अब मऊ ब्लाक प्रमुख सपाइयों के निशाने पर

Chitrakoot Updated Tue, 01 May 2012 12:00 PM IST
मऊ के 43 क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने सौंपा जिलाधिकारी को शपथ पत्र
चित्रकूट। चित्रकूट, रामनगर और अब मऊ। समाजवादी पार्टी से सदर विधायक वीरसिंह लगता है कि ठान चुके हैं कि अब जिले के ब्लाक प्रमुखों को जाना होगा और नया प्रमुख सत्तासीन होगा। सोमवार को 43 क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने जिलाधिकारी डा. आदर्श सिंह से मिलकर शपथ पत्र सौंप अविश्वास प्रस्ताव लाने के पहले कदम की औपचारिकता पूरी कर दी। हालांकि आज सदस्यों के साथ सदर विधायक शहर में होने के बाद भी मौजूद नहीं थे।
सत्ता बदलने के बाद बसपा से हिसाब पूरा करने और कथित रूप से अन्याय के खिलाफ बिगुल बजाने में लगे सदर विधायक की नजर अब मऊ ब्लाक प्रमुख की सीट पर है। सोमवार को बसपा गुट के बीडीसी सदस्य जिलाधिकारी डा. आदर्श सिंह से मिले। लगभग एक बजे शुरू हुई मुलाकात महज पंद्रह मिनट में निपट गई। ब्लाक के 64 में से 43 सदस्यों ने डीएम को शपथ पत्र सौंपकर अविश्वास प्रस्ताव की बैठक बुलाने का अनुरोध किया तो उन्होंने विधिसम्मत कार्रवाई का भरोसा दिया। इस दौरान शिवशंकर यादव के अलावा चंचल चित्त, अर्जुन सिंह बघेल. हरीमोहन यादव, जगत पाल, श्याम सिंह, ब्रजेंद्र सिंह, संतराम सिंह, भूपत सिंह समेत 17 महिला सदस्य भी थीं।
डटकर करूंगी सामना- उर्मिला देवी
ब्लाक प्रमुख मऊ उर्मिला देवी ने अपने खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को राजनीति षड्यंत्र बताया। उन्होंने कहा कि पहले वह सदस्यों के आरोपों को देखेंगी और फिर आगे की रणनीति तय करेंगी। उन्होंने कहा कि वह डटकर अविश्वास प्रस्ताव का सामना भी करेंगी और अपने खिलाफ एक एक आरोप का जवाब देंगी।

बैठक में बन गई थी रूपरेखा
जिलाधिकारी को प्रस्ताव के लिए शपथपत्र सौंपने के पहले ब्लाक के 64 में से 43 सदस्यों की बैठक दूधाधारी आश्रम खंडेहा में हुुई। बताया जाता है कि इसमें विधायक भी पहुंचे थे। इसमें उर्मिला देवी के कार्यकाल पर चर्चा हुई और विकास कार्यों की उपेक्षा का आरोप लगाते हुए इनको पदच्युत करने की रणनीति को अंजाम दिया गया।
पिछले दिनों ही बुलाई थी बैठक
ब्लाक प्रमुख मऊ उर्मिला देवी ने शनिवार को ही क्षेत्र पंचायत सदस्यों की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में ही यह कयास लगने शुरू हो गए थे कि यह उर्मिला देवी की अंतिम बैठक न साबित हो। शायद यही कारण था कि जहां इस अतिमहत्वपूर्ण बैठक, जिसमें गांवों के विकास कार्य तय होने थे, रूपरेखा बननी थी, चुनिंदा सदस्य ही मौजूद थे और अधिकारियों की मौजूदगी भी नाममात्र थी। बैठक महज एक घंटा चली थी और सलाम-नमस्ते के बाद चायपान तक सीमित रही थी।
कहां हैं दद्दू
उधर, राजनीतिक हल्कों में यह बात भी चर्चा का विषय बनी हुई है कि आखिर बसपा के कद्दावर नेता और ब्लाक प्रमुखों की ताजपोशी में प्रमुख भूमिका निभाने वाले पूर्व ग्राम्य विकास मंत्री दद्दू प्रसाद की तरफ से कोई बयान क्यों नहीं आ रहा? बसपाई खेमे में इस बात को लेकर छटपटाहट भी है कि अब इस संकट की घड़ी में कोई दमदार नेता सामने आकर बोलने की हिम्मत तक नहीं कर रहा। दद्दू प्रसाद की तरफ से किसी तरह की प्रतिक्रिया के सामने न आने से उनके अगले राजनीतिक कदम को लेकर भी तरह तरह के कयास लगाए जाने लगे हैं।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाले में लालू की नई मुसीबत, चाईबासा कोषागार मामले में आज आएगा फैसला

चारा घोटाला मामले में रांची की स्पेशल सीबीआई कोर्ट बुधवार को सुनवाई करेगी। स्पेशल कोर्ट जज एस एस प्रसाद इस मामले में फैसला देंगे।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper