कोहरे के कारण तीन ट्रेनें हुईं निरस्त

Chandauli Updated Sat, 29 Dec 2012 05:30 AM IST
मुगलसराय। स्थानीय रेलवे स्टेशन पर शुक्रवार को कोहरे के कारण डाउन की तीन ट्रेनें निरस्त कर दी गईं। जबकि राजधानी एक्सप्रेस सहित प्रमुख ट्रेनों के लेटलतीफी का सिलसिला बदस्तूर जारी है। इससे यात्री जहां इस ठंड में हलाकान दिखे, वहीं इस दौरान मुख्य पूछताछ काउंटर पर ट्रेनों की जानकारी लेने के लिए यात्रियों की भीड़ लगी रही।
विलंबित डाउन की ट्रेनाें में 12320 कोलकाता एक्स आठ घंटे, 12495 कोलकाता प्रताप एक्सप्रेस सात घंटे, 14056 ब्रह्मपुत्र मेल पांच घंटे, 13238 मथुरा पटना 11 घंटे, 12506 नार्थ ईस्ट 17 घंटे, 12802 पुरूषोत्तम नौ घंटे, 12336 भागलपुर तीन घंटे, 12370 उपासना दो घंटे, 12488 सीमांचल एक्सप्रेस 13 घंटे, 12988 अजमेर सिलायलदह 12 घंटे, 12312 कालका मेल पंद्रह घंटे, 22224 भुवनेश्वर राजधानी 17 घंटे लेट रही।
इसी प्रकार अप की ट्रेनों में 13005 पंजाब मेल छह घंटे, 12333 विभूति छह घंटे, 13039 जनता मेल दो घंटे, 12487 सीमांचल एक्सप्रेस आठ घंटे तक विलंबित रही। घंटों लेटलतीफी के कारण 13040 जनता मेल, 13112 लालकिला एक्सप्रेस और 15484 महानंदा एक्सप्रेस को रद्द कर दिया गया।
बता दें कि रेल प्रशासन द्वारा अप 02393/ 02394 डाउन पटना आनंद विहार स्पेशल ट्रेन तथा गया आनंद विहार के बीच चलने वाली अप 02397/02398 डाउन स्पेशल ट्रेनों का परिचालन 28 दिसंबर 2012 से बंद कर दिया गया है। पूर्व मध्य रेलवे के मंडल वाणिज्य प्रबंधक आईसी एनके सिंह के मुताबिक रेल प्रशासन द्वारा इन दोनों स्पेशल ट्रेनों का परिचालन बंद करने का निर्णय संरक्षित गाड़ी परिचालन व्यवस्था को बनाये रखने तथा कुहासे के कारण उत्पन्न स्थिति को ध्यान में रखत हुये किया गया है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

परिवारवालों को था घर पर इंतजार लेकिन पहुंचा झंडे में लिपटा जवान का शव

बॉर्डर पर पाक लगातार नापाक हरकतें कर रहा है। पाक की तरफ से लगातार सीजफायर का उल्लंघन हो रहा है। इस दौरान कई जवान शहीद हो गए। शहीद होने वालों में एक चंदौली का जबाज भी था। जबाज सैनिक 15 फरवरी को घर आना था।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls