विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान
Puja

एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

डिग्री कॉलेज में 200 बेड का बनेगा अतिरिक्त कोविड-19 केयर

एटा। जिले में एक और कोविड-19 केयर सेंटर बनना है। इसके लिए एक डिग्री कॉलेज को चयनित किया गया है। जहां 200 बेड का कोविड-19 सेंटर बनाया जाएगा, जबकि जिले में एक डिग्री कॉलेज का चयन 250 बेड के लिए पहले ही कर लिया गया है। वहीं दो सीएचसी को भी कोविड अस्पताल बनाया गया है।
सीएमओ डॉ. अजय अग्रवाल ने बताया कि शासन से 200 बेड का अतिरिक्त कोविड-19 केयर बनाने के निर्देश मिले हैं। इसको लेकर सीडीओ मदन वर्मा के साथ कई स्कूलों की पड़ताल की गई। जहां परसोंन स्थित एक डिग्री कॉलेज में व्यवस्थाएं ठीक मिली। सीडीओ ने व्यवस्थाओं को देख डिग्री कॉलेज को ही कोविड-19 सेंटर के लिए चयनित किया है।
उन्होंने बताया अतिरिक्त कोविड-19 केयर सेंटर बनने वाले डिग्री कॉलेज में 200 बेड की व्यवस्था स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जाएगी। इसके लिए सोमवार से तैयारियां शुरू हो गई हैं। सीएमओ ने बताया कि जून व जुलाई में संक्रमण में तेजी आने की संभावना को लेकर शासन से तैयारियां रखने के निर्देश मिले हैं।
उन्होंने बताया कि वर्तमान में कोविड-19 एल वन अस्पताल सीएचसी बागवाला 40 व समकक्ष अस्पताल के रूप में चुरथर सीएचसी को 80 बेड के लिए चिह्नित पहले ही किया जा चुका है। इसके अलावा आगरा रोड स्थित डिग्री कॉलेज में भी 250 बेड का कोविड-19 केयर सेंटर बनाया जाएगा।
... और पढ़ें

मुंबई से लौटा युवक कोरोना पॉजिटिव निकला, हड़कंप

एटा। मुंबई से लौटे एक युवक को कोरोना की पुष्टि हुई। इससे स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। मरीज को एक डिग्री कॉलेज में बने सेंटर पर क्वारंटीन किया गया था। बाद में उसे बागवाला स्थित कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसके साथ लौटे तीन अन्य लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। अब जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 11 हो गई।
बागवाला थाना क्षेत्र के गांव ओनघाट निवासी एक युवक मुंबई में नौकरी करता है। लॉकडाउन में वह वहां फंस गया। बीते दिनों ट्रेन चलने पर वह परिजनों सहित दिल्ली पहुंचा। जहां से वह 15 मई को जिले में बस स्टैंड पर पहुंचा। वहां मुंबई से आने की बात सुन रैपिड रिस्पोंस टीम ने सभी को एक डिग्री कॉलेज में बने सेंटर में क्वारंटीन कराया।
जहां से सभी का सैंपल 15 मई को ही जांच के लिए अलीगढ़ भेज दिया गया। मंगलवार को आई जांच रिपोर्ट में इनमें से एक युवक को कोरोना पॉजिटिव निकला, जबकि उसके अन्य तीन साथियों की रिपोर्ट निगेटिव आई।
15 मई को चार लोग रैपिड रिस्पोंस टीम द्वारा क्वारंटीन कराए गए थे। जहां सभी के सैंपल जांच के लिए भेजे गए। इनमें से ओनघाट निवासी एक युवक को कोरोना की पुष्टि हुई। उसे बागवाला कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं वार्ड में अन्य सभी संदिग्धों के सैंपल जांच को दोबारा भेजे जाएंगे।
-डॉ. बीडी घिरौरिया, नोडल अधिकारी क्वारंटीन सेंटर
हॉटस्पॉट से मुक्त
पड़ताल कराई जा रही है, कि यह चारों युवक या इनके संपर्क में आया कोई व्यक्ति गांव में तो नहीं पहुंचा। सीएचसी पर भी सूचना देकर जानकारी करने को कहा गया है। यदि कोई संदिग्ध मिलता है तो गांव को हॉट स्पॉट बनाया जाएगा, अन्यथा नहीं। वहीं हॉट स्पाट गांव बाहनपुर और नगला क्यार को हॉट स्पॉट से मुक्त कर दिया गया है।
-विवेक मिश्रा, एडीएम प्रशासन
... और पढ़ें

एटा में एक और मिला संक्रमित

बोरवेल में मिट्टी ढहने से 50 फीट नीचे दबे दो मजदूर, सात घंटे चला रेस्क्यू, नहीं बच सकी जान

एटा जिले के थाना नयागांव क्षेत्र में रविवार को दर्दनाक हादसा हो गया। 50 फीट गहरी बोरवेल की सफाई करने के लिए उतरे मजूदरों पर मिट्टी की ढाय गिर गई। उसमें दो मजदूर दब गए। इनको निकालने के लिए पुलिस प्रशासन की ओर से सात घंटे तक रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया, लेकिन दोनों की जान नहीं बच सकी। हादसे से मृतकों के परिवार में कोहराम मच गया। 

थाना क्षेत्र के गांव कुढ़ा निवासी नवरतन सिंह पुत्र महेंद्र सिंह के खेत पर ट्यूबवेल लगा हुआ है। खेत पर ही पक्की कोठरी के अंदर बोरवेल है। इसके खराब होने के चलते उसमें नीचे फंसी ईंटों को निकालने के लिए नवरतन रविवार की सुबह पड़ोसी गांव बृह्मपुरी, थाना मेरापुर (फर्रूखाबाद) से पांच मजदूरों को लेकर आ गया। 


बोरवेल के ऊपरी हिस्से से ईंटे निकालने के बाद मजदूर राजकुमार और छोटे लाल को ईंटें निकालने के लिए बोरवेल में उतार दिया। बोरवेल में नीचे मजदूर काम कर रहे थे, तभी ऊपर से मिट्टी की ढाय गिर गई। इससे राजकुमार और छोटे लाल 50 फीट गहरी बोरवेल में दब गए। 
... और पढ़ें
घटनास्थल पर अधिकारी और ग्रामीण घटनास्थल पर अधिकारी और ग्रामीण

मानक से अधिक गड्ढा खोदने पर पीएनसी कंपनी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज

एटा। पीएनसी कंपनी की ओर से मानक से अधिक खोदाई कर बनाए गए गहरे गड्ढे में गिरकर शनिवार को एक किशोर की मौत हो गई थी। इसके बाद ग्रामीणों में रोष पनप गया। किशोर के पिता ने पीएनसी कंपनी के ठेकेदार सहित दो के खिलाफ रिपोर्ट कराई है।
थाना कोतवाली देहात क्षेत्र के गांव भदौं निवासी अजब सिंह के इकलौते पुत्र सोनू (13) की तालाब किनारे बनाए गए गहरे गड्ढे में फिसलने से मौत हो गई थी। अजब सिंह का आरोप है कि पीएनसी कंपनी की ओर से हाईवे का निर्माण कराया जा रहा है। इसके लिए गांव भदौं और पुराव से मिट्टी खोदी गई।
इस दौरान मानकों को दरकिनार करते हुए 25-30 फुट गहरी खाई बना दी गई। मिट्टी खोदाई के बाद बने गहरे गड्ढों में कंपनी के लोगों ने पानी भर दिया जो आम लोगों के लिए खतरनाक साबित हो रहा है। अगर मानकों के अनुसार मिट्टी की खोदाई की जाती तो शायद उनके पुत्र सोनू की मौत नहीं होती।
प्रभारी निरीक्षक प्रवीन कुमार सिंह ने बताया है कि अजब सिंह की तहरीर के आधार पर गैर इरादतन हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली है और आरोपियों के खिलाफ जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

मृतक की बेटी और चाची सहित एक अन्य युवक कोरोना पॉजिटिव

एटा। होली मोहल्ला निवासी मृतक हेयर ड्रेसर की बेटी सहित उसकी चाची को कोरोना की पुष्टि हुई। वहीं अलीगंज के सराय अगहत निवासी एक युवक में संक्रमण मिला है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा तीनों को बागवाला स्थित कोविड-19 अस्पताल में देर रात भर्ती कराया गया। जिले में अब मरीजों की संख्या 14 हो गई है।
शहर के मोहल्ला होली मोहल्ला निवासी हेयर ड्रेसर की बीते दिनों आगरा के पुष्पांजलि हॉस्पिटल में इलाज के दौरान मौत हो गयी थी। उसे कोरोना की पुष्टि हुई थी। इस पर उसके संपर्क में आए 9 परिजनों को एक क्वारंटीन सेंटर पर रखा गया था, जहां सभी के सैंपल 4 दिन पूर्व अलीगढ़ जांच को भेजे गए थे।
रविवार की देर शाम आई रिपोर्ट में हेयर ड्रेसर की बेटी व उसकी चाची को कोरोना की पुष्टि हुई। वहीं सराय अगहत निवासी एक युवक गैर प्रांत से लौटकर बीते दिनों वापस आया था, जहां स्वास्थ्य विभाग द्वारा उसे क्वारंटीन कराया था, उसे भी कोरोना की पुष्टि हुई है। होली मोहल्ला निवासी किशोरी थैलीसीमिया रोग से ग्रसित है ।
उसे जिला अस्पताल में 16 मई व 23 मई को आइसोलेशन वार्ड में ब्लड चढ़ाया गया है। सीएमओ डॉ. अजय अग्रवाल ने बताया कि जिले में तीन कोरोना पॉजिटिव के केस सामने आए हैं। इसमें शहर के मोहल्ला होली निवासी एक किशोरी हुआ उसकी परिवार की चाची हैं। वहीं सराय अगहत निवासी एक युवक को कोरोना की पुष्टि हुई है। तीनों को कोविड-19 अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है।
... और पढ़ें

मां का इलाज कराकर 800 किलोमीटर बाइक से ड्यूटी पर पहुंचा फार्मासिस्ट

एटा। जिले में तैनात फार्मासिस्ट अपनी बीमार मां को दवा दिलाकर बाइक से आठ सौ किलोमीटर की यात्रा कर क्वारंटीन सेंटर पर ड्यूटी करने पहुंच गया। उसके जज्बे को जिले के स्वास्थ्य अधिकारियों ने सलाम किया है। जिले के न्यू पीएचसी पर तैनात फर्मासिस्ट राजेश कुमार गोरखपुर के रहने वाले हैं।
वह जिले में गांव परसोंन स्थित पीएचसी पर फार्मासिस्ट के पद पर कार्यरत हैं। बीते दिनों उनकी मां की तबियत खराब हो गई। इस पर वह जैसे-तैसे अपनी मां को देखने गोरखुपर पहुंचे। राजेश कुमार बताते हैं कि वह मां के पास पहुंच ही पाए थे। तभी व्हाट्सएप पर सूचना मिली कि उनकी ड्यूटी क्वारंटीन सेंटर पर लगा दी गई है।
अगले दिन शाम के समय उन्हें ड्यूटी पर पहुंचना है। उन्होंने मां को चिकित्सक को दिखाया और दवा दिलाने के बाद रात को तीन बजे बाइक से ड्यूटी के लिए निकल पड़े। वहीं शाम के समय सेंटर पर पहुंचकर उन्होंने अपनी ड्यूटी की। फार्मासिस्ट के इस जज्बे को देखकर उसकी हर ओर सराहना हो रही है।
राजेश के अंदर मरीजों के प्रति सेवा भाव भरा पड़ा है। इसके लिए वह किसी के सामने भी अपनी बात ईमानदारी से प्रस्तुत करते हैं। बीते दिनों क्वारंटीन सेंटर पर सब्जी को लेकर संदिग्धों ने विरोध जताया था। इस पर राजेश ठेकेदार के समक्ष अपनी खुले रूप से अपनी बातों को रखा था। उन्होंने कहा था कि संदिग्ध को कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए।
... और पढ़ें

एटाः ट्रक से कुचल कर दो सगी बहनों की दर्दनाक मौत, परिवार में मचा कोहराम

फारमासिस्ट राजेश कुमार। संवाद
एटा में जीटी रोड स्थित माया पैलेस चौराहा पर रविवार तड़के ट्रक से कुचल कर दो सगी बहनों की मौत हो गई। दोनों बहनें भाई के नाती की मौत होने पर मायके जा रहीं थीं तभी हादसे का शिकार हो गईं। पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया। 

कोतवाली नगर के जीटी रोड स्थित होटल माया पैलेस चौराहा पर रविवार सुबह सात बजे ट्रक से कुचल कर नीलम (40) पत्नी अखिलेश निवासी नगला जऊ थाना जैथरा और इनकी बड़ी बहन बृजेश कुमारी (52) पत्नी शशिकांत दीक्षित निवासी बृज विहार कालोनी, सकीट रोड थाना कोतवाली नगर की मौत हो गई। मृतका नीलम के पुत्र प्रशांत ने बताया है कि वह मां और मौसी को बाइक पर बैठाकर अपनी ननिहाल गांव बनियानी थाना अमांपुर जिला कासगंज जा रहा था।
 
वह शहर में बहुत कम आया है, मौसी बृजेश कुमारी को बाइक पर बिठाने के बाद अमांपुर के लिए जाना था, लेकिन जीटी रोड पर रास्ता भटक गया। इसकी वजह से होटल माया पैलेस चौराहा पहुंच गया। यहां पहुंचने पर मौसी ने कहा कि रास्ता भूल गए, चौराहा से बाइक को यूटर्न किया और रास्ता पूछने लगे। तभी पीछे से ट्रक ने टक्कर मार दी और मां व मौसी ट्रक से कुचल गईं।
 
प्रशांत ने बताया है कि पांच दिन पहले मामा के नाती की बीमारी से मौत हो गई थी, इसलिए ननिहाल जा रहे थे। प्रभारी निरीक्षक एके सिंह ने बताया है कि शवों का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों का सौंप दिया है। ट्रक कब्जे में है और अखिलेश की तरफ से मुकदमा दर्ज कर लिया है। 
... और पढ़ें

इकाईयों की घंटी तो बजी, पर तकनीकि समस्या आड़े आ रही

एटा। उद्योगों की घंटी बज गई है। इकाईयों में उत्पादन भी शुरू हो गया। कच्चा माल और मजदूर भी हैं। बावजूद इसके तकनीकी मजदूरों की कमी और पार्ट्स न मिलने के कारण संचालन में दिक्कतें आ रही हैं। जिसके इंतजार में आधा काम हो पा रहा है। कहीं-कहीं तो छोटी मोटी कमियों को ऑनलाइन माध्यम से ठीक किया जा रहा है।
मुख्य रूप से यहां चिकोरी सहित अन्य करीब 3500 इकाईयां संचालित हैं। इनमें से अधिकांश जगहों पर काम शुरू हो चुका है। कहीं 50 की जगह 20 मजदूरों से काम चलाया जा रहा है, तो छोटी इकाईयों में चंद मजदूरों के साथ मालिकान खुद जुटे हुए हैं। कारण डिमांड अभी इतनी नहीं है कि पूरी क्षमता और रोस्टर से मशीनों को चलाया जाए। जहां डिमांड है वहां भी मशीनें पूरी क्षमता से नहीं चल पा रही हैं। क्योंकि अन्य तरह के संसाधन और तकनीकी विशेषज्ञ नहीं हैं।
तकनीकि विशेषज्ञों की कमी खल रही
उद्योग शुरू होने के बाद तकनीकी विशेषज्ञ की कमी खल रही है। एक-डेढ़ माह से बंद इकाईयां शुरू करने के लिए सर्विस और मेंटीनेंस के बिना ही मशीनें शुरू कर दी गईं। जिससे कहीं मशीन आवाज करने लगी हैं तो कहीं हीट होने लगी है। कोई ट्रिप कर रही है तो कोई तो स्टार्ट ही नहीं हो रही। ऐसे में बड़ी कंपनियों के तकनीकी विशेषज्ञ जहां आगरा, नोएडा, फरीदाबाद से आते हैं, वहीं छोटे मिस्त्री भी कोरोना के डर के चलते नहीं आ रहे।
काम चलाया जा रहा
मुरली कृष्ण उद्योग के मालिक दिनेश वार्ष्णेय बताते हैं कि एकमात्र उनके यहां चिकोरी के प्लांट में ब्राजील की कंपनी की मशीनेें लगी हुई हैं। कंपनी ने ही इंस्टॉल किया। बताते हैं कि इन मशीनों को चलाने का प्रशिक्षण चार-छह कर्मचारियों को दिलाया गया है। इसमें से कोई डर से आना नहीं चाहते तो कोई बाहर होने के कारण फंस गए हैं। एक-दो लोगों से काम चलाया जा रहा है। एकाउंटेंट तक ने कंपनी आने से इंकार कर दिया है।
मोबाइल पर ले रहे राय
कई इकाईयों की मशीनों में छोटी-छोटी कमियां आ रही हैं। इन्हें स्थानीय मिस्त्री दिल्ली और नोएडा में बैठे विशेषज्ञों से फोन पर और वाट्सअप आदि पर समझकर दूर कर रहे हैं। इससे काम तो चल जा रहा है, पर उसमें निपुणता नहीं आ पा रही है।
- डिमांड नहीं होने के बावजूद उत्पादन तो शुरू करा दिया गया है। कम लोगों से काम लिया जा रहा है, जिससे गाइडलाइन का पालन हो सके। मिस्त्री न मिलने से मशीनों में दिक्कत आने पर परेशानी तो आएगी ही। - धर्मवीर गहलौत, उद्यमी।
- लेबर तो मिल जाएगी, पर तकनीकी विशेषज्ञ न मिल पाने के कारण सीमेंटेड ईंट बनाने के प्लांट की छुट्टी कर रखी है। इसके लिए परिपक्व मजदूर बाहर चले गए हैं। वह लौटेंगे तो काम शुरू कराया जाएगा। - आलोक जैन, उद्यमी।
- उद्योगों को चलाने की अनुमति शासन ने दे दी है। यदि कहीं किसी उद्यमी को मजदूरों और तकनीकी विशेषज्ञों की आवश्यकता है और इसके पास की जरूरत है। तो वह उनके कार्यालय में संपर्क पास बनवा सकते हैं। जिससे उन्हें आने-जाने में परेशानी न हो। - अनुराग यादव, उपायुक्त उद्योग।
... और पढ़ें

चोरी का माल और नकदी बरामद, सात लुटेरे गिरफ्तार

एटा। कोतवाली देहात और स्वॉट टीम ने बुधवार की रात सात लुटेरों को गिरफ्तार किया है। इनसे लूट के जेवरात और नकदी बरामद की गई है। आरोपियों ने जिले में कई वारदातें करना कबूल किया है। सभी को जेल भेज दिया गया है। एसएसपी सुनील कुमार सिंह ने बताया है कि पुलिस ने काली नदी की झाड़ियों में लूट की योजना बनाते समय सूचना मिलने पर बुधवार की रात करीब 11 बजे छापा मारा।
यहां से पुलिस ने सात लुटेरों को पकड़ लिया, वहीं, तीन भागने में सफल रहे। पकड़े गए आरोपियों में अपने नाम नीरज निवासी नगला समन थाना कोतवाली देहात, सुनील निवासी अमरगोजिया थाना कोतवाली देहात, रूमाल सिंह निवासी निधौली खुर्द, आशाराम व नेकसू निवासी रजपुरा थाना नयागांव, वीरेंद्र निवासी गोंडा थाना पटियाली जिला कासगंज और जयवीर निवासी नगला भजना थाना पिलुआ बताए हैं।
एसएसपी ने बताया कि आरोपियों ने श्याम नगर कॉलोनी, डीएम आवास के सामने अधिवक्ता से लूट, नेहरू नगर, कस्बा धुमरी, आलूपुरा काली नदी, मोर्चा नहर और महिंद्रा एजेंसी के पास से चोरी और लूट की वारदातें की है। पुलिस ने इनके कब्जे से दो संदिग्ध बाइक, छह तमंचा 10 कारतूस, सोने की जंजीर, कान के टप्स, अंगूठी, लॉकेट, चार मोबाइल फोन और 33 हजार 900 रुपये बरामद किए हैं।
... और पढ़ें

प्रवासी श्रमिकों को लेने हाथरस गई 15 रोडवेज

एटा। प्रवासी श्रमिकों का आना थम नहीं रहा है। इसी के तहत शुक्रवार को स्पेशल ट्रेन श्रमिकों को लेकर हाथरस आ रही है। जहां जिले से 15 बसों को श्रमिकों को लेने हाथरस भेजा गया है। वहीं उत्तराखंड के 44 श्रमिकों को लेकर बस मुजफ्फरनगर भेजी गईं।
एआरएम मदनलाल ने बताया कि प्रवासी श्रमिकों को लेकर हाथरस में स्पेशल ट्रेन आ रही है, जिसमें जिले के श्रमिक भी आ रहे हैं । इसी के तहत उच्च अधिकारी के निर्देश पर शुक्रवार को जिले से 15 बसों को हाथरस भेजा गया। वहीं एक बस से उत्तराखंड के 44 श्रमिकों को सुबह भेजा गया।
एआरएम ने बताया निगम की बस मुजफ्फरनगर तक जाएंगी। इसी के तहत निगम की बस उत्तराखंड के श्रमिकों को मुजफ्फरनगर बॉर्डर पर छोड़कर वापस आएगी। वहीं दो बसें पूर्वांचल के श्रमिकों को लेकर भेजी गई हैं। इसके साथ ही 8 बसें शेल्टर होम से श्रमिकों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने में जुटी हैं।
... और पढ़ें

अलविदा जुमा आज, बाजार में उमड़ी भीड़

एटा। आज अलविदा जुमा है। इसके तीन दिन बाद ईद है। त्योहार की तैयारियों को लेकर बृहस्पतिवार को बाजारों में भीड़ उमड़ पड़ी। इस दौरान सेवईं, सूत फेनी, खजूर, चिप्स, पापड़ आदि की दुकानों पर खासी भीड़ रही। अलविदा जुमा के बाद भीड़ बढ़ने की आशंका में लोगों ने पहले ही खरीदारी की।
ईद के त्योहार पर इस बार नमाज मस्जिदों में नहीं होगी। वहीं बाजार भी दोपहर बाद सूने हो जाएंगे। लंबे लॉकडाउन में जो लोग ईद पर भी बाजार न खुलने की आस लगाए थे, उन्हें राहत मिली और वह खरीदारी को आए। बाजार में महिलाओं ने बच्चों के लिए अंडर गारमेंट्स, अपने लिए कॉस्मेटिक्स और मेहमानों के लिए सेर्वइं, और चिप्स-पापड़ आदि की खरीदारी की। बाजार में सेवईं 50 रुपये किलो तो फेनी 100 रुपये किलो में बिक रही है। इस दौरान रेडिमेड के बाजार बाबूगंज, किराना के हाथी गेट, घंटाघर, सुभाष मूर्ति बाजार आदि में भीड़ रही।
सकरौली में दस बजे खुला बाजार
जलेसर। लॉकडाउन में बंद जलेसर का बाजार बृहस्पतिवार को सुबह सात बजे खुल गया। बाजार खुलते ही भीड़ और जाम की स्थिति बनी। वहीं दोपहर बाद बाजार सूने दिखाई दिए। वहीं व्यापारियों के चेहरों पर रौनक दिखाई दी। वहीं सकरौली का बाजार पुलिस की सख्ती के चलते नहीं खुल पाया। व्यापारियों के हस्तक्षेप पर करीब दस बजे बाजार खोला गया। बाजार खुलते ही सोना, चांदी, पीतल, रेडीमेड, कपड़ा, इलेक्ट्रानिक्स आदि के व्यापारियों ने अपने अपने प्रतिष्ठानों की साफ सफाई कराई। वहीं दो बजने से पहले बाजारों में सन्नाटा पसर गया। व्यापारी नेता कृष्ण गोपाल गुप्ता, मनोज वार्ष्णेय बजरंगी, लोकेश वर्मा, वीरेंद्र गुप्ता ने पुलिस एवं प्रशासन से चाय, पान, हलवाई, सब्जी, मेडिकल स्टोर साप्ताहिक बंदी में भी खोले जाने की अनुमति देने की मांग की है।
चप्पे-चप्पे पर रहेगी पुलिस की नजर
एटा। रमजान माह के आखिरी जुमे की नमाज को लेकर पुलिस चप्पे-चप्पे पर तैनात रहेगी। वहीं, मुस्लिम धर्म गुरुओं और मौलाना के साथ पुलिस और प्रशासन बैठक कर चुका है। कोरोना को लेकर घरों में नमाज अदा करने की अपील की जा चुकी है। लेकिन इसके बावजूद फिर भी कोई घरों से बाहर निकलता है तो सख्ती से निपटा जाएगा। एएसपी संजय कुमार ने बताया कि शहर के संवेदनशील मोहल्ला में पुलिस की चौकसी बढ़ाई गई। जीटी रोड स्थित दो मस्जिदें हैं इन पर नमाज अदा नहीं होगी। फिर भी सतर्कता बरती जाएगी। संवाद
... और पढ़ें

अब सीबीनॉट मशीन से कोरोना जांच की तैयारी

एटा। इंडियन काउंसलिंग फॉर मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने टीबी रोग की जांच करने वाली सीबीनॉट मशीन से कोरोना की जांच करने की अनुमति दी है। इसी कड़ी में जिले के टीबी अस्पताल में मौजूद मशीन में सॉफ्टवेयर अपलोड करने की तैयारी शुरू हो गई है। महज दो घंटे में रिपोर्ट मिल जाने से जांच में तेजी आएगी।
अभी तक कोरोनो जांच के लिए नोजल व थ्रोट स्वाब का नमूना जांच के लिए अलीगढ़ भेजा जा रहा है। जहां से रिपोर्ट आने में 4 से 5 दिन का समय लग रहा है। आईसीएमआर से सीबीनॉट मशीन से कोरोना जांच की अनुमति मिलने के बाद मेरठ, गोरखपुर, वाराणसी से लेकर कई बढ़े संस्थानों में प्रयोग शुरू हो गया है।
सभी जिलों के टीबी अस्पताल में यह मशीन उपलब्ध है। अगर सब कुछ सही रहा तो जल्द ही जिले में कोरोना की जांच शुरू हो जाएगी। जिला समन्वयक आशीष बताते हैं कि टीबी की जांच डीएनए किट से होती है। कोरोना वायरस आरएनए है। इसलिए आरएनए किट चाहिए होगी। एक सॉफ्टवेयर अपलोड होने के बाद मशीन आरएनए किट ले लेगी। आठ घंटे की शिफ्ट में मशीन से 36 रिपोर्ट मिल जाएंगी।
सीबीनॉट मशीन से कोरोना जांच को लेकर प्रयोग चल रहा है। वहां के प्रयोग के आधार पर जो आदेश आता है। उसी का अनुपालन करते हुए मशीन से जांच शुरू कर दी जाएगी।
-डॉ. सीएल यादव, डीटीओ
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us