रास्ता अपनाया एक पर वजह अलग

Chitrakoot Updated Wed, 11 Jul 2012 12:00 PM IST
चकबंदी मामले की जांच के एडीएम को आदेश
चित्रकूट। चकबंदी विभाग के खिलाफ धरना-प्रदर्शन कर रहे जमहिल के निवासियों से मंगलवार को जिलाधिकारी डा आदर्श सिंह ने मुलाकात की और उनकी समस्या सुनने के बाद एडीएम को मामले की जांच के आदेश दिए हैं।
ज्ञात हो कि सोमवार को देवकली गांव के जमहिल मजरे के निवासियों ने जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचकर उनसे मुलाकात करनी चाही थी। लेकिन मुलाकात न होने पर उन्होंने चकबंदी अधिकारियों पर धांधली का आरोप लगाकर धरना शुरू कर दिया था। केशन प्रसाद, बुद्धिमान, सत्यनारायण, छोटा प्रसाद, महेश, हेमराज, हरिप्रसाद, श्यामबिहारी, उमाशंकर, अवध बिहारी, ननकू प्रसाद गर्ग, लक्ष्मी तिवारी, हेमराज, रामनरेश, द्वारिका सिंह, प्रीतम बौरी देवी और राजधर आदि ग्रामीणों का आरोप था कि चंद बड़े और दबंग किसानों से पैसे लेकर चकबंदी प्रक्रिया के आकार पत्र 23 में गलत तरीके से आवंटन किया गया और सामान्य किसानों को नाला ऊसर व कंकरीली पथरीली जमीन खेतों के रुप में दे दी गई।मंगलवार को ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि जिलाधिकारी कार्यालय में तैनात होमगार्डों ने उन्हें रात के वक्त कैंपस से बाहर कर दिया जिससे उन्हें रात खुले आकाश के नीचे भीगते हुए बितानी पड़ी। मंगलवार को जिलाधिकारी ने ग्रामीणों से मिलकर मुलाकात की और समस्या सुनने के बाद एडीएम केशवदास को मामले की जांच करने के आदेश दिए।

अगर गेहूं नहीं खरीदें तो न घोषित करें बकाएदार
मऊ(चित्रकूट)। भारतीय किसान यूनियन की मऊ इकाई किसानोें के पक्ष में आठ बिंदुओं के मांग पत्र के साथ तहसील मऊ के सामने अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन कर रही है। लेकिन अभी तक कोई जिम्मेदार अधिकारी हाल जानने नही पहुंचा। किसान नेताओं की मांग है कि अगर प्रशासन कर्जदार किसानों का गेहूं न खरीद सके तो कम से कम उन्हें बकाएदार तो घोषित न करे।
छह दिन से तहसील मुख्यालय के सामने धरना-प्रदर्शन कर रहे किसान नेताओं ने कहा कि उन्होंने किसानों के साथ हो रही लूट और उपेक्षा पर अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन शुरु किया है। धरने को संबोधित करते हुए पूर्व प्रधान पराको छेदीलाल गोस्वामी ने आरपार की लड़ाई में किसान हित का समर्थन करने की बात कही। पहाड़ी के शिवकमल मिश्र ने प्रशासन से किसानों की मांगों पर विचार करने की बात कही। जिलाध्यक्ष राम सिंह पटेल ने प्रदेश संगठन का संदेश सुनाते हुए कहा कि आवश्यकता पड़ने पर वह भी धरने में शामिल हो जाएंगे, से लोगों का हौसला बढ़ाया। उन्होंने कहा कि पर्याप्त संसाधन होते हुए भी कर्जदार किसानों का गेहूं न खरीदा जाना व कृ षकों को बकाएदार घोषित करना दु:खद स्थिति है। जिसकी जिम्मेदार भ्रष्ट शासन की अव्यवस्था है। प्रशासन के रवैये से दुखी यूनियन के जिला उपाध्यक्ष विजयबहादुर सिंह, तहसील उपाध्यक्ष वीरेंद्र ने आमरण अनशन की घोषणा की है।

Spotlight

Most Read

Pratapgarh

अभी तक एक भी अपात्र से नहीं हुई रिकवरी

अभी तक एक भी अपात्र से नहीं हुई रिकवरी

20 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper