विज्ञापन
विज्ञापन

92 धान क्रय केंद्रों पर नहीं हुई खरीददारी

Deoria Updated Wed, 12 Dec 2012 05:30 AM IST
ख़बर सुनें
देवरिया। इंसपेक्टर एसोसिएशन की हड़ताल से जिले के 92 धान क्रय केंद्रों पर ताले लटक गए। धान लेकर सेंटर पहुंचे किसानों को मायूस लौटना पड़ा। मंगलवार को किसी भी केंद्र पर धान की खरीददारी नहीं हुई।
विज्ञापन
भारतीय खाद्य निगम की मनमानी को लेकर इंसपेक्टर एसोसिएशन ने मंगलवार को प्रदेश भर में धान खरीद ठप कर दिया है। बताते चलें कि एफसीआई की मनमानी के चलते चावल का भंडारण नहीं हो पा रहा है। गोदाम पर पहुंचे चावल को निगम के अधिकारी जांच पड़ताल के नाम पर रिजेक्ट कर रहे हैं। इसके चलते मिलर सरकारी धान कुटाई से हाथ खड़ा करने लगे हैं। इससे जिले में धान खरीद भी प्रभावित हो रहा है। मिलर और खाद्य एवं रसद विभाग के अफसरों ने एफसीआई से कई बार चावल जमा करने के लिए बातचीत की। लेकिन नतीजा सिफर निकला। चावल का भंडारण न होने और खरीद के लिए किसानों के बढ़ते दबाव के चलते इंसपेक्टर एसोसिएशन ने धान खरीद ठप करने का फैसला लिया। इसी क्रम में जिले में किसी भी केंद्र पर धान की खरीद नहीं हुई। क्रय केंद्राें पर धान लेकर पहुंचे किसानों को बैरंग लौटना पड़ा। खाद्य विभाग के बैतालपुर क्रय केन्द्र पर आधा दर्जन किसान ट्राली पर लाद धान लेकर पहुंचे थे। जो कुछ घंटा इंतजार करने के बाद वापस लौट गए। देसही देवरिया ब्लाक के जंगल बेलवा और देसही देवरिया में भी खरीद नहीं हुई। किसान ठंड में धान बिकने का इंतजार कर रहे थे। तरकुलवा, कोन्हवलिया, कंचनपुर, गढ़रामपुर और बंजरिया केंद्र पर ताला लटका रहा।
धान बिक नहीं रहा कैसे चुकाएं कर्ज
देवरिया। कमर तोड़ महंगाई से जूझ रहे किसानों की मुश्किलें और बढ़ गई है। मजबूरी में उन्हें अपना अपना धान बिचौलियों के हाथों सस्ते दर पर ही बेचना पड़ेगा। कि सान अपनी दुर्दशा के लिए सीधे सरकार और प्रशासन को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं।
पिपरा मदन गोपाल के विनोद शर्मा अपना धान बेचने के लिए परेशान हैं। सूखे के मौसम में भी उन्होंने कड़ी मेहनत कर लगभग 100 कुंतल धान की पैदावार की। अब धान बिक नहीं रहा है। इसी के भरोसे खाद-बीज उधार लेकर बुआई किए हैं। उन्हें इस बात का इंतजार है कि धान बिके तो वह कर्ज चुकाए। सेखौना के सुदामा सिंह भी क्षेत्र के बडे़ किसान हैं। लगभग 20 दिन चक्कर लगाने के बाद मंगलवार को उनका धान खरीदने का आश्वासन मिला है। जब वह क्र य केंद्र पर धान लेकर पहुंचे तो ताला लटका मिला। मायूस होकर लौट गए। अब वह अपना धान बिचौलियों के हाथों बेचने को मजबूर हैं। हरैया बसंतपुर के कृपाशंकर तो 50 कुुंतल धान बेचने के लिए टोकन कटवा लिए हैं। उनके बेटे का तिलक नजदीक आ गया है। धान के पैसों के सहारे ही उन्होंने यह आयोजन तय किया है। अब तो उनकी चिंता बढ़ गई है। बरवामीर छापर के विष्णु कुशवाहा धान बेचने के लिए महीनों से परेशान हैं। धान कब खरीदा जाएगा, यह बताना वाला कोई नहीं है।

ढाई महीने में मात्र 10 प्रतिशत हुई खरीदारी
देवरिया। ढाई महीने बाद भी धान खरीद रफ्तार नहीं पकड़ पाई। लक्ष्य के सापेक्ष अब तक 10 प्रतिशत धान की खरीद हुई है। जिले में 86200 मीट्रिक टन धान खरीद के लिए विभिन्न एजेंसियों के 92 क्रय केंद्र खुले हैं। मगर यह केंद्र बेमतलब साबित हो रहे हैं। अधिकांश क्रय केंद्राें पर तो एक भी दाना धान की खरीद नहीं हो सकी है। रवी की तैयारी में जुटे किसानों को औने-पौने दाम पर बिचौलियों के हाथों धान बेचना पड़ रहा है। बताते चले कि जिले में इस साल खाद्य विभाग के 14 कें द्रों के जरिए 41,000 हजार एमटी, पीसीएफ के 55 केंद्राें से 27,000 एमटी, यूपी एग्र्रो के दो केंद्रों से 3,200 एमटी, यूपीएसएस के 15 केंद्रों से 7000 एमटी और कर्मचारी कल्याण निगम के छह केंद्राें से 8000 एमटी धान खरीद का लक्ष्य निर्धारित है। एक अक्टूबर से ही धान कय केंद्र खुले हैं। मगर खरीदारी सिर्फ 8937 एमटी ही हो पाई है। अगर यही हाल रहा तो विभाग को लक्ष्य पूरा करने में पसीने छूटेंगे।
विज्ञापन

Recommended

फैशन इंडस्ट्री दे रही है खास मौके, इन्वर्टिस संग करें खुद को तैयार
Invertis university

फैशन इंडस्ट्री दे रही है खास मौके, इन्वर्टिस संग करें खुद को तैयार

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019
Astrology Services

अपनी संतान की लंबी आयु के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में संतान गोपाल पाठ और हवन करवाएं - 24 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Gorakhpur

दिनदहाड़े महिला को बंधक बनाकर 13 लाख के गहने लूटे, लोगों ने लगाया जाम

दिनदहाड़े घर में घुसे बदमाशों ने महिला को बंधक बनाकर 13 लाख रुपये से अधिक कीमत के गहने और 50 हजार रुपये की नकदी लूट ली।

17 अगस्त 2019

विज्ञापन

दूरदर्शन की वरिष्ठ पत्रकार और एंकर नीलम शर्मा का निधन, कैंसर से थीं पीड़ित

दूरदर्शन की वरिष्ठ एंकर नीलम शर्मा का निधन हो गया। दूरदर्शन के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर इसकी जानकारी दी गई। जानकारी के मुताबिक वो कैंसर से पीड़ित थीं।

17 अगस्त 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree