संन्यास में बाधा नहीं बनता गृहस्थ आश्रम

Chandauli Updated Fri, 24 Aug 2012 12:00 PM IST
चहनियां। परम पूज्य श्रीदंडी स्वामी जी महाराज केशिष्य पूज्य लक्ष्मी प्रसन्न जीयर स्वामी जी ने कहा कि गृहस्थ आश्रम संन्यास में बाधा नहीं है। वह बृहस्पतिवार को चातुर्मास व्रत के दौरान मां भागीरथी के पावन तट महुआरी खास गांव में श्रीमद्भागवत कथा के दौरान कहीं। प्रवचन के दौरान स्वामी जी ने भगवान ऋषभदेव प्रसंग को सुनकर श्रद्धालु भावविभोर हो गए।
इस अवसर पर उन्हाेंने कहा कि भगवान ऋषभ देव जी ऋषिपुत्र हैं। उन्होंने घर गृहस्थी में रहकर वैराग्य को स्वीकार किया। उन्होंने सौ पुत्रों में ज्येष्ठ एवं श्रेष्ठ पुत्र भरत को राज्य का कार्यभार सौंपकर एक दिन संन्यासी बन गये।
इनमें से 81 पुत्र यज्ञादि के प्रचारक हुए, जबकि नौ पुत्र ज्ञान प्रचार में लग गये और शेष नौ राजा भरत के साथ राज काज में लग गये। त्रिदंडी संन्यासी में त्रिदंड और कमंडल किसी विप्र को लेने का अधिकार बताया गया है। अन्य लोग चाहें तो केवल गेरुआ वस्त्र धारण कर सकते हैं। त्रिदंड धारण नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि लोगों से बचने केलिए ऋषभदेव पागल नागा बन गये। उनके लिए सम्मान व अपमान दोनों बराबर हैं। जीयर स्वामी जी महाराज ने श्रद्घालुओं को कथा सुनाते हुए कहा कि भगवान ऋषभदेव जैन धर्म के प्रथम गुरू माने जाते हैं। भरत जी के नाम पर हमारे देश का नाम भारत पड़ा।
भरत जी अपने पुत्र सुमति को राजा बनाकर बिहार प्रांत के हरिहर क्षेत्र में गंडक नदी केतट पर तपस्या करने लगे। इसी नदी से सालिग्राम भगवान का प्राकट्य होता है। देश काल परिस्थिति केअनुसार राजा सुमति केसिद्घांतों को अपना कर बौद्घ धर्म का प्रचार प्रसार हुआ।

Spotlight

Most Read

National

सियासी दल सहमत तो निर्वाचन आयोग ‘एक देश एक चुनाव’ के लिए तैयार

मध्य प्रदेश काडर के आईएएस अधिकारी और झांसी जिले के मूल निवासी ओपी रावत ने मंगलवार को मुख्य चुनाव आयुक्त का कार्यभार संभाल लिया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

परिवारवालों को था घर पर इंतजार लेकिन पहुंचा झंडे में लिपटा जवान का शव

बॉर्डर पर पाक लगातार नापाक हरकतें कर रहा है। पाक की तरफ से लगातार सीजफायर का उल्लंघन हो रहा है। इस दौरान कई जवान शहीद हो गए। शहीद होने वालों में एक चंदौली का जबाज भी था। जबाज सैनिक 15 फरवरी को घर आना था।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper