नशेड़ी डंपर चालक ने ली दो मासूमों की जान, छह घायल

Chitrakoot Updated Wed, 24 Oct 2012 12:00 PM IST
भरतकूप (चित्रकूट)। नशे में धुत एक डंपर चालक ने हाईवे में दो मासूम बच्चों की जान ले ली। डंपर में बैठे पांच मजदूर, जिनमें तीन सगी बहनें हैं, गंभीर रूप से घायल हो गए। इनमें दो लोगों को इलाहाबाद रिफर कर दिया गया बाकी का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। एक टेंपो सवार भी घायल हुआ है।
घटना मंगलवार की दुपहर लगभग साढ़े बारह बजे की है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बांदा की ओर से आ रहा एक डंपर भरतकूप के पास अचानक अनियंत्रित हो गया। तेज गति से चले आ रहे इस डंपर के चालक लवकुश पुत्र बट्टू निवासी गोंडा (भरतकूप) ने पहले एक टेंपो को टक्कर मारी, जिससे उस पर सवार शैलेंद्र (24) पुत्र लक्ष्मी निवासी भरतकूप को चोट आई। इसके बाद चालक इस पर पूरी तरह से नियंत्रण खो बैठा। पास के देवी पांडाल को बचाने के चक्कर में चालक ने साइकिल में डीजल का केन टांगे सड़क के किनारे पैदल जा रहे सतेंद्र उर्फ ऋषिराज (13) पुत्र हरिश्चंद्र निवासी भारतपुर और उसके मामा रामचंद्र निवासी मऊ टिटिहरा के लड़के चुनकावन उर्फ रोहित (11) को चपेट में ले लिया जिससे दोनों बच्चों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। साइकिल क्षतिग्रस्त गई। चालक का नशा इसके बाद भी नहीं उतरा और उसने पास में क्रेशर के किनारे बाई ओर खड़े एक ट्रक को टक्कर मारी और फिर वहीं पेड़ से टकराकर रुक गया। इस जोरदार टक्कर में खड़े ट्रक का अगला भाग ध्वस्त हो गया, वहीं डंपर में पीछे बैठे मजदूर बिट्टी (18), रेखा (20) और अन्नू (22) तीनों पुत्री भरतलाल निवासी सरबगई (मझगवां मप्र) के साथ उन्हीं के गांव का विपिन (24) पुत्र मास्टर और रियाज खां (23) पुत्र असलम निवासी गोंडा (भरतकूप) छिटक छिटक कर दूर जा गिरे। टक्कर में विपिन की बाएं हाथ की हथेली कटकर गिर पड़ी। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां जिलाधिकारी डा. बलकार सिंह और पुलिस अधीक्षक मोहित गुप्ता ने पहुंचकर परिजनों को ढांढस बंधाया और सीएमओ डा. केसी सिंह और सीएमएस आरबी गौतम से इलाज की जानकारी ली। डंपर चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है। गंभीर रूप से घायल अन्नू और विपिन को इलाहाबाद रिफर कर दिया गया है।

इनसेट -------------------
बहन के विलाप से लोगों की आंखें भर आईं
दुर्घटना भीषण थी। मौके पर सबसे पहले सतेंद्र की बहन सचिन (14) पहुंची और भाई को कफन में ढके देख पछाड़ मार कर गिर पड़ी। ऐ मोर भइया, अब मैं केहिके साथ रहिहऊं, मैं मर जइहूं, कहते हुए सचिन का विलाप लोगों को दहला गया। हम उम्र भाई की मौत का सदमा बर्दाश्त करना उसके लिए मुश्किल था जब पुलिसकर्मियों ने शव को उठाना चाहा तो वह रोते हुए बोली, मम्मी-पापा को तो आ जाएं दो, तो लोगों के आंसू निकल पड़े।

इनसेट -------------------
दशहरा के एक दिन पहले जीजा-साले के घर में सन्नाटा
हरिश्चंद्र के दो पुत्र थे और एक पुत्री सचिन। बताया जाता है कि उसके साले रज्जन उर्फ रामचंद्र के घर मऊ टिटिहरा से आज ही ममेरे-फुफेरे भाई लौटे थे और फिर पेट्रोल पंप से डीजल लेने चले गए थे। दोनों परिवारों के लोग रो रोकर यही कह रहे थे कि त्योहार से एक दिन पहले लाड़ले चले गए।

इनसेट -------------------
तनावपूर्ण स्थिति को अफसरों ने संभाला
हाइवे पर हुई इस दुर्घटना से स्थिति तनावपूर्ण हो गई। कुछ लोग रास्ता जाम करने की तैयारी भी करने लगे। एसडीएम वीके गुप्ता, सीओ सिटी एससी रावत, एसओ विकास तोमर, एसओ दीपक पांडे आदि जब बच्चों की लाशों को पोस्टमार्टम को भेजने लगे तो ग्रामीणों ने इसका विरोध किया। कुछ आक्रोशित लोगों ने तो यहां तक कहा कि जब तक आला अफसर नहीं पहुंचेंगे लाशों को उठने नहीं दिया जाएगा। पर इस दौरान अफसरों ने संयम से काम लिया और स्थिति बिगड़ते बची। इस बीच आनन-फानन में एक एंबुलेंस में अफसरों ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस पूरे वाकये के दौरान एक सपा नेता अशोक और एसओ विकास तोमर के बीच जमकर नोकझोंक हुई। एसओ का कहना था कि अशोक राजनीति चला रहे हैं। इस दौरान लोगों की तरह तरह की बातें सुनकर पुत्र को खो चुका हरिश्चंद्र चिल्ला पड़ा- हम कुछ नहीं चाहते, आप सब लोग अपने थाने-पवाने चले जाओ।

इनसेट -------------------
सपाइयों ने व्यक्त की शोक संवेदना
चित्रकूट। सांसद आरके पटेल ने पोस्टमार्टम हाउस पहुंचकर मृतकों के परिजनों को सांत्वना दी और सदर विधायक वीर सिंह ने भी परिजनों को ढांढस बंधाया। जिलाध्यक्ष सपा राजबहादुर सिंह यादव, अनिल शर्मा, शिवशंकर यादव, मो. आमिर फारुकी, ओपी यादव, फराज खान, ओपी यादव, रामचंद्र वर्मा आदि ने भी शोक संवेदना व्यक्त की है। कई अन्य सपा नेता पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे और परिजनों को ढांढस बंधाया।


Spotlight

Most Read

Budaun

संरक्षित स्मारक रोजा को मजहबी रंग देने की कोशिश

संरक्षित स्मारक रोजा को मजहबी रंग देने की कोशिश

21 जनवरी 2018

Related Videos

यूपी में कोहरे का कहर जारी, ट्रक और कार की टक्कर में तीन की मौत

कन्नौज के तालग्राम में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर कोहरे के चलते एक भीषण सड़क हादसा हो गया। कोहरे की वजह से पीछे से आ रही कार के चालक को सड़क पर खड़ा ट्रक  नजर नहीं आया और उनमें कार जा टकराई। हादसे में तीन की मौत हो गई।

10 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper