 ने लिए फेरे, 31 जोड़ों ने किया कुबूल

Kanpur	 Bureauकानपुर ब्यूरो Updated Fri, 15 Nov 2019 12:06 AM IST
ख़बर सुनें
फोटो संख्या 33: हिंदू वर कन्या ने एक दूसरे को वरमाला डालने के बाद अग्रि के सात फेरे लिए।
विज्ञापन
फोटो संख्या 34: मुस्लिम जोड़ों को काजी ने निकाह पढ़ाया।
फोटो संख्या 35: नवदंपति ने विवाह की फोटो की शेल्फी लेकर इस क्षण को मोबाइल कैमरे में कैद किया।
फोटो संख्या 36: बैंडबाजा और शहनाई की धुन भी बजती रही।
फोटो संख्या 37: नवदंपतियों को सदर विधायक सरिता भदौरिया, भरथना विधायक सावित्री कठेरिया, जिलाधिकारी
जेबी सिंह और सीडीओ राजा गणपति आर ने आशीर्वाद दिया।
372 ने लिए फेरे, 31 जोड़ों ने किया कुबूल
मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना से नुमाइश पंडाल में हुईं 403 शादियां
क्रासर
विधायक सरिता भदौरिया, सावित्री कठेरिया और डीएम जेबी सिंह ने दिया नव युगलों को आशीर्वाद
अमर उजाला ब्यूरो
इटावा। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत नुमाइश मंडप में 403 शादियां की शादियां हुईं। इसमें 372
जोड़ों ने अग्नि के सात फेरे लेकर सात वचन निभाने का वादा किया तो 31 मुस्लिम जोड़ों ने एक दूसरे को कुबूल
किया। भाजपा विधायक सरिता भदौरिया, विधायक सावित्री कठेरिया, जिलाधिकारी जेबी सिंह, सीडीओ राजा
गणपति आर ने नव दंपतियों को आशीर्वाद के साथ ही शासन की ओर से उपहार में बक्सा, बर्तन आदि दिए।
विवाह आयोजन के लिए नुमाइश पंडाल को गुब्बारों और फूलों से सजाया गया था। ग्रामीण और नगरीय क्षेत्र के
लिए अलग-अलग ब्लॉकों में वेेदियों की व्यवस्था थी। मुस्लिम विवाह के लिए अलग ब्लॉक बनाया गया। विवाह
की रस्में शुरू होने के साथ मंडल शहनाई और बैंडबाजा की धुन से गूंज उठा।
जिला समाज कल्याण अधिकारी शिशु पाल सिंह ने बताया कि 426 जोड़ों ने पंजीकरण कराया था, जिसमें 403
ही शादी करने पहुंचे। इसमें सबसे ज्यादा 218 विवाह अनुसूचित जाति के युगलों के हुए। अन्य पिछड़ा वर्ग के
111 और सामान्य वर्ग के 12 युगल सामूहिक विवाह समारोह में दंपत्य सूत्र में बंधे। 31 मुस्लिम युगलों ने एक
दूसरे को जीवन साथी के रूप में कुबूल किया। महेवा ब्लॉक अशोक चौबे, एडीएम ज्ञान प्रकाष श्रीवास्तव,
एसडीएम सदर सिद्धार्थ, डीडीओ दीनदयाल वर्मा, पीडी डीआरडीए उमाकांत त्रिपाठी, जिला प्रोवेषन अधिकारी
प्रशांत कुमार,डीपीआरओ आरबीसिंह आदि अधिकारी मौजूद रहे। संचालन केकेडीसी के शिक्षक डा. शैलेंद्र शर्मा ने
किया।
ये युगल बने जीवन साथी
रीना तोमर संग गौरव, शिवानी संग पवन कुमार, राखी कुमार संग जितेंद्र कुमार, आरती संग योगेन्द्र,श्ष्यामा देवी संग
आदेष कुमार,विनीता संग रिंकू, सरिता संग सुनील कुमार, निशा पोरवाल संग मोहित कुमार, हेमा संग
अभिषेक,अर्चना संग बाबी, मीनू कश्यप संग संजीव कुमार, संगीता संग सोनू, सपना संग अजीत सिंह, सीमा संग
चंदन, पुष्पा संग अखिलेष, रूबी संग विश्वास, नीलम संग सोनपाल, शिवानी संग धोनी कुमार, शशि प्रभा संग
शैनी सिंह, ज्योति संग प्रदीप, रचना संग पिंटू, सोमवती संग उमेश कुमार,नेहा संग मनोज कुमार,राखी संग
सत्यपाल, शिश गौतम संग योगेश कुमार, पिंकी संग अर्जुन, कीर्ति संग महेंद्र प्रताप, सुनीता कुमारी संग राकेश कुमार
अंजू संग उमेश कुमार, अंजली संग अक्षय आनंद, चांदनी संग लोकेन्द्र, रोशनी संग जयवीर, पूनम संग शैलेन्द्र
कुमार, वंदना कुमारी संग करन सिंह, रश्मि संग आदेश कुमार, प्रिया संग शिवम कश्यप, रीना संग संदेश, सीता संग
सतानंद, हंसमुखी संग अवधेश, पूजा संग कमल किशोर, पार्वती संग विपिन कुमार और शबनम संग बदलू खान,
मुस्कान संग मुस्तकीम,अतिया संग इमरान हुसैन, शबीना संग चांद हुसैन,इनायत संग सलमान आदि ने जीवन भर
साथ चलने का वचन लिया।
विधवा और दिव्यांग के भी हुए विवाह
जिला सूचना अधिकारी ने बताया कि महेवा ब्लॉक के धर्मपुरा गांव निवासी रजनी विधवा थी। पिता रामसिंह ने
उसके पुर्नविवाह के लिए पंजीकरण कराया था। रजनी का विवाह दीपक के साथ हुआ। इसी तरह दोनों आंखों से
दिव्यांग महेवा ब्लॉक के देवरी गांव निवासी बिट्टी देवी का विवाह भी हुआ। दो और दिव्यांग जोड़े भी दांपत्य सूत्र में
बंधे।
इनसेट
सामूहिक विवाह से समाज को नई दिशा मिलती है : विधायक
सदर विधायक ने नव दंपतियों को आशीर्वाद दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की सामूहिक विवाह योजना से
गरीब बेटियों की शादी के प्रति निश्चिंत हो गए हैं। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना समाज से दहेज की कुप्रथा को
दूर करने में सहायक सिद्ध होगी। बिना किसी भेदभाव मंडप में हिंदू और मुस्लिम दोनों ही समाज के विवाह हुए हैं।
ये अनूठी मिशाल है। भरथना विधायक सावित्री कठेरिया योजना बहुत ही अच्छी सिद्ध होगी। इससे फिलूजखर्जी पर
भी रोक लगेगी। जिलाधिकारी जेबी सिंह ने कहा कि जितने जोड़े इस मंडप के नीचे विवाह के बंधन में बंध रहे हैं
वह एक दूसरे का सम्मान करें। एक दूसरे का सम्मान करेंगे तो समाज में आपका भी सम्मान होगा।
इनसेट
बैंडबाजा और खानपान पर खर्च हुए 24 लाख
विवाह आयोजन के लिए प्रदेश सरकार ने प्रत्येक जोड़े पर 51 हजार रुपये तय किए हैं। इसमें 35 हजार रुपये
आरटीजीएस के माध्यम से वधू के खाते में जाएंगे। ये धनराशि एक दो दिन में पहुंच जाएगी। प्रत्येक जोड़े को 10
हजार रुपये के बर्तन, बक्सा, साड़ी आदि उपहार में दिए गए। 6 हजार प्रति जोड़े के औसत से खानपान, साज
सज्जा, बैंडबाजा और अन्य व्यवस्था पर खर्च किए गए। कुल 403 जोड़ेे के विवाह हुए इस औसत से 2418000
ुरुपये समाज कल्याण विभाग ने गुरुवार को हुए आयोजन पर खर्च किए। इटावा जिले में कुल दो करोड़ 55 लाख
3 हजार रुपये खर्च किए गए हैं।
परिजनों से बातचीत की खबर अगली फाइल में....
विज्ञापन

Recommended

मोतियाबिंद क्या है, इसके कारण व उपचार
Eye7 (Advertorial)

मोतियाबिंद क्या है, इसके कारण व उपचार

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Etawah

स्कार्पियो की टक्कर मारकर दुकान तोड़ी, दुकानदार को पीटा

स्कार्पियो की टक्कर मारकर दुकान तोड़ी, दुकानदार को पीटा

11 दिसंबर 2019

विज्ञापन

बदले की आग में झुलसकर लौट रही है नागिन, ऐसे खेलेगी जहरीला खेल

दर्शकों की मांग और शो की लोकप्रियता को देखते हुए, बालाजी फिल्म्स का बहुप्रतीक्षित शो 'नागिन' अपने चौथे सीजन के साथ फिर से वापिस आ रहा है।

10 दिसंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls
Niine

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election