कुचारम को पर्यटन विकास की जरूरत

Chitrakoot Updated Fri, 05 Oct 2012 12:00 PM IST
ग्राम पंचायत - कुचारम
विकास खंड- पहाड़ी
आबादी- 4000
वोटर-1500

मढ़ी माता का प्राचीन मंदिर है कुचारम की पहचान
चित्रकूट। पुराने समय से यहां का मढ़ी माता का मंदिर इस स्थान की पहचान रहा है। हालांकि लोगों का कहना है कि इसको पर्यटन के रूप में विकसित करने पर प्रशासन और जिम्मेदार जनप्रतिनिधि ध्यान नहीं देते। लोगों का दावा है कि यह सिद्धपीठ है। हाल के सालों में यहां के विकास से लोग संतुष्ट तो हैं पर उनका मानना है कि काफी विकास संभव है। जिले के अन्य स्थानों की तरह यहां के मंदिर की उपेक्षा से लोग दुखी हैं। गांव में जलनिकासी की समस्या बड़ी है। प्रधान का कहना है कि लगभग पांच सौ मीटर नाले की जरूरत है, जिसके लिए इस्टीमेट बनाया जा रहा है। बारिश में इससे काफी परेशानी होती है।
--------------
इनसेट
प्रधान से बातचीत-
प्रमुख समस्याएं क्या हैं?
- सबसे बड़ी समस्या गांव की सड़कों पर लोगों का अतिक्रमण है। कई बार इसके लिए थाने में तहरीर भी दे चुके हैं पर कोई सुनवाई नहीं हुई। लगभग पचीस घरों के लोगों का आवागमन इससे बाधित हो रहा है।
- विकास के लिए कितना धन चाहिए?
विकास के लिए जितना भी पैसा मिल जाए कम है। विकास के लिए धन की कोई सीमा नहीं होती।
- कोई महत्वाकांक्षी योजना?
अनुसूचित जाति के लोगों के लिए आवासों की आवश्यकता। लगातार प्रयासरत हूं।
-------------
इनसेट
गांव एक नजर में
मुख्यालय से लगभग पांच किमी की दूरी पर पहाड़ी से देवल मार्ग जाने पर पश्चिम दिशा में यह गांव पड़ता है। इसके पूर्व में पहाड़ी ब्लाक मुख्यालय और पश्चिम में देवल, उत्तर में कलवारा और दक्षिण में पचोखर गांव है। मजरे रहूनीपुरवा, रामबहोरीपुरवा, मढ़ीका पुरवा हैं।
------------------
इनसेट
ग्राम पंचायत में कुल बजट
मनरेगा:
आया 2.80 लाख, खर्च-1.20 लाख
राज्य वित्त
आया- दो लाख, खर्च- 1.7 लाख

सरकारी योजनाओं से क्या क्या मिला-
बीपीएल राशनकार्ड -240
अंत्योदय राशनकार्ड- 74
वृद्धावस्था पेंशन- 51
विधवा पेंशन- 12
रानी लक्ष्मीबाई पेंशन-17
जाबकार्ड- 255
-----------
हुए विकास कार्य-
- शिवपाल, देशराज, सरजो, गुलाब, गया के खेतों का समतलीकरण और मेड़बंदी।
- देवल मेनरोड से बिसंडा रोड तक डब्लूबीएम रोड।
- राजेश की दुकान से शिवसंपत के दरवाजे तक नाली निर्माण।
- बालकृष्ण के दरवाजे से छेदीलाल के दरवाजे तक नाली व खडंजा।
- देवल मेनरोड से नहर की पटरी तक मिट्टी और मोरंग बिछान एक किमी तक।
- भगवा तालाब खुदाई, काजी और सुदामा तालाबों में पौधरोपण,
----------
इनसेट
संभावित कार्य
- मेन रोड से गांव तक डामरीकरण अथवा सीसी रोड छह सौ मीटर।
- जगन विश्वकर्मा के दरवाजे से बाबूयादव के दरवाजे तक नाली और संपर्क मार्ग।
- देवल रोड नहर से सिकरी रोड तक संपर्क मार्ग एक किमी।
----------
इनसेट
गांव की सरकार
प्रधान- राजधर द्विवेदी
ये हैं पंचायत समिति सदस्य
रामसरन सिंह, दुर्गाप्रसाद सिंह, उत्तरा देवी, शिवमूरत पांडे, सत्यवती, सिपाही लाल, प्रेमचंद्र, माताप्रसाद, शिवप्रसाद, कल्पना देवी, सुशीला।
---------------------------
पंचायत संबंधी समस्याओं के लिए हमारे पहाड़ी प्रतिनिधि अखिलेश दीक्षित से मोबाइल 9984902881 पर संपर्क कर सकते हैं।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper