लोकनायक ने हमेशा गरीबों मजदूरों के लिए किया संघर्ष

Chandauli Updated Fri, 12 Oct 2012 12:00 PM IST
मुगलसराय। लोकनायक जय प्रकाश नारायण की जयंती गुरुवार को स्थानीय सपा कार्यालय में मनाई गई। इसमें कार्यकर्ताओं ने उनके तैल चित्र पर माल्यार्पण कर उनके व्यक्तित्व व कृतित्व को याद किया।
इस अवसर पर हुई गोष्ठी को संबोधित करते हुए पूर्व प्रमुख बाबूलाल यादव ने कहा कि जय प्रकाश नारायण एक आंदोलन का नाम है। उन्होंने कभी सिद्धांतों से समझौता नहीं किया। हमेशा दबे, कुचले, मजलूमों, गरीबों व मजदूरों के हितों के लिए संघर्ष करते रहे। उनका सपना था कि देश में समाजवाद पूरी तरह स्थापित हो। आगे नफीस अहमद गुड्डू ने कहा कि जय प्रकाश नारायण के आदर्शों पर चल कर ही। देश में पूर्ण रूप से समाजवाद लाया जा सकता हे। आज इस अवसर पर हमे संकल्प लेना होगा कि जय प्रकाश नारायण के बताए रास्ते पर चलकर ही उनको सपनों को पूरा किया जा सकता है। यही उनके लिए सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इस अवसर पर राजकुमार जायसवाल, अलीहुसैन, अवसाफ गुड्डू, सुदामा यादव, यासीन, मुलायम सिंह, महेंद्र प्रताप, रामउजागिर गौड़, दुलारे यादव, त्रिलोकीनाथ, अर्शीसलाम, इंद्रीस अंसारी पूनम तिवारी और कृष्णा गुप्ता आदि उपस्थित रहे।
उधर नगर स्थित श्री रामजानकी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय अलीनगर के प्रांगण में लोकनायक जय प्रकाश की जयंती मनाई गई। इस मौके पर वक्ताओं ने लोक नायक जय प्रकाश को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उन्हें लोकतंत्र का सजग प्रहरी बताया। इस अवसर पर डा. रामप्रकाश शाह, सदानंद दूबे, केदारनाथ पांडेय, बृजेश मिश्रा, श्याम सुंदर यादव, रामनिहोर, बुधिराम पांडेय, इफ्तखार खां तथा विनोद कुमार आदि उपस्थित थे। सैयदराजा संवाददाता के अनुसार नगर के सुभाषनगर स्थित सपा नेता शशंाक पांडेय उफ शीतल बाबा के आवास पर गुरुवार को लोकनायक जयप्रकाश नारायण की जयंती मनाई गई। सपा कार्यकर्ताओं ने उनके तैल चित्र पर माल्यार्पण कर उनके व्यक्तित्व व कृतित्व को याद किया। इस मौके पर वक्ताअें ने कहा कि लोक नायक जयप्रकाश्‍ा नारायण के विचार आज भी उतने ही प्रसंगिक है जितना पहले था। इस दौरान मौजूद लोगों ने उनके पदचिह्नों पर चलने का संकल्‍प लिया। इस अवसर पर गुलाम गौस सिद्धीकी, रिंकू गुप्ता, नथुनी राईन, पप्पू मौर्य, बृजकिशोर सिंह, पप्पू पांडेय, पिंटू, सोनू सोलंकी, पीयूष, अरविंद यादव, शंभू यादव आदि उपस्थित थे।
चकिया संवाददाता के अनुसार संपूर्ण क्रांति के प्रणेता जय प्रकाश नारायण के विचार देश की वर्तमान परिस्थितियों में भी प्रासंगिक है। उन्होंने शोषण दमन व भ्रष्टाचार के विरुद्ध आवाज उठाई थी, इसकी जरूरत आज भी देश को है। उक्त विचार सपा कार्यालय में जय प्रकाश नारायण जयंती के अवसर पर विचार व्यक्त करते हुए वक्ताओं ने व्यक्त किए। संगोष्ठी में सयुस के पूर्व जिलाध्यक्ष मुश्ताक अहमद खान ने कहा कि लोक नायक जय प्रकाश नारायण सच्चे समाजवादी थे। उन्होंने अपना पूरा जीवन गरीबों वंचितों के लिए अर्पित कर दिया। जिला उपाध्यक्ष मृत्युंजय पांडेय ने कहा कि लोकनायक जयप्रकाश नारायण ने संपूर्ण क्रांति के आंदोलन के तहत देश की राजनीति को नई दिशा दी थी, जिससे देश में सत्ता का विकेंद्रीकरण करने में कामयाबी मिली। इस अवसर पर उदयनाथ यादव, सुदामा यादव, रामअशीष यादव, सुरेंद्र तिवारी, सतपाल राणा, जेपी यादव, संदेश यादव सहित तमाम कार्यकर्ताओ ने विचार किए। अध्यक्षता मृत्युंजय पांडय व संचालन मनोज यादव ने किया।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

14 साल के इस बच्चे ने कराई चार कैदियों की रिहाई, दान में दी प्राइज मनी

14 साल के आयुष किशोर ने चार कैदियों की रिहाई के लिए दान कर दी राष्ट्रपति से मिली प्राइज मनी।

22 जनवरी 2018

Related Videos

मुगलसराय: गाय चोरी के आरोप में दो युवकों की भीड़ ने की पिटाई, किया ये हाल...

यूपी के मुगलसराय से गाय चोरी करने पर दो युवकों की पिटाई का मामला सामने आया है। यहां भीड़ ने दो युवकों को गाय चोरी के आरोप में न सिर्फ पीटा बल्कि रस्सी से बांध कर जुलूस भी निकाला।

8 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper