जहर देकर मारने में पति को दोषी माना

Deoria Updated Tue, 21 Jan 2014 05:45 AM IST
देवरिया। दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर जहर देकर विवाहिता को मारने के मामले में अपर जिला जज ने पति को दोषी करार दिया है। कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने पति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। साक्ष्य के अभाव में ससुर, सास और देवर को बरी कर दिया। दो दिन बाद सजा सुनाई जाएगी।
शासकीय अधिवक्ता सुकुरूल्लाह ने बताया कि गोरखपुर के खोराराम थाने के रामपुर डीहा गांव निवासी धनेश की बेटी करमदानी का विवाह गौरीबाजार के अवधपुर निवासी धर्मराज से वर्ष 2002 में हुई थी। करमदानी से उसके पति धर्मराज, ससुर विश्वनाथ, सास तोता देवी, देवर परशुराम बाइक और सोने की चेन की मांग करते थे। इंकार करने पर सभी अक्सर प्रताड़ित करते रहते थे। इसकी सूचना करमदानी ने मायके अपनी मां बरसाती देवी को कई बार दिया था। पिता की मृत्यु हो चुकी थी।
16 अगस्त 2007 को अभियुक्तों ने करमदानी को जहर दे दिया। इस कारण करमदानी की मौत हो गई। मौत की सूचना पर उसके मायके वाले आए तो ससुराल वालों ने बताया कि जहरीला सर्प के काटने से मौत हुई है। इस मामले में करमदानी की मां ने गौरीबाजार थाने में पति, सास, ससुर, देवर के खिलाफ दहेज हत्या का केस दर्ज कराया।
बचाव पक्ष ने करमदानी की मृत्यु सांप के काटने का आधार बनाया। परंतु जज एसएम हसीम ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर सांप के विष से मृत्यु का आधार नहीं पाया।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: अलाव तापते वक्त हुआ विस्फोट, पुलिसकर्मी के खोए हाथ

देवरिया के जनपद रामपुर में अलाव तापते वक्त एक पुलिसकर्मी के साथ दर्दनाख हादसा हो गया। इस हादसे में पुलिसकर्मी के दोनों हाथ बुरी तरह झुलस गए।

14 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls