मातमी माहौल में दफन हुए ताजिए

Deoria Updated Mon, 26 Nov 2012 12:00 PM IST
देवरिया। या हुसैन....या हुसैन, या अली - या अली कहते रहो के नारे के बीच रविवार को ताजिए कर्बला पर दफन कर दिए गए। सुबह से ही ताजियों के जुलूस निकलने शुरू हो गए। ताजियों के आगे अखाड़ों के खिलाड़ी अपना करतब दिखाते चल रहे थे। सुई चुभोने से लेकर राड तोड़ने तक के खेल को देख लोग हैरत में थे।
मोहर्रम पर में कुल 1467 ताजियों का निर्माण ताजियादारों ने कराया था। नवीं की रात ताजिया चौक पर रखी गई। रात भर फातेहा पढ़ा गया, मन्नतें मांगीं गईं। भोर होते ही ताजियों का जुलूस निकलने लगा। तहसील चौक से नगर पालिका होते हुए एक के बाद एक ताजिया का जुलूस नगर की सड़क पर निकल पड़ा। सुभाष चौक पर सभी ताजियों का मिलान कराया गया। स्टार क्लब अब्बासिया अखाड़ा अबूबकरनगर, चांद क्लब, फाइव स्टार क्लब, एकता क्लब, पिपरपाती, इलाही टोला, देवरही टोला, रामनाथ देवरिया, अलीनगर, देवरिया खास, गरुलपार, नई बाजार अबूबकरनगर की ताजिया क्रमबद्ध होकर नगर के मुख्य मार्गों से होते हुए रौनियार मुहल्ला से सरकारी चौक पर पहुुंचा। स्टार क्लब के सरपरस्त सेराज अहमद सिद्दीकी के साथ नसीम अहमद, आजम शाह, गुड्डू, शंभू, शानू, शेराज अंसारी, नुसरत वारसी, सलीम अंसारी मौजूद थे। इसके बाद कर्बला की ओर ताजिया जुलूस का रुख हो गया। बीच-बीच में खिलाड़ियों ने अपने करतब दिखाए। शाम को शहर के ताजियों को अलीनगर स्थित कर्बला में दफन कर दिया गया।
शिल्प के बेहतरीन नमूने थे ताजिए
इमामे-ए-हुसैन की याद में बनाए गए ताजिए शिल्प के बेहतरीन नमूने भी थे। अखाड़ों ने अपने-अपने ताजियों को बेहतरीन बनाने की भरसक कोशिश किया था। मुहम्मद अली अंसारी ने ऊन के जरिए ताजिया का निर्माण कर दिया था। ऊन से ही तिरंगे का लुक देने की सफल कोशिश की गई थी। इब्राहिम ने तो गेहूं के अंकुर से ही ताजिया बना दिया था। सीसी रोड के रहीम अहमद ने भी अलग दिखने वाली ताजिया बनाया था। अलीनगर मुहल्ले के शहजादे कुरैशी के नेतृत्व में बनी ताजिया की तारीफ जितनी की जाए कम है। किसमिस, बादाम, काजू और लोबिया के बीज से पूरे ताजिया का निर्माण इतने सुंदर तरीके से कराया गया था कि देखने वाले दंग रह जाते थे। कोतवाली क्षेत्र में बनी 132 ताजियों में अधिकांश काबिले तारीफ थी।
खिलाड़ियों ने दिखाए हैरतअंगेज करतब
ताजिया जुलूस के आगे चल रहे क्लबों एवं अखाड़ों के खिलाड़ियों ने अपने करतब से दांतो तले अंगुली दबाने के लिए विवश कर दिया। उनके हैरतअंगेज करतब की किसी भी स्टंट दिखाने वाले को फेल करने वाले थे। स्टार क्लब के खिलाड़ी तलवार, लाठी एवं भाले के सहारे खतरनाक करतब सफलता के साथ दिखा रहे थे। फाइव स्टार क्लब के खिलाड़ी आग में चलकर, मुंह में सुई चुभोकर सबको चकित कर दिए। थ्री स्टार क्लब के खिलाड़ी तो दांत एवं अंगुली पर साइकिल के रिम को नचा दिया। वहीं दूसरा खिलाड़ी पट्टी बांधकर मुंह में सुई दबाकर खिलाड़ियों के आंख पर रखे कटे सेव के टुकड़े को उठा लिया। रत्ती भर चूक हो जाती तो जमीन पर लेटे खिलाड़ी के आंख में सुई चुभ सकती थी। चांद क्लब के खिलाड़ी के करतब को देखकर तो रोंगटे खड़े हो जा रहे थे। एक खिलाड़ी ने पूरे शरीर में सुईयां चुभों रखी थीं। उन सुईयों में नीबू लटका हुआ था। इसी क्लब के दूसरे खिलाड़ी के चेहरे पर मोमबत्ती जलाकर गर्म मोम टपकाया जा रहा था।
रामलीला समिति ने जुलूस का किया स्वागत
सांप्रदायिक सौहार्द को बनाए रखने के लिए मोहर्रम की दसवीं तारीख को रामलीला समिति ने जुलूस में शामिल लोगों तथा क्लबों के खिलाड़ियों का शानदार स्वागत किया, मिठाईयां बांटी। ताजियादारों एवं बेहतर प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को पुरस्कार भी दिया। रामलीला समिति ने बेहतर ताजिया एवं बेहतर खिलाड़ी के चयन के लिए एक समिति बनाया। इसमें नसीम अहमद, अनवारुल हसन, जावेद अहमद, फैजुर्रहमान, भृगुनाथ, अवतार सिंह, जफर महबूब, याकूब अंसारी, निखिल शामिल थे। चयन समिति ने मेवे से शहजादे कुरैशी के अगुवाई में बनाई गई अलीनगर की ताजिए को प्रथम पुरस्कार, दूसरा स्थान सुबहानी चौक के ताजिए को दिया गया। अमानत अली की अगुवाई में बनाई गई यह ताजिया मूंग, अरहर एवं मसूर की दाल से तैयार थी। तीसरा पुरस्कार जफर खैराती के ताजिए को मिला। यह मोती से बनाई गई थी। इसके अलावा अन्य दस ताजियों को स्पेशल पुरस्कार दिया गया। पुरस्कार वितरण डीएम कुमार रविकांत सिंह, पुलिस कप्तान एलआर कुमार और रामलीला समिति के अध्यक्ष मन्नन प्रसाद ने किया। रामलीला समिति से हरिनाथ, पवन कुमार, शहनवाज अहमद, राजेन्द्र, अरुण बरनवाल, कैलाश वर्मा समेत कई लोग शामिल थे। स्टार क्लब ने भी पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित किया। ताजिया का प्रथम पुरस्कार संयुक्त रुप से जफर खैराती, अमानमुल्लाह, शहजाद कुरैशी, शकील कुरैशी तथा अलीसेर को दिया गया।
यह रहे टॉप टेन खिलाड़ी
खिलाड़ियों के सीनियर वर्ग में मेराज अहमद, इमरान अहमद, आसिफ अंसारी, गुड्डू अंसारी, भोला अंसारी, फारुख, अकरम भोला, सुहेल, महमूद, टिक्कू रहे। वहीं जूनियर वर्ग में फहरान अहमद, शबाब हुसैन, शीबू खां, शहजादे अंसारी, सादाब, शाहंशाह खान, अब्दुल रहमान खिलाड़ियों को ढाक, तासा एवं झाल इनाम दिया गया।
ब्लेड से लगी चोट
बरहज। मोहर्रम के जुलूस में कलाबाजी दिखाने के दौरान नगर के आजाद नगर दक्षिणी शाह अखाड़ा के कामरान 25 के बांह में ब्लेड लग जाने से चोटिल हो गया। उसका नगर के प्राइवेट डाक्टर के यहां इलाज कराया गया।

Spotlight

Most Read

Rohtak

सीएम को भेजा पत्र

सीएम को भेजा पत्र

23 जनवरी 2018

Rohtak

एमटीएफसी

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: अलाव तापते वक्त हुआ विस्फोट, पुलिसकर्मी के खोए हाथ

देवरिया के जनपद रामपुर में अलाव तापते वक्त एक पुलिसकर्मी के साथ दर्दनाख हादसा हो गया। इस हादसे में पुलिसकर्मी के दोनों हाथ बुरी तरह झुलस गए।

14 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper