कहीं जाम तो कहीं एक फुट गहरे गड्ढे

Chitrakoot Updated Mon, 16 Jul 2012 12:00 PM IST
चित्रकूट। जिले में कही सडकें खराब है तो कही जाम की समस्याओं से जिले के लोग जूझ रहे हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग पर कोलगदहिया से शिवरामपुर तक सड़क में गड्ढे ही गड्ढे हो गए हैं। इन पर आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती हैं लेकिन हाइवे के अधिकारियों को इससे थोडे ही मतलब है। वे सड़क पर किसी बडे हादसे की इंतजार कर रहे हैं। कर्वी मुख्यालय में यूनियन बैंक के पास सड़क में तो गड्ढों में पानी भर जाने से पैदल चलने वालों, मोटरसाईकिल, साइकिल चालकों को दुर्दशा झेलनी पड़ती है। अगर उसी समय बड़ा वाहन पास से गुजर गया तो सारी कीचड़ उन्हीें के उपर पड़ जाती है।
सड़को पर चलने वालों के लिए इतनी मुसीबत है कि रेलवे स्टेशन के सामने टेंपोवालों की अराजकता से ट्रेन के आने जाने पर जाम जैसा दृश्य उत्पन्न हो जाता है। लेकिन न तो रेलवे प्रशासन ना ही आरटीओ की इस पर नजर पड़ती है। वही जिले में सड़को में हुए गड्ढे पैदल व मोटरसाइकिल से चलने वालों के लिए मुसीबत का सबब बने हुए है। राष्ट्रीय राजमार्ग पर इलाहाबाद रोड के शोभा सिंह का पुरवा निवासी नरेंद्र ने बताया कि सड़क का पानी तो बारहाें महीने इसी तरह से भरा रहता है। उपर से ओवर लोड ट्रकों से रोड पर काफी गहरे गड्ढे बन गए हैं। नरेंद्र ने बताया कि इस पर एक टैक्टर कुछ दिन पहले अनाज लादे हुए पलट गया जिससे उसका अनाज वहीं पर गिर गया। उसने बताया कि एक सप्ताह पहले मोटर साइकिल पर बैठी महिला पानी में मोटर साइकिल फिसल जाने से गिर गई थी। वहीं के संतू ने बताया कि सड़क के एक किनारे से नाला होने से एक साइड में सूखा रहता है। सड़क के उत्तर साइड में नाला न होने से राजाराम यादव के घर से लेकर पिपरावल पुल तक लोगों के घरों का पानी निकल कर रोड पर फैलता है अगर किसी विभाग से वहां पर नाला बनवा दिया जाए तो सड़क पर पानी नहीं बहेगा। शोभा सिंह के पुरवा के सुनील गर्ग ने बताया कि सड़क की काफी दिनों से मरम्मत न होने से सड़क की दुर्दशा हो रही है। नीलू तिवारी का कहना है कि इसके बारे में शिकायत भी हुई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई अब बरसात होने के बाद दो मजदूर लगकर गड्ढों में गिट्टी व मोरंग डाल रह है लेकिन अब इससे कोई फायदा होने बाला क्योंकि दो चार दिनों में ही यह गड्ढे फिर जस के तस हो जाएंगे। सड़क पर गिट्टी डाल रहे मजदूरों के मेट द्वारिका प्रसाद ने बताया कि उनके अधिकारी बांदा मं रहते हैं वह इस क्षेत्र के मेट हैं इससे वही मिट्टी डलवाने का काम कर रहे हैं। उसने बताया कि इस मार्ग का उच्चीकरण होना है। इसकी वजह से यह बन नहीं पा रही थी इस बीच अधिकारियों के तबादलों से भी काफी दिनों तक रोड की मरम्मत का काम नहीं हो सका। शिवरामपुर प्रतिनिधि के अनुसार मिर्जापुर-झांसी राष्ट्रीय राजमार्ग में सत्यगोपाल गुप्ता के मकान के सामने से देवी जी तक कई बार लोग मोटरसाईकिल से दुर्घटनाग्रस्त हो चुके हैं। सावन का महीना होनेे से जो लोग वहां पर बने शंकर जी के मंदिर से जो श्रद्धालु पैदल जाते है उस समय उनके पास से कोई ट्रक या बस के गुजरने पर उनके कपड़े कीचड़ से भर उठते हैं। अमवस्या से नेशनल हाइवे के गड्ढों से कोई बड़ा हादसा भी हो सकता है।
कैलाश पटेल, शिवप्रसाद पटेल, बसंतलाल दूबे, गया शिवहरे, मनोज जायसवाल, संजय जायसवाल, पप्पू खान, रामसुजान कपाड़िया आदि नेशनल हाइवे अथारिटी के जिम्मेदारों से मांग की कि सड़क के गड्ढों को भरा जाय नहीं तो ये गड्ढे किसी बड़ी दुर्घटना को दावत देगे।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper