एप बताएगा गांव की स्वच्छता की जमीनी हकीकत

Varanasi Bureau वाराणसी ब्यूरो
Updated Thu, 16 Sep 2021 10:44 PM IST
App will tell the ground reality of village cleanliness
विज्ञापन
ख़बर सुनें
पीडीडीयू नगर। सरकार एसएसजी एप्लिकेशन (स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण) के जरिए गांवों में सफाई की हकीकत परखेगी। लोग मोबाइल में एप डाउनलोड कर अपना फीडबैक दे सकते हैं। ग्रामीणों की राय के आधार पर ही ग्राम पंचायतों को अंक दिए जाएंगे। इससे लोगों को जहां अपनी बात शासन तक पहुंचाने का मौका मिलेगा। वहीं स्वच्छता अभियान के नाम पर लाखों रुपये डकारने वाले प्रधान, सचिव व पंचायती राज विभाग के अधिकारी-कर्मचारी भी बेनकाब होंगे।
विज्ञापन

ग्रामीण इलाकों में खुले में शौच की परंपरा समाप्त नहीं हो रही। ऐसे में केंद्र सरकार ने अभियान की हकीकत परखने के लिए स्वच्छ सर्वेक्षण कराने का निर्णय लिया है। इसके लिए शासन से एजेंसी नियुक्त की गई है। इस मुहिम में आमजन को सहभागी बनाया जाएगा। लोग मोबाइल में एप्लिकेशन अपने मोबाइल में अपलोड कर इस पर फीडबैक दे सकते हैं। इसके आधार पर ही एजेंसी ग्राम पंचायतों को नंबर देगी। जिन ग्राम पंचायतों का प्रदर्शन बेहतर होगा, उनके लिए तो चिता की कोई बात नहीं, लेकिन जहां स्थिति खराब होगी, उनकी जवाबदेही तय की जाएगी। ऐसे अधिकारियों-कर्मचारियों व ग्राम प्रधानों पर गाज भी गिर सकती है।

केंद्र सरकार के निर्देश पर स्वच्छता सर्वेक्षण किया जा रहा है। लोग मोबाइल पर एप्लिकेशन अपलोड कर अपना फीडबैक दे सकते हैं। इससे हकीकत का पता चलेगा।
-अजितेंद्र नारायण, सीडीओ

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00