शक्ति की भक्ति में डूबे गांव-शहर के लोग

Chandauli Updated Tue, 23 Oct 2012 12:00 PM IST
मुगलसराय। जिले में शारदीय नवरात्र के अष्टमी के दिन मां जगदंबा की दर्शन के लिए जैसे जैसे शाम की चादर में शहर लिपटता गया वैसे वैसे आस्था के फूल खिलते गए...। क्या पुरुष क्या महिलाएं और क्या बच्चे सभी एक आस्था और विश्वास के साथ पूजा पंडालों की तरफ खिंचते चले जा रहे थे और देखते देखते नदी के प्रवाह सा श्रद्घालुओं का सैलाब जगतजननी के दरबार में उमड़ पड़ा। वैसे तो मां की दीदार के लिए शुरूआत दोपहर बाद से ही हो गई, लेकिन शाम होते होते मेले की रौनक बढ़ गई। चंदासी और इंडियन इंस्टीट्यूट में शाम की आरती के समय घंटे घडियाल की धुन के बीच शहर का कोना कोना आस्था की धुन में गूंज उठा। तब जगत जननी जगदंबा जैसे साक्षात भक्तों के बीच आकर उन्हें आशीर्वाद दे रही थीं और भक्त मां के दर्शन के अलावा अपना सुध बुध खो बैठे थे।
शारदीय नवरात्र के महाअष्टमी पर सोमवार को गांव कस्बों से लेकर शहर तक सिर्फ मां के दरबार में हाजिरी लगाने वाले भक्ताें का रेला लगा रहा। अपनी अरज-गरज लिए हजारों श्रद्घालु जगतजननी जगदंबा के दरबार में पहुंचकर मां से मनोकामना की। नगर के इंडियन इंस्टीट्यूट, गल्लामंडी, परमार कटरा, नई सट्टी, मैनाताली, रविनगर, गुरुद्वारा रोड सहित चंदासी और पड़ाव में बने पूजा पंडालों में जबर्दस्त भीड़ उमड़ी। जबकि सुबह से ही मंदिरों में सविधि पूजा अर्चन हुई और शाम को पंडालों में प्रतिष्ठापित मां जगदंबा के नयनाभिराम स्वरूप के दर्शन के लिए इस कदर हुजूम उमड़ा कि तिल रखने की भी जगह नहीं बची। बताते चले कि जनपद में इस बार 175 पूजा पंडाल बनाये गये है जिसमें सबसे अधिक श्रद्घालुओं की तादाद चंदासी स्थित कोल मंडी में बने पूजा पंडाल में देखने को मिली। पूरे जनपद में सबसे भव्य पूजा पंडाल यहीं का होता है। इसके बाद पड़ाव में बने पूजा पंडाल को भी उड़ीसा के मीनाक्षी मंदिर के तर्ज पर बनाया गया जो श्रद्घालुओं के बीच एक अमिट छाप छोड़ रही थी। पंडाल के चारों ओर रंगबिरंगे आधुनिक झालरों, हाइलोजन, ट्यूबलाइट आदि से भव्य सजावट की गई। पड़ाव चौराहे से सटे पूजा पंडाल में रामनगर, पड़ाव और आसपास के क्षेत्रों से बड़ी संख्या में श्रद्घालु पहुंचे।
देवी गीतों के भावमय प्रस्तुतियों के बीच श्रद्घालुओं का देर रात तक तांता लगा रहा। मुगलसराय के इंडियन इंस्टीट्यूट कालोनी की बात करे तो यहां सजे पूजा पंडाल की भव्यता अलग छटा बिखेर रही थी। एक ओर मां की जय-जयकार करता हजारों श्रद्घालुओं का कारवां और दूसरी ओर बड़े बड़े झूलों, चर्खी, चाट-पकौडे, खिलौने, गुब्बारे, जादूगर सर्कस आदि के बीच मेले का लुत्फ उठाया।

Spotlight

Most Read

Lucknow

रायबरेली: गुंडों से दो बहनों की सुरक्षा के लिए सिपाही तैनात, सीएम-पीएम को लिखा था पत्र

शोहदों के आतंक से परेशान होकर कॉलेज छोड़ने वाली दोनों बहनों की सुरक्षा के लिए दो सिपाही तैनात कर दिए गए हैं। वहीं एसपी ने इस मामले में ठोस कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

24 जनवरी 2018

Related Videos

परिवारवालों को था घर पर इंतजार लेकिन पहुंचा झंडे में लिपटा जवान का शव

बॉर्डर पर पाक लगातार नापाक हरकतें कर रहा है। पाक की तरफ से लगातार सीजफायर का उल्लंघन हो रहा है। इस दौरान कई जवान शहीद हो गए। शहीद होने वालों में एक चंदौली का जबाज भी था। जबाज सैनिक 15 फरवरी को घर आना था।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper