विज्ञापन
विज्ञापन

छह िबजली कर्मियों को बंधक बनाया

Chandauli Updated Sun, 29 Jul 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
बबुरी। बिजली दुर्व्यवस्था से आजिज व्यापारियों और किसानों की सब्र का बांध शनिवार को आखिर टूट ही गया। लामबंद हुए गुस्साए लोगों ने बबुरी विद्युत उपकेंद्र पर पहुंचकर ताला जड़ने के साथ वहां मौजूद छह कर्मचारियों को बंधक बनाकर धरने पर बैठ गए। किसानों का आरोप था कि विभागीय लापरवाही से सावन और रमजान माह में बिजली नहीं मिल रही है। इससे लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। सैकड़ों की संख्या में पहुंचे किसानों व व्यापारियों के तेवर को देखते हुए मौके पर एहतियातन पुलिस फोर्स लगा दी गई।
विज्ञापन
विज्ञापन
विद्युत उपकेंद्र बबुरी के दोनों फीडरों से आपूर्ति पिछले चार पांच माह से पूरी तरह वाधित है। इससे खेतीबारी के साथ कारोबार भी बंद होने के कगार पर पहुंच गए हैं। रोस्टर के हिसाब से उपकेंद्र से 12 घंटे आपूर्ति निर्धारित है, परन्तु कम क्षमता का ट्रांसफार्मर लगने से ओवरलोड के चलते बार बार ट्रिपिंग होती रहती है। इनकमिंग की सीटी व पीटी भी खराब हो चुकी है। नियामताबाद फीडर में लगा केबल भी खराब हो चुका है। इसके चलते मशीन मे माश्चर आ जाता है और उसको गर्म करने के लिये हीटर जलाना पड़ता है। रोस्टर के मुताबिक किसानों को आपूर्ति नहीं मिल रही है। इससे आजिज किसानों व व्यापारियों के सब्र का बांध शनिवार को टूट गया और वे लामबंद होकर विद्युत उपकेन्द्र पर नारेबाजी करते हुए पहुंच गए। इसके बाद उपकेंद्र पर ताला जड़कर अपना विरोध प्रकट करते हुए वहां मौजूद विद्युत कर्मियों क्रमश: रामश्रय, रंगीले, अनिल, कन्हैया, कुबेर तथा लीली को बंधक बना लिया। इस अवसर पर डीएलडब्ल्यू से सेवानिवृत्त अवर अभियंता कल्लू साहब ने कहा कि विद्युत विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों की लापरवाही के चलते उपकेंद्र पर आए दिन गड़बड़ी रहती है। इससे आपूर्ति घंटों बाधित रहती है। इन क्षेत्रों में आपूर्ति के लिए लगाए गए तार इतने जर्जर व कमजोर हो चुके हैं आपूर्ति शुरू होते ही फाल्ट से बाधित हो जाती है। सपा के जिला उपध्याक्ष पुष्पराज सिंह चिंटू ने कहा कि आए दिन होने वाली गड़बड़ियों को जब तक ठीक नहीं कर दिया जाता तब तक यह समस्या यथावत बनी रहेगी। उन्होंने उपकेंद्र पर पांच की जगह दस एमबीए का ट्रांसफार्मर लगाने की मांग की। इस अवसर पर यशवन्त यादव, दिनेश जायसवाल, बसन्तलाल गुप्ता, कल्लू साहब, महेन्द्र सेठ, विरेन्द्र मौर्य, कलारू, वशिष्ठ सिंह, गणेश यादव, गप्पू सिंह, पुष्पराज सिंह चिन्ट्रू, सुभाष सोनकर सहित सैकड़ाें किसान, व्यापारी व अन्य उपस्थित रहे। धरना सभा का संचालन डा. हसाम हाशमी व अध्यक्षता यशवंत यादव ने किया।

Recommended

देखिये लोकसभा चुनाव 2019 के LIVE परिणाम विस्तार से
Election 2019

देखिये लोकसभा चुनाव 2019 के LIVE परिणाम विस्तार से

जानिए अपने शहर के लाइव नतीजों की पल-पल की खबर
Election 2019

जानिए अपने शहर के लाइव नतीजों की पल-पल की खबर

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha chunav 2019) के नतीजों में किसने मारी बाजी? फिर एक बार मोदी सरकार या कांग्रेस की चुनावी नैया हुई पार? सपा-बसपा ने किया यूपी में सूपड़ा साफ या भाजपा का दम रहा बरकरार? सिर्फ नतीजे नहीं, नतीजों के पीछे की पूरी तस्वीर, वजह और विश्लेषण। 23 मई को सबसे सटीक नतीजों  (lok sabha chunav result 2019) के लिए आपको आना है सिर्फ एक जगह- amarujala.com  Hindi news वेबसाइट पर.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Varanasi

प्रियंका गांधी का मिर्जापुर में रोड शो, बोलीं- आपने सबसे बड़े कलाकार को पीएम बना दिया

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव प्रियंका गांधी आज मिर्जापुर में रोड शो कर रही हैं...

17 मई 2019

विज्ञापन

एनडीए की सत्ता में वापसी, देखिए कौन जीता और कौन हारा

ऐतिहासिक जीत के साथ ही मोदी सरकार ने दुनिया का इतिहास भी बदल दिया है। देखिए कौन जीता और कौन हारा।

23 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election