अब तो जागो सरकार, मचा है हाहाकार

Deoria Updated Wed, 10 Oct 2012 12:00 PM IST
देवरिया। जिले में बिजली कटौती के चलते गांव से लेकर शहर तक लोग परेशान हैं। बिजली आने-जाने का कोई तय समय नहीं है। किसान, गृहणियां, छात्र, नौजवान, व्यापारी हर तबका तबाह है। इसके अभाव में कहीं पानी नहीं मिल रहा है तो कहीं व्यापार चौपट हो रहा है। दवा की दुकानों पर फ्रिज में रखी दवाएं भी खराब हो जा रही हैं। यह स्थिति तब है जब विभाग का गांवों को 10 घंटा और शहर को 17 बिजली देने का दावा है। अनियंत्रित कटौती से लोगों में जबर्दस्त गुस्सा है। अधिशासी अभियंता एके सिंह का कहना है कि गांव को 10 और शहर को 17 घंटा बिजली दी जा रही है। सप्लाई कम मिलने से निर्धारित मात्रा से भी कम बिजली दी जाती है।
राघवनगर निवासी गृहणी प्रियंका मिश्र ने कहा कि बिजली की आंख मिचौली ने जीना मुहाल कर दिया है। घर का
सारा काम लालटेन और मोमबत्ती के सहारे निपटाना पड़ता है। रात को सोने के बाद बिजली आती है
और जगने से पहले चली जाती है।
संध्या विश्वकर्मा ने कहा कि बिजली कनेक्शन लेने से कोई फायदा नहीं है। घर में टुल्लू मोटर होने के बाद भी पानी के लिए हैंडपंप का ही सहारा लेना पड़ता है। भरपुर बिजली न मिलने के चलते घर में रखा फ्रिज भी बेमतलब साबित हो रहा है।
राघवनगर में रहने वाली उर्मिला देवी ने कहा कि कटौती का सीधा असर बच्चों की पढ़ाई पर पड़ रहा है। शाम और भोर में पढ़ाई के लिए बच्चों को बिजली नहीं मिलती है। केरोसिन का भाव भी आसमान छू रहा है। ऐसे में मुश्किल और बढ़ गई है।
मालवीय रोड के दवा व्यापारी लोकेश गोयल ने कहा कि बिजली कटौती ने नाक में दम कर दिया है। बिजली के अभाव में फ्रिज में रखने वाली दवाएं खराब हो रही हैं। इससे मेडिकल दुकानदारों का काफी नुकसान हो रहा है। कुछ दुकानदार तो फ्रिज में रहने वाली दवा रखना ही बंद कर दिए हैं।
रोस्टर को लेकर सांसद ने डीएम को लिखा पत्र
रोस्टर के विपरीत हो रही कटौती से व्यापारियों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। अनियमित कटौती से तंग व्यापारियों ने सदर सांसद गोरख प्रसाद जायसवाल का दरवाजा खटखटाया। उन्होंने व्यापारियों की समस्या को गंभीरता से लेते हुए डीएम से रोस्टर निर्धारित कराने की मांग की है। उन्होंने में विद्युत आपूर्ति सुबह नौ से चार बजे तक तथा अगली शाम छह बजे से अगले दिन सात बजे तक विद्युत आपूर्ति करने की मांग की है।
कटौती को लेकर कबीना मंत्री से मिले सभासद
बिजली कटौती से सभासदों का भी पारा चढ़ गया है। आधा दर्जन सभासदों ने कबीना मंत्री ब्रह्माशंकर त्रिपाठी से आपूर्ति बहाल कराने की मांग की है। सभासद गौहर अली सिद्दीकी, राजेश सिंह, अजय गुप्ता, सत्यप्रकाश सिंह पिंटू, अभय कुमार मल्ल, जितेन्द्र जायसवाल, सुबाष तिवारी, रमेश शर्मा समेत अन्य कई लोगों ने कटौती से हो रही दुर्दशा से उन्हें अवगत कराया है। उन्हाेंने रात को बिजली
आपूर्ति बहाल कराने का आश्वासन दिया है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी में नौकरियों का रास्ता खुला, अधीनस्‍थ सेवा चयन आयोग का हुआ गठन

सीएम योगी की मंजूरी के बाद सोमवार को मुख्यसचिव राजीव कुमार ने अधीनस्‍थ सेवा चयन बोर्ड का गठन कर दिया।

22 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: अलाव तापते वक्त हुआ विस्फोट, पुलिसकर्मी के खोए हाथ

देवरिया के जनपद रामपुर में अलाव तापते वक्त एक पुलिसकर्मी के साथ दर्दनाख हादसा हो गया। इस हादसे में पुलिसकर्मी के दोनों हाथ बुरी तरह झुलस गए।

14 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper