झमाझम बरसे बदरा, खिले किसान, शहरिए हलकान

Deoria Updated Fri, 06 Jul 2012 12:00 PM IST
बरहज। गुरुवार की दोपहर हुई हल्की बरसात से ही नगर में जल जमाव हो गया। सिल्ट से भरी नालियां उफना गईं और कीचड़ भरा पानी सड़कों पर पसरने लगा। घुटनों तक लगे पानी में लोगों का आना जाना मुश्किल हो गया। सीजन की इस पहली बरसात ने नगरपालिका क्षेत्र की सफाई व्यवस्था की पोल खोल दी। यह स्पष्ट हो गया कि नगर पालिका ने कागजों पर भले ही नाले साफ करवा दिए हाें लेकिन मौके पर तो बदहाली बजबजा रही है। बता दें कि नगर पालिका हर माह शहर की साफ सफाई पर साढ़े चार लाख रुपये खर्च करती है।
नगर क्षेत्र में चार हजार मीटर की लंबाई के मुख्य नाले बनाए गए हैं। वहीं वार्डों में सड़काें के किनारे करीब दस हजार मीटर लंबी नालियां हैं। सड़कों के साथ नालियों की सफाई के लिए 21 स्थाई व 30 संविदा सफाई कर्मचारी के साथ चार सफाई नायक एवं एक इंचार्ज लगाए गए हैं। इन पर प्रतिमाह चार लाख इकतालिस हजार रुपये बतौर वेतन नपा खर्च करती है। वार्ड से लेकर सड़क तक रोज होने वाली सफाई व्यवस्था से नगरवासी वाकिफ हैं। अब बरसात से पूर्व मई व जून माह में नाले की सफाई होनी थी लेकिन सफाई नहीं हुई। इसके चलते कूड़े एवं गंदगी से पटे नाले गुरुवार की दोपहर दस मिनट की बरसात में उफाना गए। जिससे मुख्य चौक पर नाले का गंदा पानी फैल गया। राहगीरों को गंदे पानी से होकर गुजरना पड़ा। मुख्य चौक से लेकर नन्दना वार्ड पश्चिमी, पटेलनगर, केवटलिया, आजाद नगर, पुराना बरहज आदि वार्डों की नालियों का गंदा पानी दुकानों व घरों में घुस गया। सबसे बड़ी दिक्कत छोटे स्कूली बच्चों को हुई। उन्हें गंदे पानी से होकर गुजरना पड़ा। पुराना बरहज के सोनू जायसवाल, पटेलनगर के मुसर्रफ, व्यवसाई राहुल जायसवाल, सावित्री राय एवं आजाद नगर के आनंद सोनी का कहना है वैसे भी मेन नालेे से लेकर नालियों की सफाई नपा कर्मी कभी कभार ही करते हैं। बरसात को देखते हुए नालों की सफाई अब तक नहीं हुई। गुरुवार को हुई बरसात से उपजी गंदगी ने सभी को घर से निकलना मुश्किल कर दिया। शीघ्र सफाई नहीं हुई तो आने वाले दिनों में और भी मुश्किलें पैदा कर देगा। इस बाबत एसडीएम त्रिभुअन विश्वकर्मा ने कहा कि शीघ्र नालाें की सफाई कराई जायेगी।
खेतों में लौटी रौनक
सलेमपुर। लंबे समय से बारिश का इंतजार कर रहे किसानों को रिमझिम बदरा ने रिझा दिया। पानी बरसते देख किसानों के चेहरे खिल उठे और गर्मी से लोगों को थोड़ी राहत मिली। वहीं नालियां जाम होने से नगर की सड़कों पर नालियों का गंदा पानी बहने लगा। कई दुकानों में पानी घुस गया। बस स्टैंड के समीप राज्य सेतु द्वारा बने गड्ढे पानी से भर गए। जिससे कई बाइक सवार गिरकर घायल हो गए। गुरुवार का दिन सलेमपुर नगर और आसपास के गांवों के किसानों के लिए राहत भरा था। लंबे समय के इंतजार के बाद इंद्रदेव प्रसन्न हुए और एक घंटे तक झमाझम बारिश हुई। किसान धान की बेहन और रोपाई करने की तैयारी कर रहे थे। वहीं अरहर, मक्का, तिल, बाजरा आदि का बुवाई करेंगे। नगर के सोहनाग मोड़, बस स्टैंड, भगत सिंह मार्ग, रेलवे स्टेशन, टीचर्स कालोनी, किशोरगंज वार्ड, परशुराम धाम सहित दर्जनों स्थानों पर नालियां जाम होने से बरसात का पानी सड़कों पर बह रहा था। पानी की निकासी नहीं होने से कई दुकानों में पानी घुस गया। जिससे राहगीरों तथा नगरवासियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। इससे नगर पंचायत प्रशासन की बरसात में तैयारियों की पोल खुल गई। नगर की नालियां जाम पड़ी है। सड़कों पर जगह जगह पानी लग गया है।

...और डूबो ही दिया भगवान शिव को
मझौलीराज। बारिश के लिए भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए नगर के युवकों ने गुरुवार की सुबह भगवान शिव का जलाभिषेक किया। उन्होंने मंदिर के जलनिकासी के रास्तों को बंदकर दर्जनों बाल्टी पानी में शिवलिंग को डुबो दिया। दिलचस्प यह रहा कि उनकी इस अनोखी पूजा के कुछ ही घंटों बाद जमकर बरसात हुई।
नगर के वार्ड संख्या 13 चौबे टोला में बने शिव मंदिर में मुख्य द्वार को छेद को मिट्टी से बंदकर दिया और दर्जनों युवक सुबह करीब आठ बजे कतार में खड़े होकर बाल्टी के पानी से शिवलिंग पर जल चढ़ाने लगे। युवकों का कहना था कि बारिश के लिए हम लोग भगवान को खुश करने के लिए शिवलिंग को पानी में डुबो रहे हैं। शिवलिंग पर जलाभिषेक के बाद चार पांच घंटे बाद ही इंद्रदेव की कृपा हुई और झमाझम बारिश से किसानों के चेहरे खिल उठे। जलाभिषेक करने वालों में चंद्रप्रकाश सिंह, राहुल गोंड, मुन्ना सिंह, टुनमुन सिंह, अखिलेश, रीतेश, रमेश कुशवाहा, विकास, अजय, राजनारायण चतुर्वेदी, नंदकिशोर, विवेक दूबे, वीरेंद्र, चंदन, इंद्रजीत, दिनेश आदि रहे।

पहली फुहार भी नहीं झेल पाया नगर
रुद्रपुर। बृहस्पतिवार को सावन की पहली फुहार ने नगर पंचायत की सफाई और जलनिकासी की व्यवस्था का पूरा पोल खोल दिया। दो घंटे की झमाझम बारिश से उपनगर की सारी नालियां उफना कर सड़क पर बहने लगी। मुहल्लों में जाम नालियों के कारण शहर का कचरा लोगों के घरों में घुस गया। खजुहा चौराहे पर मुख्य सड़क पूरी तरह लबालब हो गया। यहां खजुहा गांव को जाने वाली सड़क के नीचे नाली का पूरा कचरा भर गया। मोहन हलवाई के दुकान के सामने चौराहे का पूरा कचरा जमा हो जाने से चारो तरफ दुर्गंध फैल गया। बस स्टेशन चौराहे का भी कमोवेश यही हाल रहा। यहां पूरा बस स्टेशन परिसर पानी से भर गया। यात्रियों को बस पर बैठने में पानी से होकर जाना पड़ा। आदर्श चौराहे पर सुंदरीकरण के नाम पर खुदी सड़क हल्की बरसात में नरक बन गई। कई राहगीर फिसल कर गिर पड़े। उपनगर के खुजहा चौराहे पर कीचड़ और बरसात का पानी फैल कर दुकानों में घुसने लगा। आदर्श चौराहे पर तीन माह से खोद कर छोड़ी गई सड़क पर फिसलन तेज हो गई है। जिससे चौराहे के लोगाें की परेशानियां बढ़ गई। वहीं बस स्टेशन परिसर में पानी लग जाने से सवारियाें को दिक्कते उठानी पड़ी। इस संबंध में अधिशासी अधिकारी बीएन मिश्रा ने कहा कि सफाईकर्मियाें को सफाई में तेजी से लगा दिया जाएगा।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: अलाव तापते वक्त हुआ विस्फोट, पुलिसकर्मी के खोए हाथ

देवरिया के जनपद रामपुर में अलाव तापते वक्त एक पुलिसकर्मी के साथ दर्दनाख हादसा हो गया। इस हादसे में पुलिसकर्मी के दोनों हाथ बुरी तरह झुलस गए।

14 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper